जन्मदिन पर बेटे के साथ ताल से ताल मिलती नजर आई संजय दत्त की पत्नी मान्यता धोखाधड़ी कर 73 लाख रुपये हड़पे महिला विश्वकप 2017 : क्या मिताली राज की शेरनियां ला पायेगी विश्व कप? फिल्मों की दुनिया में आने के लिए करीना की 'जब वी मेट' ने किया आकर्षित: अनुष्‍का 30 किलो गांजे के साथ दो तस्करो को किया गिरफ्तार राशिफल : 23 जुलाई : कैसा रहेगा आपके लिए रविवार का दिन, जानने के लिए क्लिक करें देश और दुनिया के इतिहास के 23 जुलाई की महत्वपूर्ण घटनाएं युवक ने की महिला से छेड़छाड़, मामला दर्ज छेड़छाड़ की रिपोर्ट न लिखने पर इंस्पेक्टर के विरुद्ध मुकदमा दर्ज सफेद हाथी साबित हो रहा है औद्योगिक सुरक्षा एवं स्वास्थ्य निदेशालय स्वास्थ्य विभाग की देखरेख में हो बच्चों का टीकाकरण रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा- झारखंड राज्य को स्वास्थ्य के क्षेत्र में नंबर वन बनाएंगे समाज में संकुचित सोच ही नारी की सबसे बड़ी दुश्मन: गीता सहारण नागरिकों को खुद को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने की जरूरत स्वास्थ्य विभाग ने तीन निजी अस्पतालों पर छापा मारा शांति मानवता का मुख्य धर्म व युवा देश की रीढ़ की हड्डी हैं स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर के खिलाफ लगाए मुर्दाबाद के नारे स्वास्थ्य विभाग ने फूड प्वाइज¨नग की आशंका जताई पाक ने सीमा पर फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, 2 जवान शहीद वीडियो: योग टीचर पर कहर बनकर टुटा नारियल का पेड़, हुई मौत
सेंट्रल जेल में गैस रिसाव से चार बंदी झुलसे, 2 की हालत गंभीर
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 02:29:40 PM
1 of 1

जोधपुर। देश की सबसे सुरक्षित कही जाने वाली जोधपुर की सेन्ट्रल जेल में मंगलवार सुबह नाश्ता बनाते समय गैस पाइप लीक होने से आग लग गई। इससे चार बंदी झुलस गए, इनमें दो बंदियों की हालत गंभीर बताई गई है जिनको उपचार के लिए महात्मा गांधी अस्पताल की बर्न यूनिट में भर्ती करवाया गया है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

मंगलवार सुबह करीब छह बजे रोजाना की तरह सेन्ट्रल जेल की रसोई में नाश्ते की तैयारियां की जा रही थी तब चूल्हा लगाने के दौरान गैस पाइप लीक होने से आग लग गई। अचानक हुई इस घटना से काम कर रहे तीन बंदी कमल, मानाराम सहित चार बंदी झुलस गए। रसोई में आग लगने की सूचना मिलते ही जेल में एक बारगी माहौल अफरा-तफरी का हो गया लेकिन समय रहते आग पर काबू पाने से बड़ा हादसा टल गया। 

इस हादसे में घायल हुए लांगरी बंदियों को उपचार के लिए पहले जेल डिस्पेंसरी और बाद में सघन उपचार के लिए एमजीएच लेकर आया गया। मानाराम व कमल को महात्मा गांधी अस्पताल की बर्न यूनिट में भर्ती करवाया गया है। इनकी हालत गंभीर है। शेष दो अन्य बंदियों का उपचार जेल में ही करवाया गया। आग से जेल की रसोई को भी नुकसान पहुंचा है और काफी सामान भी जला है।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.