loading...
loading...
loading...
27 जून : आज का इतिहास दैनिक राशिफल……27 जून, 2017 मंगलवार जेटली ने राज्य में जीएसटी लागू करने के लिए मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती सईद से आग्रह किया गोवा की राज्यपाल ने शाकम्भरी माता के दर्शन किए भागलपुर: श्रावणी मेला की तैयारी में जुटा स्वास्थ्य विभाग हम सबको गुरु चरणों से जुड़ जाना चाहिए: स्वामी धर्म सिंह भारत में क्रिकेट खेल साथ साथ धर्म भी प्रशासन की सख्ती के बावजूद फिर अवैध रूप से गर्भपात संकल्प कैंप में बच्चों को गुरुबाणी, गुरु इतिहास और रहित मर्यादा बारे जानकारी दी पेय पदार्थ के नाम पर दुकानदार परोस रहे है जहर भारत और विश्व के इतिहास में 27 जून की प्रमुख घटनाएं रेशा देवी ने कहा- युवाओं को नशे से दूर करने के लिए धर्म के साथ जोड़े दार्जिलिंग: भारी बारिश और बंद के माहौल में मुस्लिमो ने मनाया ईद-उल-फितर रमन शर्मा ने कहा- अापातकाल देश के इतिहास में काला दिन खाना खजाना प्रतियोगिता में महिलाओं ने दिखाया उत्साह कंडबाड़ी में NGO परिवर्तन द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन बालड़ी रक्षक योजना ने तोडा दम स्वास्थ्य को लेकर महिलाओं का उदासीन रवैया इफ्तार पार्टी है नौटंकी, इसकी हमे क्या जरूरत: गिरिराज सिंह 2018 से बदल सकता है वित्त वर्ष, इस साल नवंबर में पेश हो सकता है बजट
रिपोर्ट नहीं देने पर SMS अस्पताल पर नगर निगम ने लगाया जुर्माना
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 02:22:19 PM
1 of 1

जयपुर। राजस्थान के सबसे बड़े अस्पताल में लापरवाही भी बड़ी सामने आई है। नगर निगम के मुताबिक, यहां से मृत्यु प्रमाण पत्र की 300 से ज्यादा रिपोर्ट्स अटका रखी हैं, जिससे लोगों को मृत्यु प्रमाण पत्र जारी नहीं हो पा रहे। अस्पताल ने करीब महीने से मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदनों की सूचना रिपोर्ट नगर निगम को नहीं भेजी।

नगर निगम ने लगाया जुर्माना
राजधानी में सवाई मानसिंह अस्पताल की इस लापरवाही पर नगर निगम प्रशासन ने जुर्माना लगाया है। अधिकारियों के अनुसार, एसएमएस अस्पताल ने 21 दिन से मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदनों की ताजा सूचना रिपोर्ट नगर निगम को नहीं भेजी। जबकि, इससे पहले की भी 200 और रिपोट्र्स यहां अटकी हुई हैं। इस कारण जुर्माना लगाया गया है। कुल मिलाकर मृत्यु प्रमाण पत्र की 380 रिपोर्ट नगर निगम के पास नहीं पहुंची है। इससे लोगों को मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने में देरी हो रही है।

इसलिए बिगड़ी व्यवस्था
कुछ अर्सा पहले तक नगर निगम के कर्मचारी ही एसएमएस में मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए आवेदन फार्म भरते थे और रिकॉर्ड संधारित करते थे। इसके बाद नगर निगम प्रमाण पत्र जारी करता था। लेकिन महीनेभर पहले नगर निगम ने वहां से अपने कर्मचारी हटा लिए, इससे एसएमएस अस्पताल में मृत्यु प्रमाण पत्र का काम अटक गया है। करीब 380 रिपोर्ट नहीं भेजी गई हैं, इसके कारण मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने का काम अटक रहा है।

तय है प्रमाण पत्र का देने समय
लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत नगर निगम को तय समय सीमा में मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करना होता है। जानकारी के अनुसार आवेदन के तीन दिन में प्रमाण पत्र जारी करना होता है, लेकिन रिपोर्ट नहीं मिलने से निगम का काम भी अटक गया है। 21 दिन तक निगम में आवेदन नहीं करने पर लोगों को इसके लिए शुल्क चुकाना पड़ता है और इससे ज्यादा देरी होने पर मजिस्ट्रेट कार्यालय जाकर प्रमाण पत्र बनवाना पडता है।

रिपोर्ट के हिसाब से जुर्माना लगाया गया
एसएमएस अस्पताल ने मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदनों की रिपोर्ट समय पर नहीं भेजी है, इसलिए प्रति रिपोर्ट के हिसाब से जुर्माना लगाया गया है।

यह भी पढ़े: जेब में रखे चीनी करेगा मोबाइल चार्ज ये है तरीका

यह भी पढ़े: नोटबंदी से नोटवाली हुई एप्पल, इस तरह हुआ फायदा

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.