loading...
झुग्‍गी अपनाओ अभियान के तहत स्‍लम युवा दौड़ को मिली हरी झंडी : विजय गोयल चीन 0-3 से पराजित कर भारत को सुदिरमन कप के क्वॉर्टर फाइनल में किया बाहर गांजा बेच रहे 2 युवकों को किया गिरफ्तार, मामला दर्ज ऊर्जा, जलदाय, पीडब्ल्यूडी, जल संसाधन विभागों को होगी ऑनलाइन मॉनिटरिंग : वसुन्धरा राजे विश्व के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी फ्रेंच ओपन से पहले हुए बीमार: एंडी मरे स्टार्टअप के विशेष पैविलियन में प्रदर्शित हुए किसानों के उत्पाद पीसीबी के चेयरमैन शहरयार खान की जगह अगस्त में लेंगे नजम सेठी इस अभिनेत्री को शादी से पहले मां बनने में नहीं है ऐतराज! दहेज़ उत्पीड़न, महिला ने पति सहित चार लोगों के खिलाफ दर्ज कराया मामला क्रिकेट: इंग्लैंड के स्टार स्पिनर मोईन अली ने कहा- किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी के लिए हूं तैयार डांग क्षेत्र में जल संकट से निपटने के लिए नई इबारत लिखेंगे मिनी परकोलेशन टेंक ईपीएफओ ने दिया प्रस्ताव, होम टेक सैलरी में ऐसे होगा इजाफा VIDEO: ये बाबा सिखाते हैं हॉट योगा, साल में एक बार करते हैं स्नान श्रीनगर: खेल मंत्री अंसारी ने किया राज्य की पहली पेशेवर फुटबॉल अकादमी का उद्घाटन ट्रंप ने उत्तर कोरिया की नीतियों पर जताई चिंता, कहा - उत्तर कोरिया बन चूका है दुनिया के लिए खतरा चैंपियंस ट्रॉफी: भारत की आस्ट्रेलिया पर ये जीत रही थी यादगार, सचिन ने जड़े.... Video: केटी पेरी ये हॉट तस्वीरें है वाकई में लाजवाब! VIDEO: वेब सीरीज में दिखाई दिए छोटे पर्दे के कलाकारों के जलवे IT सेक्टर में छंटनी का मुद्दा फिर गरमाया, संस्थापक ने उठाया एक्शन पर सवाल PICS: भोजपुरी फिल्मो में श्रीदेवी के नाम से मशहूर है ये एक्ट्रेस..नाम से ही साइन हो जाती है फिल्में
बलि प्रथा की अनुमति नहीं देता धर्म: योगगुरू बाबा रामदेव
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 10:27:05 AM
1 of 1

वीरगंज। योग गुरु बाबा रामदेव ने का कहना है की नेपाल में बलि प्रथा बंद होनी चाहिए। धर्म बलि प्रथा की अनुमति नहीं देता है। साथ ही उन्होंने कहा की कर्म को धर्म मानकर कार्य करने से देश का विकास संभव होगा। नेपाल का विकास योग, उद्योग, कृषि से संभव है। पतंजलि योगपीठ की स्थापना गांव-गांव में होगी, जहां लोगों को जड़ी-बूटी की खेती व स्वस्थ रहने के लिए योग कराया जाएगा। इसके लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। सोमवार को वह वीरगंज स्थित आदर्श नगर रंगशाला में आयोजित 5 दिवसीय योग शिविर के समापन समारोह के मौके पर बोल रहे थे। 

बाबा रामदेव ने कहा कि कोई भी धर्म हंसा का इजाजत नहीं देता है। बलि प्रथा अंधविश्वास है। ऐतिहासिक गढ़ीमाई मेला पांच वर्ष में एक बार लगता है, जहां करीब डेढ़ लाख पशुओं की बलि होती है। पक्षियों की गिनती संभव नहीं है। वह बलि रोकने के लिए मंदिर के पुजारी व प्रबुद्धजनों से बातचीत करेंगे। जरूरत पड़ी तो धरना भी देंगे। उनके मुताबिक भारत से प्रति वर्ष आयुर्वेदिक दवा नेपाल को दी जाती है। इसमें पतंजलि योगपीठ को प्रति वर्ष 50 करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है। नेपाल में उद्योग स्थापित होने से आयुर्वेदिक दवा सस्ती होगी और देश को काफी लाभ होगा।

यह भी पढ़े : लापरबाही के कारण बिल्ली की मौत, महिला ने डॉक्टर पर ठोका ढाई करोड़ का मुकदमा..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े : 68 की उम्र में कर रहा है 9वीं शादी वो भी 28 साल की लड़की से ... ऐसे शुरू हुई कहानी

यह भी पढ़े: गर्लफ्रैंड के गालों के रंग से जानिए वो कितनी लकी है आपके लिए..!

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.