देश और दुनिया के इतिहास में 28 जुलाई की महत्वपूर्ण घटनाएं जानिए खीरे के स्वास्थ्यवर्द्धक और सौन्दर्यवर्द्धक गुण किशमिश स्वास्थ्य के लिए बड़ी ही लाभदायक लगातार ब्रैड के सेवन से स्वास्थ्य के लिए हानिकारक इस तरह करे प्याज का सेवन, होंगे अनेक फायदे रोजाना खाली पेट लहसुन खाने के फायदे जान दंग रह जाएंगे आप... अपहरण के बाद पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी अवैध शराब सहित तीन आरोपी गिरफ्तार स्वाइन फ्लू की दस्तक से हिल गया स्वास्थ्य विभाग व्यापार और घर में भी धर्म का पालन करना जरूरी मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य के प्रति लोगों को जागरुक करने की जरुरत बच्चों के स्वास्थ्य की जांच करेगी मोबाइल हेल्थ टीम डॉ.पीके शर्मा ने कहा- स्वास्थ्य की तरह मिट्टी की जांच भी करवानी जरूरी प्रतापगढ़ जिले के कल्पेश राज सोनी को मिला ग्लोबल बिजनेस लीडरशिप अवार्ड राहुल जौहरी को एसजीएम से बाहर करने पर बीसीसीआई पदाधिकारियों को नोटिस SSC CGL 2017 के Admit Card जारी PM मोदी ने भारतीय महिला टीम से की मुलाकात, कहा- 125 करोड़ भारतीयों ने उठाया हार का बोझ ससुराल वालों की प्रताड़ना से परेशान युवक ने खाया जहर, मौत सभी पाठ्यपुस्तकें राज्य के SIRT द्वारा तैयार पाठ्यक्रम के अनुरूप हो: वासुदेव देवनानी सस्ते फ्लैट का झांसा देकर करोड़ों की ठगी करने वाला एक ग‌िरफ्तार
रेलवे रिजर्वेशन में ट्रांसजेंडर्स को मिली सुविधा, दर्ज होगा लिंग: भारतीय रेलवे
sanjeevnitoday.com | Monday, November 28, 2016 | 11:14:11 AM
1 of 1

पटना। भारतीय रेलवे ने ट्रांसजेंडर्स को नई सुविधा दी है। रिजर्वेशन व कैंसिलेशन फॉर्म्स में अब लिंग के कॉलम में ट्रांसजेंडर दर्ज किया जा सकेगा। यह सुविधा ऑफलाइन व ऑनलाइन दोनों मोड में मिलेगी। इसकी जानकारी दानापुर रेल मंडल के एक वरीय अधिकारी ने आज दी। विदित हो कि अभी तक ट्रांसजेंडर्स को यह सुविधा नहीं मिली थी। वे अपना लिंग महिला या पुरुष के रूप में ही दर्ज करते थे। रेलवे के नए नियम से उन्हें अपनी पहचान के साथ सम्मान से जीने का मौका मिला है। ट्रांसजेंडरों को यह सुविधा दिल्ली के एक वकील के संघर्ष से मिला है, जिसने वहां की हाईकोर्ट में इसके लिए याचिका दायर की थी।


दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने भी अपने एक फैसले में कहा था कि ट्रांसजेंडर्स को थर्ड जेंडर माना जाए, ताकि उनके अधिकारों की रक्षा की जा सके। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर रेलवे मंत्रालय ने 2014 में ही सर्कुलर जारी किया था। इसमें कहा गया था कि रिजर्वेशन-कैंसलेशन फॉर्म में महिला-पुरुष के अलावा थर्ड जेंडर/ट्रांसजेंडर को मान्यता दी जाएगी।


इसके बाद दिल्ली हाईकोर्ट में एक वकील जमशेद अंसारी ने याचिका दायर कर कहा कि रेलवे के रिजर्वेशन व कैंसिलेशन फॉर्म्स में ट्रांसजेंडर का कोई उल्लेख नहीं है। याचिका में ट्रांसजेंडर्स के लिए अलग कोच और रिजर्व्ड सीट देने की बात कही गई थी। इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस जी. रोहिणी ने रेल मंत्रालय को कार्यवाही का आदेश दिया था।

यह भी पढ़े: ...तो लडकिया इस समय सबसे ज्यादा सोचती है सेक्स के बारे में

यह भी पढ़े: यह है दुनिया की 'एकमात्र कामसूत्र' की पाठशाला।

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े: चमत्कारी स्प्रे, इसे लगाने के बाद खिंची चली आएंगी लड़कियां..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.