संजीवनी टुडे

News

आरजेडी सुप्रीमो लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप को बीपीसीएल ने दिया झटका, पेट्रोल पंप लाइसेंस रद्द

Sanjeevni Today 17-06-2017 16:46:27

 

 

पटना। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) ने शनिवार को लालू प्रसाद के पुत्र व बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव के पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद्द कर दिया, क्योंकि तेजप्रताप द्वारा कंपनी को दिया गया नोटिस का जवाब संतोषजनक नहीं था। बीपीसीएल ने तेजप्रताप के पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद्द करने की वजह बताई। उनका कहना है कि तेज प्रताप ने 2011 में लाइसेंस प्राप्त करने के लिए फर्जी दस्तावेज जमा करने को बताया है।

Ads by ZINC
 
 
 
 

पिछले दिनों भाजपा नेता सुशील मोदी ने आरोप लगाया था कि यूपीए-2 सरकार में तेज प्रताप ने यह पेट्रोल पंप फर्जी दस्तावेजों की मदद से हासिल किया था। पीएम नरेंद्र मोदी ने भी आरोप लगाया था कि अप्लाई करते वक्त तेज प्रताप के पास पेट्रोल पंप के निर्माण के लिए तय 43 डिसमिल जमीन भी नहीं थी। उन्होंने कहा था कि साल 2012 में एके इंफोसिस्टम प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर अमित कट्याल ने लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव को पेट्रोल पंप के लिए 136 डिसमिल जमीन लीज पर दी थी। 

गौरतलब है कि, तेजप्रताप यादव ने अपने चुनावी हलफनामे में और बिहार सरकार को जमा किए गए अपने संपत्ति की जानकारी में भी इस पेट्रोल पंप का जिक्र नहीं किया है। इसी को लेकर सुशील कुमार मोदी ने BPCL में शिकायत दर्ज की थी। उसके बाद BPCL ने तेज प्रताप यादव को 31 मई को नोटिस जारी कर कर उनसे 15 दिनों में जवाब मांगा था कि आखिर तुम्हे पेट्रोल पंप का लाइसेंस कैसे मिला।  तेज प्रताप यादव द्वारा दिए गए BPCL के नोटिस का जवाब से असंतुष्ट होकर बीपीसीएल ने उन्हें पेट्रोल पंप का आवंटित लाइसेंस रद्द कर दिया है।

पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद्द होने के बाद तेज प्रताप यादव ने पटना के निचली अदालत में बीपीसीएल के आदेश पर रोक लगाने के लिए अर्जी डाली थी। इसके बाद कोर्ट ने BPCL के फैसले पर फिलहाल 7 दिनों के लिए रोक लगा दी है।  इस मामले की अगली सुनवाई 23 जून को होगी। 

Watch Video

More From national

Recommended