संजीवनी टुडे

News

सर्दी का सितम बरपा रहा कहर, शीतलहर की मार बदस्तूर जारी

Sanjeevni Today 12-01-2017 01:30:19

नई दिल्ली। पहाड़ों पर बर्फबारी ने मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ा दी है। सर्दी का सितम अब कहर बरपा रहा है। भले ही कोहरा थम गया है, लेकिन शीतलहर की मार बदस्तूर जारी है। चार डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ बुधवार अब तक का सबसे ठंडा दिन रहा। लोग पूरे दिन अलाव के पास ही डटे रहे। हाल ही में पहाड़ों पर हुई बर्फबारी का असर जिले में भी दिखाई देने लगा है। बुधवार को आसमान साफ रहा और दिनभर धूप भी खिली। मगर, धूप भी हवाओं में घुली गलन को शांत न कर सकी। दिनभर शीतलहर का प्रकोप जारी रहा। लोगों की कंपकपी छूटती रही। दोपहर में अधिकतम तापमान 16, तो न्यूनतम चार डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। ठंड बढ़ने के साथ ही जिला अस्पताल में इससे पीड़ित मरीजों की संख्या में भी तेजी से इजाफा होने लगा है। सर्दी की चपेट में सबसे ज्यादा बच्चे और बुजुर्ग आ रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने ऐसे में सीधे हवा के संपर्क में न आने और जहां तक संभव हो शरीर को गर्म रखने की सलाह दी है।

ब्लड प्रेशर और दिल के मरीजों के लिए बेहद घातक
जिला अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशियन एवं प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके उपाध्याय का कहना है, सर्दी का मौसम ब्लड प्रेशर और दिल के मरीजों के लिए बेहद घातक होता है। सर्दियों में रक्त गाढ़ा हो जाता है। जिससे धमनियों में इसे बहने के लिए बेहद दबाव की जरूरत होती है। दबाव बढ़ने का सीधा असर दिल पर पड़ता है। परिणामस्वरूप दिल का दौरा पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। यह समस्या उन मरीजों में ज्यादा होती है, जो बीमार होने के बावजूद सर्दियों में सुबह की सैर को निकलते हैं। ऐसे लोग इस मौसम में सेहत का खास ख्याल रखें। खानपान को भी चिकित्सीय परामर्श के आधार पर ही लें।

यह भी पढ़े: वेश्यावृति के धंधे की ये सच्चाई जान हैरान रह जायेंगे आप

यह भी पढ़े: 7 साल के इस बच्चे के मुंह से डॉक्टरों ने निकाले 80 दांत!

यह भी पढ़े: क्राइम ! प्रेमी नौकर के साथ बेड पर थी बहु तभी आ गयी सास और फिर...प्राइवेट पार्ट

यह भी पढ़े: मां के लिए ठुकराई गिफ्ट में मिली BMW कार...जानें क्यों?

More From national

Recommended