loading...
पढ़ें: इतिहास के पन्नों में 28 फ़रवरी का दिन क्यों है खास 28 फरवरी को वेतन संबंधी मांगों को लेकर सरकारी बैंकों में रहेंगी हड़ताल जल्द आएगा बाज़ार में 10 रूपये का प्लास्टिक का नोट: गवर्नर सुभाष एस. मूंदड़ा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में इस महिला क्रिकेटर ने रचा इतिहास, जड़े लगातार 4 शतक अब सबसे बड़ी जिम्मेदारी ओपनिंग साझेदारी सुधारना: विराट कोहली 50 रुपये गिरकर सोना हुआ 30,125 रुपये विधानसभा चुनाव 2017 के चुनाव प्रचारों में सबसे आगे भाजपा आज का राशिफल (28 फरवरी 2017, मंगलवार) जब महज 9 माह के बेटे अर्जुन को घर पर छोड़ जर्मनी चले गए थे सचिन-अंजलि 1971: जब भारत ने बनाई युद्ध में मजबूत पकड़, बिखर गया पाकिस्तान...! शमी को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी दो टेस्ट मैचों में वापसी की उम्मीद समतल सतह पर बने हुए हॉलग्रेम की तरह हैं यूनिवर्स जब पृथ्वी को दिखाई देता था एक अलग ही चाँद..! तिहरी तारा प्रणाली का हिस्सा हैं ये विशाल उपग्रह इस इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर में रोज हजारों की संख्या में उमड़ा रहता हैं सैलाब शानदार फीचर्स और जानदार स्पेसिफिकेशन्स के साथ Moto G5, G5 Plus स्मार्टफोन लॉन्च ISSF शूटिंग वर्ल्डकप: मैराथन डबल ट्रैप फाइनल में अंकुर मित्तल ने जीता रजत पदक बाप रे! गुस्सा आते ही चुम्बक बन जाता हैं ये 9 साल का मेहमत..! गुरमेहर कौर मामले में पहलवान बबीता फोगाट का Tweet दंगल..! दुनिया को साइबर क्राइम से मुक्ति दिलाएंगे गेमिंग कंपनी के CEO 9 साल के रेउबेन..!
आज केजरीवाल की याचिका पर फैसला सुनाएगा पटियाला हाउस कोर्ट
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 08:18:38 AM
1 of 1

नई दिल्ली। बुधवार को पटियाला हाउस कोर्ट में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अपने खिलाफ चल रहे आपराधिक मानहानि मामले पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर हाई कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा। 25 जुलाई को हाई कोर्ट ने इस याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। 19 मई के पटियाला कोर्ट के उस फैसला को मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चुनौती दी है, जिसमें कोर्ट ने मामले की सुनवाई तब तक टालने से इनकार किया गया है, जब तक हाई कोर्ट में 10 करोड़ के सिविल मानहानि मामले में कोई फैसला नहीं सुनाता है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166


मुख्यमंत्री और पांच आप नेताओं के खिलाफ ये दोनों ही याचिकाए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दायर की है। मुख्यमंत्री की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट को कहा था कि एक ही मसले पर सिविल और आपराधिक 2 मामले दायर किए गए हैं। साथ ही इसमें से एक मामले में सुनवाई पर रोक लगाई जा सकती है। जेटली के वकील हरिश साल्वे और सिद्धार्थ लूथरा का तर्क था था कि वर्तमान समय में शब्द तलवार से अधिक ताकतवर होते हैं। 


लिहाजा मुख्यमंत्री के साथ कोई अन्याय नहीं होगा, अगर दोनों मामले अलग-अलग चलते हैं। इस मामले में अरविंद केजरीवाल के अलावा आप नेता कुमार विश्वास, आशुतोष, राघव चड्ढा, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी आरोपी हैं। दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कथित भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए दिसंबर 2015 में मुख्यमंत्री और कुछ आप नेताओं ने वित्तमंत्री अरुण जेटली के खिलाफ बयानबाजी की थी। जिसके बाद वित्तमंत्री ने हाई कोर्ट में सिविल और पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक मामला दायर किया था।

यह भी पढ़े : ओह…! तो ऐसे लड़को के साथ आता है लड़कियों को मज़ा

यह भी पढ़े : दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : भारत: शर्मनाक देह-व्यापार..! यहाँ मां के बाद बेटी संभालती है जिस्मफरोशी का धंधा..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.