loading...
paytm ने किया ‘डिजिटल सोने’ की शुरुआत के लिए MMTC-PAMP के साथ गठबंधन प्लेन हाईजैक को लेकर यात्री ने PM किया ट्वीट, जयपुर में मचा हड़कंप सहारा प्रमुख का पैरोल 19 जून तक बढ़ा, वक्त पर 1,500 करोड़ रुपए भुगतान नहीं किया तो होगी जेल बंगाल में शाह की चुनौती पर बोलीं ममता, कहा- दिल्ली पर कब्जा करेगी तृणमूल वाड्रा ने गलत तरीके से कमाया 50.50 करोड़ रुपये का मुनाफा: ढींगरा कमिशन मेरी प्रॉपर्टी से रॉबर्ट वाड्रा का कोई लेने देना नहीं है: प्रियंका गाँधी चौथी तिमाही में मारुति सुजुकी के शुद्ध लाभ में हुई बढ़ोतरी फिर 8 महीने बाद आतंकी हमला, इन जवानों ने मार गिराया दो आतंकियों को यूनाइटेड एयरलाइंस ने कन्फर्म सीट छोड़ने वाले यात्रियों के लिए हर्जाने का किया ऐलान नोटबंदी से पहले RBI ने 500 और 2000 रुपए के नए नोटों का उचित स्टॉक जुटा लिया था: गवर्नर फिर 8 महीने बाद आतंकी हमला, इन जवानों ने मार गिराया दो आतंकियों को नींबू के छिलकों को फेंकने से पहले जान लो ये फायदे बाथरूम में करते हैं स्मार्टफोन का यूज तो हो जायें सावधान! सुबह उठने के 60 सेकंड्स के अन्दर खाली पेट पीना चाहिए पानी आखिर कौन बने सनी लियोनी के चाहते क्रिकेटर अगर बच्चे के पास आती हैं कामुक तस्वीरें तो माता-पिता को जाएगा अलर्ट मैं ढंग से झूठ नहीं बोल पाती हूं: एमा वाटसन "मैं कॉमेडियन नहीं":सुनील ग्रोवर ये है दुनिया का एक ऐसा देश, जहां मौत पर है पाबंदी नरगिस फाखरी कर रही है एक पाकिस्तानी एक्टर को डेट!
आज केजरीवाल की याचिका पर फैसला सुनाएगा पटियाला हाउस कोर्ट
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 08:18:38 AM
1 of 1

नई दिल्ली। बुधवार को पटियाला हाउस कोर्ट में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अपने खिलाफ चल रहे आपराधिक मानहानि मामले पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर हाई कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा। 25 जुलाई को हाई कोर्ट ने इस याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। 19 मई के पटियाला कोर्ट के उस फैसला को मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चुनौती दी है, जिसमें कोर्ट ने मामले की सुनवाई तब तक टालने से इनकार किया गया है, जब तक हाई कोर्ट में 10 करोड़ के सिविल मानहानि मामले में कोई फैसला नहीं सुनाता है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166


मुख्यमंत्री और पांच आप नेताओं के खिलाफ ये दोनों ही याचिकाए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दायर की है। मुख्यमंत्री की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट को कहा था कि एक ही मसले पर सिविल और आपराधिक 2 मामले दायर किए गए हैं। साथ ही इसमें से एक मामले में सुनवाई पर रोक लगाई जा सकती है। जेटली के वकील हरिश साल्वे और सिद्धार्थ लूथरा का तर्क था था कि वर्तमान समय में शब्द तलवार से अधिक ताकतवर होते हैं। 


लिहाजा मुख्यमंत्री के साथ कोई अन्याय नहीं होगा, अगर दोनों मामले अलग-अलग चलते हैं। इस मामले में अरविंद केजरीवाल के अलावा आप नेता कुमार विश्वास, आशुतोष, राघव चड्ढा, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी आरोपी हैं। दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कथित भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए दिसंबर 2015 में मुख्यमंत्री और कुछ आप नेताओं ने वित्तमंत्री अरुण जेटली के खिलाफ बयानबाजी की थी। जिसके बाद वित्तमंत्री ने हाई कोर्ट में सिविल और पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक मामला दायर किया था।

यह भी पढ़े : ओह…! तो ऐसे लड़को के साथ आता है लड़कियों को मज़ा

यह भी पढ़े : दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : भारत: शर्मनाक देह-व्यापार..! यहाँ मां के बाद बेटी संभालती है जिस्मफरोशी का धंधा..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.