मानगढ़ धाम को क्यों कहा जाता जलियावाला बाग? पढ़िए पूरी कहानी ईरान मैक्सिको को हराकर U-17 फुटबॉल विश्व कप के अंतिम आठ में पहुंचे बांसवाड़ा के मानगढ़ धाम में बनेगा राष्ट्रीय जनजाति संग्रहालय 'ताजमहल भारत मां के सपूतों के खून-पसीने से बना है': CM योगी दिल्ली में एयर क्वालिटी खतरनाक स्तर पर, डीजल जनरेटर तक को करना पड़ा बैन न्यूजीलैंड को बोर्ड इलेवन ने अभ्यास मैच 30 रनों से धोया मुख्यमंत्री ने दिया राज्य कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा, राज्य कर्मचारियों के लिए 7वां वेतन आयोग लागू BCCI की अपील पर केरल हाईकोर्ट ने श्रीसंत पर जारी रखा आजीवन बैन भारतीय खाद्य निगम ने वॉचमैन पदों के लिए माँगा आवेदन BCCI ने कुंबले को दी बर्थ डे की बधाई, फैंस के विरोध पर बदलना पड़ा ट्‍वीट पीडीपी के पूर्व पंचायत सदस्य की कल की थी हत्या, आज जला दिया घर IAS किरण सोनी की कृति शेल्टर का पेरिस के लॉवर संग्रहालय में लगने वाली प्रदर्शनी के लिए चयन वाणी कपूर ने फिल्म ‘दाग’ के गाने पर किया हॉट डांस B' day special: सिमी ग्रेवाल ने मनाया 70वां जन्मदिन, जामनगर के महाराजा से था अफेयर क्यों नहीं आ रहे है ATM से 200 रुपये के नोट? ये रहा जवाब कादर खान ना बोलते ना चलते, तस्वीर वायरल BSF ने सुचेतगढ़ इलाके से पाकिस्तानी घुसपैठिये को किया गिरफ्तार इस शिव मंदिर की मूर्तियों को छूने से डरते है लोग उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच कभी भी हो सकता है परमाणु युद्ध : किम इन यॉन्ग हर महीने लाखों रुपए कमाती है 8 साल की ये लड़की
आज केजरीवाल की याचिका पर फैसला सुनाएगा पटियाला हाउस कोर्ट
sanjeevnitoday.com | Wednesday, October 19, 2016 | 08:18:38 AM
1 of 1

नई दिल्ली। बुधवार को पटियाला हाउस कोर्ट में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अपने खिलाफ चल रहे आपराधिक मानहानि मामले पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर हाई कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा। 25 जुलाई को हाई कोर्ट ने इस याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। 19 मई के पटियाला कोर्ट के उस फैसला को मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चुनौती दी है, जिसमें कोर्ट ने मामले की सुनवाई तब तक टालने से इनकार किया गया है, जब तक हाई कोर्ट में 10 करोड़ के सिविल मानहानि मामले में कोई फैसला नहीं सुनाता है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166


मुख्यमंत्री और पांच आप नेताओं के खिलाफ ये दोनों ही याचिकाए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दायर की है। मुख्यमंत्री की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट को कहा था कि एक ही मसले पर सिविल और आपराधिक 2 मामले दायर किए गए हैं। साथ ही इसमें से एक मामले में सुनवाई पर रोक लगाई जा सकती है। जेटली के वकील हरिश साल्वे और सिद्धार्थ लूथरा का तर्क था था कि वर्तमान समय में शब्द तलवार से अधिक ताकतवर होते हैं। 


लिहाजा मुख्यमंत्री के साथ कोई अन्याय नहीं होगा, अगर दोनों मामले अलग-अलग चलते हैं। इस मामले में अरविंद केजरीवाल के अलावा आप नेता कुमार विश्वास, आशुतोष, राघव चड्ढा, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी आरोपी हैं। दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कथित भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए दिसंबर 2015 में मुख्यमंत्री और कुछ आप नेताओं ने वित्तमंत्री अरुण जेटली के खिलाफ बयानबाजी की थी। जिसके बाद वित्तमंत्री ने हाई कोर्ट में सिविल और पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक मामला दायर किया था।

यह भी पढ़े : ओह…! तो ऐसे लड़को के साथ आता है लड़कियों को मज़ा

यह भी पढ़े : दिलचस्प..! लड़कियां न्यूड होकर करती हैं तेज गाड़ियों की स्पीड को कंट्रोल…

यह भी पढ़े : भारत: शर्मनाक देह-व्यापार..! यहाँ मां के बाद बेटी संभालती है जिस्मफरोशी का धंधा..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.