सोनी ने लॉन्च किया Xperia XA1 Plus स्लिम साइज के साथ,कीमत मात्र 24,990 रुपये करीना के बर्थडे को खास बनाने पहुंचे ये सेलेब्स, देखें तस्वीरें ममता सरकार ने HC के फैसले को माना, नहीं जायेगी SC बच्चों के साथ यौन शोषण करने वालों का हो सामाजिक बहिष्कार: सत्यार्थी इस हफ्ते जियोफोन होंगे लॉन्च, शुरुआत ग्रामीण इलाकों से होगी वीडियो: मंदिर में आस्था के नाम पर भेंट किए गए पैसों का हो रहा दुरूपयोग गांगुली ने कोहली की सराहना करते हुए कहा- उन्हें खेलते हुए देखना अच्छा लगता है टीईटी का परिणाम जारी, रिजल्ट रहा केवल 17% कमजोर हुआ रुपया, आई 14 पैसे की गिरावट सैंसेक्स 235 अंक गिरकर खुला वीडियो: तस्कर की चालाकी, अंतर्वस्त्रों में छुपाकर ले जा रहा था स्मेक film Review: दाऊद इब्राहिम के कारनामो को जानना है तो देखने जाए 'हसीना पारकर' लंदन ट्रेन हमला: विस्फोट को लेकर गिरफ्तार 6 संदिग्धों में 2 व्यक्ति रिहा भारतीय नौ सेना को स्कॉर्पिन सीरीज की पहली पनडुब्बी मिल, जानिये खासियत राम रहीम के बाद एक और मशहूर बाबा पर लगा दुष्कर्म का आरोप वीडियो: इस लड़की का दिल सांस लेने के साथ ही उभर आता हैं बाहर घर खरीदना हुआ आसान, सरकार देगी 1.5 लाख रुपए की सहायता अमेरिका ने सीरिया में लोगों की सहायता के लिए 700 मिलियन डॉलर की घोषणा जिस थाना क्षेत्र में अपराध होंगे वहां के पूरे थाने पर होगी कार्रवाई: नीतीश कुमार Movie Review: संजू बाबा की जबरदस्त एक्टिंग के आगे फीकी पड़ी 'भूमि' की कहानी
भक्तों की स्मृति में बनेगा पेनोरमा, जिन्होंने गुरू ग्रन्थ साहिब की वाणियां लिखी: राजे
sanjeevnitoday.com | Saturday, July 15, 2017 | 07:07:09 PM
1 of 1

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि 350वें प्रकाश वर्ष पर्व के उपलक्ष्य में राज्य सरकार ऎसे भक्तों की स्मृति में पेनोरमा विकसित कर रही है, जिन्होंने गुरू ग्रन्थ साहिब में वाणियां लिखी। राजे शनिवार को 8, सिविल लाइन्स पर गुरू गोबिन्द सिंह के 350वें प्रकाश वर्ष के अवसर पर उनके सम्मान में आयोजित कीर्तन दरबार में सिख संगत को सम्बोधित कर रही थीं। कीर्तन दरबार में प्रदेश के विभिन्न जिलों की सिख संगत शामिल हुई। 

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरू गोबिन्द सिंह ने हमें एक-दूसरे से स्नेह रखने के साथ-साथ एक-दूसरे के साथ होने वाले अन्याय का प्रतिकार करने की भी सीख दी। उन्होंने सभी धर्माें और जातियों के लोगों को एक बर्तन से अमृत पिला कर सदियों पुरानी जात-पात की दीवार को गिराया। धर्महित के लिए गुरूजी ने न केवल अपने परिवार बल्कि पूरे वंश का भी बलिदान दे दिया। लोगों को अत्याचार से बचाने के लिए ही महान खालसा पंथ की स्थापना की। 

राजे ने कहा कि गुरूद्वारा बूढ़ाजोहड़ में भगत सुक्खा सिंहजी एवं मेहताब सिंहजी के पेनोरमा और झील के सौन्दर्यकरण का काम किया जा रहा है। वहीं टोंक जिले के धुआंकलां में धन्ना भगत जी का पेनोरमा, झालावाड़ में भगत रैदास जी का पेनोरमा तथा नारायणा में गुरू गोबिन्द सिंह जी का पेनोरमा बनवाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान विश्वविद्यालय में भी गुरू गोबिन्द महाराज पीठ स्थापित की जा रही है जिसके लिए 4 करोड़ रुपये आंवटित भी हो चुके हैं।

खान मंत्री सुरेन्द्रपाल सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के प्रयासों से गुरू गोबिन्द सिंह जी के प्रकाशोत्सव पर गुरू ग्रन्थ साहिबजी का मुख्यमंत्री निवास पर आगमन हुआ है जो हमारे सौभाग्य की बात है। अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जसबीर सिंह ने कहा कि गुरू गोबिन्द सिंह जी ने सामाजिक समरसता कायम की और अनेक परेशानियों के बावजूद धर्म और राष्ट्र की रक्षा के लिए लडे़।

Watch Video

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.