26 नवंबर को हरियाणा के 13 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद IAS ऑफिसर से रिटायरमेंट के पहले ही छीना वेतन, दफ्तर, गाड़ी! गहना ने अर्शी पर साधा निशाना कहा, इस शख्स के साथ लिवइन रिलेशन में रह चुकी हैं उत्तर कोरिया कर सकता हमला,तानाशाह की सूची में15 ठिकाने महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप:भारत की तीन युवा फाइनल में रेप के आरोप में गिरफ्तार हुए 'देवों के देव महादेव' स्टार पीयूष सहदेव लंदन के ऑक्सफ़र्ड सर्कस ट्यूब स्टेशन पर हुई घटना का नहीं मिला सबूत राशिफल : 25 नवंबर: कैसा रहेगा आपके लिए शनिवार का दिन, जानने के लिए क्लिक करें देश और दुनिया के इतिहास में 25 नवंबर की महत्वपूर्ण घटनाएं क्रिकेट के इतिहास में पहली बार, 2 रन पर ऑल आउट हो गई ये टीम माँ की ममता हुई शर्मशार: अपने ही मासूम बच्चे का किया कत्ल कुदरत का करिश्मा: 14 साल बाद परिवार से मिली अयोध्या से मुंबई पहुंची पूजा मानुषी छिल्लर पर हुड्डा व खट्टर में जुबानी जंग शुरू सुरक्षित और सम्मिलित साइबर स्पेस देने के प्रति प्रतिबद्ध है भारत : सुषमा स्वराज पद्मावती विवाद: नाहरगढ़ किले पर लटकाया युवक का शव, लिखा- हम पुतले नहीं शव लटकाते है हादसा :पटरी से उत्तरी वास्को-डि-गामा-पटना एक्सप्रेस हाफिज सईद की रिहाई पर अमेरिका ने जताई नाराजगी, कहा- फिर से गिरफ्तार करो दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ाने से किसी को नहीं हुआ फायदा: केजरीवाल मिस्र में अब तक का सबसे भीषण आतंकी हमला, 235 लोगो की मौत वीडियो: वोट देने से किया मना तो दबंगो ने जलाया महिला का घर
पद्मावती: गुजरात के गांधी मैदान में लाखों की संख्या में उमड़ा राजपूत समुदाय, किया ये ऐलान
sanjeevnitoday.com | Sunday, November 12, 2017 | 05:36:24 PM
1 of 1

नई दिल्ली। संजय लीला भंसाली की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। फिल्म 'पद्मावती' का विरोध खत्म होने का नहीं ले रहा हैं। राजस्थान के बाद गुजरात, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश सहित कई जिलों में फिल्म का पुरजोर विरोध किया जा रहा हैं। इसी बीच खबर आ रही है की गुजरात के गांधीनगर मैदान में 1 लाख से ज्यादा राजपूत इकट्ठा हुए। और उन्होनें एकता का परिचय दिया। लोगों में जबरदस्त आक्रोश देखा गया।

करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कालवी ने चेतावनी देते हुए कहा, ''हर हाल में बैन हो फिल्म, अहिंसा की धरती पर हिंसा नहीं करना चाहते।'' करनी सेना ने ऐलान किया है की फिल्म 'पद्मावती' को रिलीज़ नहीं होने देंगे। बता दें की राजस्थान के अलावा हरियाणा के दो मंत्री इसके विरोध में खुलकर सामने आ गए हैं। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के बाद अब उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने फिल्म पद्मावती को लेकर केंद्रीय स्मृति ईरानी और फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली को पत्र लिखा है।

गोयल ने पत्र लिखकर एतिहासिक तथ्यों को परखने की अपील की है। उन्होंने लिखा कि फिल्म के ट्रेलर में अलाउद्दीन ख़िलजी का महिमामंडन गलत है। उन्होंने भंसाली से अपील की कि वह गौरवमयी इतिहास को आगे रखें। फिल्म को बेचने के लिए या भव्य बनाने के लिए एतिहासिक तथ्यों से खिलवाड़ करना ठीक नहीं है। फिल्म 'पद्मावती' को लेकर राजस्थान के कई पूर्व राजपरिवार के सदस्य विरोध जता चुके हैं। इनमें सबसे प्रमुख जयपुर राजपरिवार की सदस्या और विधायक दीया कुमारी शामिल हैं। 

यह भी पढ़े: वीडियो : दुष्कर्म पीडिता ने की न्याय की गुहार
दीया कुमारी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि एक फिल्म के जरिए राजस्थान के गौरवपूर्ण इतिहास के साथ छेड़छाड़ नहीं कर सकते। मुझे राजस्थान के इतिहास से किसी भी तरह की छेड़छा़ड़ बर्दाश्त नहीं है। मैं यहां के लोगों के बलिदान के साथ खिलवाड़ पसंद नहीं करूंगी। इसके अलावा केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, केंद्रीय मंत्री उमा भारती, शाहपुरा के राजपरिवार से जुड़े और विधानसभा उपाध्यक्ष के बेटे देवायुष सिंह, विधायक भवानी सिंह राजावत सहित अन्य कई लोग फिल्म को लेकर अपनी बात स्पष्ट कर चुके हैं।

पद्मावती का विरोध-  
प्रदर्शनकारियों का कहना हैं की फिल्म में विदेशी आक्रांताओं का महिमामंडन किया जा रहा है और इतिहास को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा हैं। विरोध करने वालों का यह भी कहना हैं की फिल्म में अलाउदीन और रानी पद्मावती के बीच आपत्तिजनक दृश्य दिखाए गए हैं।  

यह भी पढ़े: वीडियो : वीडियो: दरवाजा तोड़ राम रहीम के BEDROOM में घुसी पुलिस, नजारा देख रह गई हैरान
  
 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.