बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं के विरोध में राज्य सरकार के खिलाफ धरना रेलों में परोसा जाने वाला भोजन और पानी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक विभागीय लापरवाही के चलते स्वास्थ्य केंद्र दनकौर की मशीने हुई खराब स्वास्थ्य निदेशक ने सभी शिविरों का निरीक्षण किया विद्यालय परिसर में 500 बच्चों का स्वास्थ्य जांचा सुमन मुनि महाराज ने जैन धर्म में तप को मोक्ष का मार्ग बताया हमें सदा अपने कुल व धर्म पर अभिमान करना चाहिए गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए एएनसी जांच जरूरी शंखनाद संस्था ने चलाया "भीख नही शिक्षा दो" अभियान, सुमन शर्मा ने किया पोस्टर विमोचन पाक को अमेरिका का झटका, आंतक के खिलाफ मिलने वाले फंड पर लगाई रोक एस. बद्रीनाथ ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट को कहा अलविदा अमेरिका ने पाक को दिया एक और झटका, लगातार दूसरे साल एंटी टेरर फंडिंग पर लगाई रोक चीनी की कीमतों में बढ़ोतरी, तेल के दाम हुए सस्ते WWC17: सेमीफाइनल की पारी को लेकर हरमनप्रीत ने किया खुलाशा चित्तौड़गढ़ सांसद ने की कृषि विज्ञान केन्द्र की मांग को लेकर परषोत्तम रूपाला से की मुलाकात एप्पल की नई टेक्नोलॉजी से बढ़ेगी भारतीय रेलों की स्पीड: सुरेश प्रभु ATP टूर्नामेंट चेन्नई से पुणे स्थानांतरित होने से अमृतराज बंधु दुखी बॉडी पर इन 7 जगहों पर है तिल है तो हो सकता है ये... मोर्ने मोर्केल ने वनडे क्रिकेट करियर को लेकर चिंता की व्यक्त ड्रग रैकेट में फंसा 'बाहुबली-2' का एक्टर सुब्बाराजू, SIT ने की पूछताछ
रघुवर ने कहा- धर्म परिर्वतन कराने वाले अब जेल जायेंगे।
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 09:26:51 PM
1 of 1

रांचीl झारखंड में चल रहे धर्मांतरण के खेल पर मुख्यमंत्री रघुवर दास मंगलवार को काफी भड़के हुये दिखे। श्री दास पहले भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में और उसके बाद प्रोजेक्ट भवन में संवादाताओं से बात करते हुये धर्मांतरण कराने वालों पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि राज्य में धर्मांतरण और चंगाई के नाम पर धोखाधड़ी नहीं चलने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार हर धर्म का सम्मान करती हैं, लेकिन इसका मतलव यह नहीं है कि भोले-भाले गरीबों को बहकाकर धर्म परिवर्तन कराया जाए। धर्म परिवर्तन करने वाले अब जेल भेजे जायेंगे। श्री दास मंगलवार को प्रोजेक्ट भवन स्थित अपने कक्ष में संवाददाताओं को संबोधित कर रहे थे।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

श्री दास ने कहा है कि देश के संविधान में यह कहीं नहीं लिखा है कि लोगों को जबरन लोभ लालच देेकर धर्म परिवर्तन कराया जाये। उन्होंने कहा कि पादरी और मिशनरियों को यह बताना चाहिए कि उनके द्वारा जबरन धर्मातरण के बाद कितने लोगों के जीवन में बदलाव आया है। यदि ऐसा नहीं हुआ है तो बेशक धर्मांतरण कराये गये सभी लोगों की घर वापसी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसी तरह चंगाई के नाम पर खुलेआम लोगों को बहकाया जाता रहा है। अब इस तरह की धोखाधड़ी नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि चंगाई से ही कैंसर और सभी बीमारी ठीक हो जाता तब इतने सारे अस्पताल और डॉक्टरों की क्या जरुरत होती।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा दिये गये बयान कि भाग्य के भरोसे रघुवर दास मुख्यमंत्री बने हैं, पर मुख्यमंत्री ने कड़े शब्दों में कहा कि भाग्य उसी का साथ देता है जो कर्म करता है। नीतीश कुमार नामदार मुख्यमंत्री है और हम कामदार मुख्यमंत्री। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार दिन में जो मुंगेरी लाल के सपने देख रहें हैं, वह देंखें, लेकिन उनका सपना सपना ही रह जायेगा। एक तरफ पूर्ण शराबबंदी का ठिंढोरा पीट रहें हैं, वहीं बिहार में अवैध शराब का गोरखधंधा चरम पर है। यह कौन सा कानून बनायें हैं कि बिहार में शराब पीकर 28 लोगों की मौत हो गयी है। सभी बातों का जवाब नीतीश कुमार को देना चाहिए। श्री दास ने कहा कि नीतीश कुमार अवैध शराब बेचकर महिलाओं को विधवा बनाने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में अपराधी बेलगाम हैं। मुख्यमंत्री ने राज्य में चलने वाली लोककल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.