भारतीय पहलवान का पहला दिन खराब, पहले ही दौर में हारे एफआईआर की प्रति अब मिलेगी ऑनलाईन, जानिए कैसे बूढादीत में स्थित प्राचीन सूर्य मंदिर को बनाया निशाना, आरोपियों को पकड़ा कैसे रूक पायेंगे रेल हादसे ? कपिल शर्मा ने सिद्धू के साथ मनमुटाव पर अपनी तोड़ी चुप्पी संदेश ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें बड़ी लीग में खेलना चाहिए: कांस्टेनटाइन काश कि रेल बजट तकनीक केन्द्रित होता राजस्थान ने लॉन्च की 'हैलो इंग्लिश प्रिमियम' एप, अंग्रेजी ज्ञान को बनाएगी बेहतर अतिक्रमण हटाने गए नगर परिषद के कर्मचारियों पर चले लात घूसे एटीपी रैंकिंग में एंडी मरे को पछाड़ नडाल टॉप पर "फिल्मों का बदलता ट्रेंड " सरकार ने बढ़ाई भीम कैशबैक योजना की अवधि, मार्च तक मिलेगा कैशबैक तीन तलाक मुद्दे पर कल सुप्रीम कोर्ट लेगा अहम फैसला मिताली राज का करारा जवाब, कहा- मैंने मैदान पर पसीना बहाया एक्सकेवेटर मशीन की चपेट में आने से गई मासूम की जान राष्ट्रपति ने किया लेह का दौरा, दिल्‍ली से बाहर उनकी प्रथम यात्रा इंडीज क्रिकेट बोर्ड ने दी पाक दौरे को मंजूरी, खेलेंगे T20 इंटरनेशनल मैच विपक्ष की एकता में मायावती ने डाली फुट, लालू की रैली में नहीं होगी शामिल बाइक सवार दो बदमाशों ने महज 57 सैकंड में उड़ाए 57 लाख गर्ल्स टॉयलेट में रिकॉर्डिंग के लिए छिपाया मोबाइल, कोई और नहीं बल्कि स्कूल का ही चौकीदार
नोटबंदी ने तोड़ी माओवादियों की कमर, एक महीने में सबसे ज्यादा नक्सलियों ने किया सरेंडर
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 09:59:01 AM
1 of 1

नई दिल्ली। माओवाद प्रभावित राज्यों में सरकार की नीति और पिछले कुछ महीनों में सुरक्षाबलों की तरफ से बनाए गए दबाव के बाद अब नोटबंदी का पूरे क्षेत्र में व्यापक असर देखने को मिल रहा है। पिछले 28 दिनों के अंदर अब तक कुल 564 माओवादी और उनके समर्थकों ने सरेंडर किया है। एक माह के अंदर इतनी बड़ी संख्या में माओवादियों का सरेंडर एक रिकॉर्ड है।

हालांकि, माओवादियों पर कार्रवाई में सीआरपीएफ के साथ छत्तीसगढ़, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश में स्थानीय पुलिस की अहम भूमिका रही है तो वहीं पुराने 500 और 1000 रूपये के नोट पर लगे प्रतिबंध ने इस काम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

अधिकारियों के अनुसार, 564 में से 469 माओवादी और उनके समर्थकों ने 8 नवंबर के बाद से अब तक अपना सरेंडर किया है। 8 नवंबर को ही प्रधानमंत्री की तरफ से 500 और 1000 रूपये के पुराने नोट को बैन करने की घोषणा की गई थी। सरेंडर करने वाले माओवादियों में 70 फीसदी ओडिशा के मल्कानगिरी के हैं।

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़की बिना अंडरवियर के शोरूम में शॉपिंग करने पहुंची

यह भी पढ़े: यहां लॉटरी जीतने के बाद, पैसों के बजाए मिलती हैं लड़कियां।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़किया- सड़क किनारे मिनी स्कर्ट में अपना बिजनेस चला रही हैं।



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.