छह पैसे मजबूत होकर 64.27 रुपए प्रति डॉलर पर हुआ बंद नवरात्र के मौके पर जगमगा उठे माता मंदिर, इस अवसर पर पीएम मोदी और सीएम योगी 9 दिन का रखेंगे उपवास भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा मैच आज 1.30 बजे से होगा प्रसारित अरविंद केजरीवाल चेन्नई दौरे पर, कमल हासन से आज करेंगे मुलाकात 'केदारनाथ' की शूटिंग के लिए सारा अली खान के नखरे देख आप भी रह जाएंगे हैरान नवरात्रि 2017: आज से शारदीय नवरात्र प्रारंभ, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा एवं कलश स्थापना विधि (गुरुवार, 21 सितंबर) एक झलक पेट्रोल-डीजल के दामों पर US में राहुल गांधी ने एक बार फिर बेरोजगारी और सांप्रदायिकता के मुद्दे को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना राशिफल : 21 सितंबर : कैसा रहेगा आपके लिए गुरुवार का दिन, जानने के लिए क्लिक करें देश और दुनिया के इतिहास में 21 सितंबर की महत्वपूर्ण घटनाएं आंखो की रौशनी को कमज़ोर होने से बचाता है केला किसी कार्य को करते समय जल्दी थक जाने का ये हो सकता है कारण... चावल से जुड़े ये तथ्य जानकर हैरान रह जायेंगे आप स्किन के लिए बहुत फायदेमंद होता है लाल चंदन हमें कई तरह की बीमारियों से बचाता है नारियल तेल बेटा मां से रोज करता था बलात्कार, मां ने दूसरे बेटे से करवा दिया कत्ल इंटरव्यू के समय इन बातों का रखें ध्यान शिविर में 126 मरीजों का स्वास्थ्य जांचा एशियाई शेरनी महक का ऑपरेशन के बाद स्वास्थ्य में आया सुधार मंत्रिमंडल ने दंतचिकित्‍सक विधेयक, 2017 को दी मंजूरी
प्रदेश के नये आई.टी.आई. कॉलेजों की भूमि आवंटन प्रक्रिया जल्द होगी पूर्ण
sanjeevnitoday.com | Tuesday, June 20, 2017 | 08:52:38 AM
1 of 1

जयपुर। कौशल, नियोजना एवं उद्यमिता मंत्री डॉ0 जसवन्त सिंह यादव ने सोमवार को सचिवालय स्थित कक्ष में राज्य में आई.टी.आई. विभाग द्वारा संचालित विभिन्न गतिविधियों के संबंध में विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक में निर्देश दिये कि जिन स्थानों पर आई.टी.आई. के लिए भूमि आवंटन नहीं हुए या तकनीकी कमी है, वहां आई.टी.आई. विभाग के अधिकारी संबंधित जिला कलेक्टर से मिलकर एक माह में भूमि संबंधी समस्या का समाधान कर  निर्माण कार्य चालू कराएं। 


डॉ0 यादव ने बताया कि आई.टी.आई. निर्माण कार्य में और अधिक गति लाएं, जिससे प्रशिक्षण आरम्भ कर शिक्षित युवाओं को कौशल प्रशिक्षण के अधिक से अधिक अवसर प्राप्त हो। उन्होंने बताया कि राज्य की मुख्यमंत्री की भावना के अनुरूप राज्य के युवाओं को कौशल प्रशिक्षित कर अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध करवाया जा रहा है।

डॉ0 यादव ने बताया कि आई.टी.आई. सेक्टर में राज्य में प्रथम बार प्रवेश प्रक्रिया को ऑनलाईन कर और अधिक सुगम व सुविधाजनक बनाया गया है, उन्होंने बताया कि ऎसी प्रक्रिया देश में मात्र दो-तीन राज्यों में ही है जहां आई.टी.आई. में प्रवेश ऑनलाईन होते हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में संचालित सभी आई.टी.आई. कॉलेजों में गुणवत्ता सुधार हेतु आई.टी.आई.प्लस अभियान-2017 चलाया जा रहा है, जिससे आई.टी.आई. के समग्र विकास को संभव किया जा सकेगा।



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.