रुपया 20 पैसे गिरकर 64.33 रुपए प्रति डॉलर पर बंद सुप्रीम कोर्ट ने आतंकी अशफाक को नहीं दिया पैरोल राशिफल : 20 सितंबर : कैसा रहेगा आपके लिए बुधवार का दिन, जानने के लिए क्लिक करें देश और दुनिया के इतिहास में 20 सितंबर की महत्वपूर्ण घटनाएं सर्वे: अस्वस्थ जीवनशैली है यौन रोग का कारण... खाद्य पदार्थो में मिलावट को कैसे पता करें, जानिए... बुधवार के दिन गणेश जी की पूजा करने से होती है सभी मनोकामनाएं पूर्ण दोस्तों से अलग होने पर उदास मन को ऐसे करे फ्रेश.... अधिक चाय पीना सेहत के लिए हानिकारक इन बीमारियों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है कुट्टू का आटा बालो को जब वाश करते समय रखें इन बातों का ख्याल तो इस कारण नहीं होती लड़कियों की शर्ट में पॉकेट शारीरिक कमजोरी को दूर करती है ये घरेलू चीजें सेहत के बहुत फायदेमंद है रात में नहाना अपने बालों को नया लुक देने के लिए यूज करे हेयर चॉक काम के दौरान तनाव सेहत के लिए खतरनाक एशियाई शेरनी महक का ऑपरेशन सफलतापूर्वक हुआ सम्पन्न एम एस सुब्बुलक्ष्मी एक अपूर्व और प्रतिष्ठित शख़्सियत थीं जिन्होंने सबको मंत्रमुग्ध कियाः उप राष्ट्रपति आस्ट्रेलिया दौरे: भारतीय महिला हॉकी टीम-ए का एलान, प्रीति करेगी कप्तानी फिल्म 'बागी-2' के लिए गंजे हुए टाइगर श्रॉफ
मोदी-आबे ने चीन को चढ़ाने के लिए एशिया-अफ्रीका प्लान की ओर बढ़ाया कदम
sanjeevnitoday.com | Friday, September 15, 2017 | 08:17:48 AM
1 of 1

अहमदाबाद। गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिंजो आबे ने देश में पहले बुलेट ट्रेन की नींव रखी। आबे की भारत यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच संबंध और भी गहरे होते नजर आ रहे हैं। भारत और जापान के बीच मजबूत हो रहे संबध पीएम मोदी की 'ऐक्ट ईस्ट' पॉलिसी और एशिया-अफ्रीका 'ग्रोथ कॉरिडोर' की ओर रणनीतिक तरीके से बढ़ाया कदम है। 

 

यह भी पढ़े: भारत-जापान की दोस्ती पर चीन ने साधा निशाना कहा - क्षेत्रीय देशों के बीच ‘गठजोड़’ के बजाय साझेदारी होनी चाहिए

बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट लॉन्च के मौके पर आबे ने जापान और इंडिया को मिलाकर 'जय' है कहकर रिश्तों की गर्माहट के संकेत दिए। साथ ही जापानी पीएम ने यह भी कहा कि वह भारत के लिए जो कुछ कर सकते हैं उसे करेंगे। इस मौके पर पीएम मोदी ने भी उसी गर्मजोशी के साथ जवाब  देते हुए कहा  'जापान भारत का पुराना दोस्त है, जिसने बिना ब्याज दर के भी हमें लोन दिया है।'
 

आबे के साथ मोदी की चौथी वार्षिक मुलाकात में दोनों देशों के बीच मजबूत हो रहे संबंधों की झलक मिली। जापान ने भारत के हित में एशिया पेसेफिक में व्यापार बढ़ाने की प्रतिबद्धता दोहराई। 


जापान और भारत ने 15 समझौतों पर हस्ताक्षर किए जिनमें से एक ऐक्ट ईस्ट फोरम भी है। जापान ने जिस खुले 'इंडो-पेसेफिक' रणनीति की बात दोहराई वह चीन को चौंकन्ना करने के लिए काफी है। इस फोरम के दौरान भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों में जापान की तरह से डिवेलपमेंट प्रॉजेक्ट शुरू किए जाएंगे। चीन इंडिया पेसेफिक रीजन में अपने दबदबे को लेकर आक्रामक रूख रखता आया है।


पीएम मोदी और जापान के प्रधानमंत्री ने चीन को दो टूक संदेश  देते हुए कहा है  कि इंडिया पेसेफिक रीजन में नियमों  के अनुसार, समुद्री सुरक्षा के लिए दोनों देश एक-दूसरे के साथ खड़े हैं। दोनों देशों के बीच पहले से ज्यादा मात्रा में रक्षा सौदे भी इसके लिए किए जा रहे हैं। 

यह भी पढ़े: पाक ने फिर की काली करतुुत, भारतीय सेना ने दिया मुॅहतोड़ जवाब

पीएम मोदी और जापान के प्रधानमंत्री दोनों ने ही अपने संबोधन में साउथ चाइना सी का जिक्र नहीं किया। विदेश सचिव जयशंकर के मुताबिक, डोकलाम मुद्दा भारत और चीन ने सुलझाया था । 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.