संजीवनी टुडे

News

महबूबा मुफ्ती ने कहा, बंदूकों से नहीं बातचीत से हल होंगे मुद्दे

Sanjeevni Today 17-06-2017 18:23:07

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने घाटी में जारी हिंसा और अशांति के हालातों के बीच बातचीत की वकालत शुरू की है। मुफ्ती ने जम्मू-कश्मीर विधानसभा में दिए एक बयान में कहा कि सीमा पर हमारे सैनिक मर रहे हैं, ये बंदूक और फौजी ताकतें किसी समस्या का हल नहीं हो सकती है। केवल बातचीत से ही मुद्दे सुलझाए जा सकता हैं। जम्मू-कश्मीर में लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है, कश्मीर में आतंकवाद को जन्म देना कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस की देन है। सेना घाटी में हालात को सामान्य नहीं कर सकती। 

महबूबा ने कहा, देश में 65 की जंग हुई, 71 की जंग हुई, हमे क्या हासिल हुआ? जंग में दोनों तरफ के गरीब व बेकसूर लोग ही मारे जाते हैं। जब तक एक साथ बैठेंगे नहीं, मुद्दों पर बात नहीं करेंगे, तब तक मसले नहीं सुलझाए जा सकते। साथ ही उन्होंने कहा कि बहुत से लोग स्टेट टेररिज्म की बात करते हैं, लेकिन ऐसा तब होता था जब गांव में एनकाउंटर होता था, तो पूरे के पूरे गांव खाली हो जाते थे. लोग डर के मारे भाग खड़े होते थे।  

घाटी में जबर्दस्त हिंसा और तनाव का माहौल है
उन्होंने कहा कि आज जब घाटी में एनकाउंटर हो रहे है, तो 12 और 14 साल के लड़के एनकाउंटर करने वालों पर पत्थरबाजी करते हैं। ज्ञातव्य है कि इस समय घाटी में हिंसा और तनाव का माहौल है। 

Watch Video

More From national

Recommended