loading...
कुख्यात अपराधी सनातन मड़ैया गिरफ्तार शिखा की शानदार गेंदबाजी ने दिलाई भारत को लगातार तीसरी जीत तम्मा तम्मा अगेन बादशाह के साथ किम जोंग के भाई की हत्या में उ. कोरिया का हाथ: दक्षिण कोरिया बाबुल के घर से विदा होने के बाद सीधे पोलिंग बूथ पहुंची दुल्हन आतंकवाद के खात्मे के लिए जयपुर से वाघा बॉर्डर तक 'हुंकार दौड़' रंगदारी मामले में आरोपी नक्सली गिरफ्तार मेकअप के दौरान कुछ एेसी दिखती है बॉलीवुड एक्ट्रैसेस, देखें तस्वीरें डोनाल्ड ट्रंप के बाद व्हाइट हाउस के अधिकारी राज शाह ने भी की मीडिया की आलोचना सोशल मीडिया पर धोनी के समर्थन में आये प्रशंसक OMG: ये है दुनिया की सबसे खतरनाक जेल, जहां एक-दूसरे को मारकर खा जाते हैं कैदी यूपी विस चुनाव 2017 : तीसरे चरण का मतदान समाप्त, 55 से 60 फीसदी के बीच रहा मतदान सीपीडब्ल्यूडी में कॉर्पोरेट वर्क कल्चर योजना के विरोध में उतरे कर्मचारी दरगाह हमले के बाद पाकिस्तान ने आतंवादियो पर तेज की कार्यवाही श्रीलंका ने दूसरे टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को 2 विकेट से हराया VIDEO: करिश्मा कपूर के बॉयफ्रेंड से मिले पापा रणधीर कपूर नेत्रहीन टी-20 विश्व कप विजेता भारतीय टीम को सम्मानित करेंगे गोयल सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश कबीर का निधन, अपोलो अस्पताल ने की पुष्टि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का हिस्सा नहीं होंगे स्टार्क मैनपुरी मतदान केन्द्र में तीन राउंड फायरिंग से मचा हड़कम्प
ममता का सेना को राजनीती मे घसीटना नीच कार्य:बीजेपी
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 03:53:38 PM
1 of 1

नई दिल्ली। बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव सिद्दार्थ नाथ सिंह ने कहा है कि सेना को राजनीती मे घसीट कर उन्होंने अपना ओछापन दिखा दिया है , हो सकता है कि वो नोटबंदी के विरोधी ग्रुप की चीयर लीडर हो  पर सेना को राजनीते से परे रखना चाहिए। 

इससे पहले ममता ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार को बिना किसी पूर्व  सूचना के इस तरह सेना को तैनात किया जाना एक गंभीर मुद्दा है। राज्य में इमरजेंसी जैसे हालात पैदा हो गए हैं।  उन्होंने इस तरह सेना की तैनाती को असंवैधानिक बताते हुए राष्ट्रपति से मोदी सरकार की शिकायत करने का मन भी बनाया है

इससे पहले रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों की ओर से आज लोकसभा में यह मुद्दा उठाए जाने पर जवाब देते हुए कहा कि सेना की मंशा पर शक करना और उसे बेवजह राजनीतिक विवाद में घसीटना सही नहीं है। उन्होंने कहा, मुझे इस सदन को यह कहते दुख हो रहा है कि सेना के इस तरह के नियमित अभ्यास पर विवाद खड़ा किया जा रहा है। ये एक तरह की राजनीतिक हताशा है।’


ये सेना का नियमित अभ्यास  
रक्षा मंत्री ने बनर्जी का नाम लिए बगैर कहा कि एक राज्य की मुख्यमंत्री ने सेना के बारे जो भी कहा है वह दुखद है। ‘पिछले कई वर्षों से इस तरह का अभ्यास जारी है। राज्य में पिछले साल 19 नवंबर को भी यह अभ्यास किया गया था। इस बार भी बाकी राज्यों के साथ सेना की पूर्वी कमान ने उत्तर पूर्व के कई राज्यों में इस तरह का अभ्यास चलाया है। उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड में भी ऐसा अभ्यास किया गया है। ये सारे अभ्यास शुरू किए जाने के पहले संबंधित राज्यों के प्रशासन और पुलिस को इसकी जानकारी दी गई थी। ऐसे में विवाद खड़ा करना और वह भी सेना को लेकर ऐसा करना बिल्कुल गलत है।

 यह भी पढ़े: भारतीय के कैमरे में कैद हुआ भूत, सोशल मीडिया पर वायरल

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े: सुना होगा शुगर फ्री लेकिन सही में ये है इसका मतलब

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.