loading...
loading...
loading...
बदमाशों ने नमाज पढ़कर लौट रहे व्यक्ति को मारी गोली, हत्या के बाद मस्जिद में फेंके गोश्त के टुकड़े कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत को पाकिस्तान से करनी होगी बातचीत: बासित Jio के इस धमाकेदार ऑफर से मिलेगा 600 से ज्यादा शहरों को लाभ हॉलिडे एंजॉय कर रही मौनी रॉय की देखे, हॉट तस्वीरें शहरी विकास मंत्री एम वैंकेया नायडू ने किया स्मार्ट सिटी के लिए 30 और नए शहरों की सूची का ऐलान ट्रंप का आेबामा प्रशासन से सवाल, क्यों नहीं की चुनाव में रूसी हस्तक्षेप को रोकने की कोशिश अनोखी शादी: दुल्हे की लंबाई 6 फीट 1 इंच, दुल्हन 2 फीट 8 इंच 2 सगे भाई सहित हुए 4 युवक गिरफ्तार श्रीकांत ऑस्ट्रेलिया ओपन सुपरसीरीज के सेमीफाइनल में Surrogate के जरिए तीसरे बच्चे को जन्म देगी किम कार्दशियन DSP की हत्या के बाद श्रीनगर में कर्फ्यू और तनाव का माहौल 5 अंक की गिरावट के साथ सैंसेक्स हुआ 31,286 इस पत्थर की पूजा करने से धन और शोहरत में होती है बढ़ोतरी! 15 वर्षीय लड़की को दंबग लड़के ने घर में खींचकर किया दुष्कर्म 3 पैसे की बढ़ोतरी के साथ रुपया 64.56 के स्तर पर भारत में लांच हुआ वनप्लस 5 स्मार्टफोन, जानिए खासियत यामी गौतम ने कुछ इस अंदाज में मनाया योग दिवस वेस्टइंडीज में धोनी से मिलने पंहुचा उनका करीबी यार 'इसरो' के 31 उपग्रहों के सफल प्रक्षेपण पर PM मोदी ने दी बधाई भारतीय रेलवे में बोतलबंद पानी की सप्लाई पर किया बड़ा काम
जानें कोविंद की उम्मीदवारी को लेकर क्या चल रहा है विपक्ष में
sanjeevnitoday.com | Monday, June 19, 2017 | 09:20:05 PM
1 of 1

 

नई दिल्ली। अगले महीने होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनावों पर दावेदारी को लेकर सारी अटकटों को विराम देते हुए, बीजेपी के राष्ट्र अध्यक्ष अमित शाह ने बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने की घोषणा की है। पार्टी प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद का कहना है कि राष्ट्रपति उम्मीदवारी के लिए सभी पार्टियों से सलाह मशविरा किया गया था, "मोदी ने इस बारे में खुद सोनिया गांधी को फ़ोन किया था और विपक्षी दलों की एक समहमति बनाने की कोशिश की गई थी।"

इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों का कहना है कि बीजेपी ने राष्ट्रपति उम्मीदवारी पर सर्व सहमति की बात तो की थी लेकिन नाम को लेकर कोई स्थिति स्पष्ट नहीं की। कांग्रेस पार्टी के नेता गुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि 'बीजेपी ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम तय करते हुए, उनसे कोई सलाह मशवरा नहीं किया था इसलिए हमारी तरफ से उन्हें समर्थन करने की गुंजाइश नहीं बची।'

बीजेपी की राह में है बड़े रोड़े
माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने पत्रकारों से कहा, "पहले जब पीएम का संदेश लेकर राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू आए थे, उन्होंने कहा था कि सर्वसम्मति से राष्ट्रपति चुना जाना चाहिए।" उनके मुताबिक, "उस समय उनके पास कोई उम्मीदवार नहीं था। उस समय उन्होंने कहा था कि जब हम तय करेंगे, सलाह मशविरा करने आएंगे। लेकिन अभी उन्होंने नाम की घोषणा कर दी तो उन्होंने सलाह मशविरा की गुंजाइश छोड़ी नहीं।"

बसपा पार्टी का रहेगा साकारात्मक रुख 
बसपा प्रमुख मायावती ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर कहा, "एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के दलित होने के नाते उनकी पार्टी का रुख उनके प्रति साकारात्मक रहेगा, बशर्ते यदि विपक्ष की ओर से इस पद के लिए इनसे से भी योग्य उम्मीदवार नहीं उतारा जाता है।" मायावती ने आगे कहा कि 'चूंकि एनडीए ने एक दलित उम्मीदवार उतारा है इसलिए विपक्षी उम्मीदवार को भी एक दलित उम्मीदवार उतारना चाहिए और अगर वो एक गैर राजनीतिक दलित उम्मीदवार उतारता है तो ये अच्छी बात होगी।'

आरजेडी पार्टी भी है खुश 
इस कश्मकश के बीच बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के मुखिया नीतीश कुमार ने कहा है कि 'बिहार के राज्यपाल के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनाए जाने पर उन्हें खुशी' है। उन्होंने आगे कहा, "हमारी लालू प्रसाद यादव जी से इस विषय में भी बात हुई है, मैडम सोनिया गांधी का भी फ़ोन आया था। मैंने अपनी बात से उन्हें अवगत कराया है। लेकिन इन सब पर आगे भी बातचीत होगी।"


शिवसेना ने नहीं की स्थिति साफ 
शिवसेना नेता संजय राउत ने पत्रकारों से कहा कि, "बीजेपी की संसदीय समिति ने राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद का नाम तय किया है और भाजपा अध्यक्ष ने उद्धव ठाकरे को इसकी सूचना देते हुए बीजेपी ने हमारा समर्थन मांगा है।" उन्होंने कहा कि 'आज शिवसेना का स्थापना दिवस है और शाम सात बजे उद्धव ठाकरे अपने अभिभाषण में इस मुद्दे पर अपनी स्थिति स्पष्ट करेंगे।'

लोक जन शक्ति पार्टी
लोकजन शक्ति पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का कहना है कि ' मुझे लगता है कि जो लोग अपने आपको प्रगतिशील मानते हैं उन्हें रामनाथ कोविंद को समर्थन देना चाहिए और जो नहीं समर्थन करेंगे, उन्हें माना जाएगा कि वो दलित विरोधी हैं।' आगे कहा कि 'जो लोग ये कहते नहीं थकते थे कि मोदी सरकार दलित विरोधी है, उनके मुंह पर ये तमाचा है।'



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.