B' day special: सिमी ग्रेवाल ने मनाया 70वां जन्मदिन, जामनगर के महाराजा से था अफेयर क्यों नहीं आ रहे है ATM से 200 रुपये के नोट? ये रहा जवाब कादर खान ना बोलते ना चलते, तस्वीर वायरल BSF ने सुचेतगढ़ इलाके से पाकिस्तानी घुसपैठिये को किया गिरफ्तार इस शिव मंदिर की मूर्तियों को छूने से डरते है लोग उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच कभी भी हो सकता है परमाणु युद्ध : किम इन यॉन्ग हर महीने लाखों रुपए कमाती है 8 साल की ये लड़की मुख्यमंत्री राजे ने की, अजमेर से अन्नपूर्णा रसोई के दूसरे चरण की शुरुआत बच्चो के ट्विटर पर बने फर्जी अंकाउट को लेकर भड़के सचिन इस अनोखी शादी के बारें में जानकर आप भी रह जाएंगे दंग! Park में खेलते हुए लड़के को मिला दुनिया का दुर्लभ ब्राउन डायमंड B'day special: 47वें जन्मदिन पर कुंबले को नहीं किया कोहली ने विश संतोषी की मां कोईली देवी ने कहा -"मेरी बेटी भूख से मर रही थी और वो आधार मांग रहे थे" अनोखा गांव: यहां पर सिर्फ प्लास्टिक की बोतलों से बने हुए है घर ट्रक ड्राइवर ने 35 ओवर के मैच में 40 छक्के जड़कर बनाया तिहरा शतक पनामा पेपर लीक मामले को सामने लाने वाली पत्रकार की हुई मौत ताजमहल भारतीय मजदूरों के खून-पसीने से बना है: CM योगी 21 और 22 अक्टूबर 2017 को मनाई जाएगी युगावतार बहाउल्लाह के जन्म की 200वी वर्षगांठ विराट-अनुष्का की ये तस्वीर देख थम जाएंगी आप की निगाहे कैदी ने हाथ की नस काटकर जान देने का किया प्रयास
जानें कोविंद की उम्मीदवारी को लेकर क्या चल रहा है विपक्ष में
sanjeevnitoday.com | Monday, June 19, 2017 | 09:20:05 PM
1 of 1

 

नई दिल्ली। अगले महीने होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनावों पर दावेदारी को लेकर सारी अटकटों को विराम देते हुए, बीजेपी के राष्ट्र अध्यक्ष अमित शाह ने बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने की घोषणा की है। पार्टी प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद का कहना है कि राष्ट्रपति उम्मीदवारी के लिए सभी पार्टियों से सलाह मशविरा किया गया था, "मोदी ने इस बारे में खुद सोनिया गांधी को फ़ोन किया था और विपक्षी दलों की एक समहमति बनाने की कोशिश की गई थी।"

इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों का कहना है कि बीजेपी ने राष्ट्रपति उम्मीदवारी पर सर्व सहमति की बात तो की थी लेकिन नाम को लेकर कोई स्थिति स्पष्ट नहीं की। कांग्रेस पार्टी के नेता गुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि 'बीजेपी ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम तय करते हुए, उनसे कोई सलाह मशवरा नहीं किया था इसलिए हमारी तरफ से उन्हें समर्थन करने की गुंजाइश नहीं बची।'

बीजेपी की राह में है बड़े रोड़े
माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने पत्रकारों से कहा, "पहले जब पीएम का संदेश लेकर राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू आए थे, उन्होंने कहा था कि सर्वसम्मति से राष्ट्रपति चुना जाना चाहिए।" उनके मुताबिक, "उस समय उनके पास कोई उम्मीदवार नहीं था। उस समय उन्होंने कहा था कि जब हम तय करेंगे, सलाह मशविरा करने आएंगे। लेकिन अभी उन्होंने नाम की घोषणा कर दी तो उन्होंने सलाह मशविरा की गुंजाइश छोड़ी नहीं।"

बसपा पार्टी का रहेगा साकारात्मक रुख 
बसपा प्रमुख मायावती ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर कहा, "एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के दलित होने के नाते उनकी पार्टी का रुख उनके प्रति साकारात्मक रहेगा, बशर्ते यदि विपक्ष की ओर से इस पद के लिए इनसे से भी योग्य उम्मीदवार नहीं उतारा जाता है।" मायावती ने आगे कहा कि 'चूंकि एनडीए ने एक दलित उम्मीदवार उतारा है इसलिए विपक्षी उम्मीदवार को भी एक दलित उम्मीदवार उतारना चाहिए और अगर वो एक गैर राजनीतिक दलित उम्मीदवार उतारता है तो ये अच्छी बात होगी।'

आरजेडी पार्टी भी है खुश 
इस कश्मकश के बीच बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के मुखिया नीतीश कुमार ने कहा है कि 'बिहार के राज्यपाल के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनाए जाने पर उन्हें खुशी' है। उन्होंने आगे कहा, "हमारी लालू प्रसाद यादव जी से इस विषय में भी बात हुई है, मैडम सोनिया गांधी का भी फ़ोन आया था। मैंने अपनी बात से उन्हें अवगत कराया है। लेकिन इन सब पर आगे भी बातचीत होगी।"


शिवसेना ने नहीं की स्थिति साफ 
शिवसेना नेता संजय राउत ने पत्रकारों से कहा कि, "बीजेपी की संसदीय समिति ने राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद का नाम तय किया है और भाजपा अध्यक्ष ने उद्धव ठाकरे को इसकी सूचना देते हुए बीजेपी ने हमारा समर्थन मांगा है।" उन्होंने कहा कि 'आज शिवसेना का स्थापना दिवस है और शाम सात बजे उद्धव ठाकरे अपने अभिभाषण में इस मुद्दे पर अपनी स्थिति स्पष्ट करेंगे।'

लोक जन शक्ति पार्टी
लोकजन शक्ति पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का कहना है कि ' मुझे लगता है कि जो लोग अपने आपको प्रगतिशील मानते हैं उन्हें रामनाथ कोविंद को समर्थन देना चाहिए और जो नहीं समर्थन करेंगे, उन्हें माना जाएगा कि वो दलित विरोधी हैं।' आगे कहा कि 'जो लोग ये कहते नहीं थकते थे कि मोदी सरकार दलित विरोधी है, उनके मुंह पर ये तमाचा है।'



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.