31 मार्च से आगे भी बढ़ सकता है जियो ऑफर Live INDvsENG : तीसरे दिन लंच तक भारत ने 2 विकेट के नुकसान पर बनाए 247 रन Boys Attention ! सीख ले ये वाले काम वरना छोड़ के चली जाएगी आपकी GF नोटबंदी: केंद्र सरकार ने SC से कहा- 10 से 15 दिनों में खत्‍म होंगी समस्‍याएं OMG ! अचानक से महिला के पेट में हुआ दर्द और दे दिया घोड़े के बच्चे को जन्म, पति अभी भी सदमे में ऐसा क्या किया इस एक्ट्रेस ने, जिससे बचने के लिये अर्जुन छिपे टायलेट में Girls Attention ! लिपिस्टिक लगाकर होंठों पर जीभ फेरना भी है जानलेवा... जाने क्यों अखिलेश यादव ने सपा नेता जावेद को बनाया सिंचाई विभाग का सलाहकार किसान महासम्मेलन आज, शामिल होंगे सीएम शिवराज मारुति सुजुकी ने UK में लॉन्च की यह नयी कार आज गुजरात मे डेयरी प्लांट का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी हिंद महासागर में भारत दबदबा बढ़ाने मॉरीशस जाएंगे पर्रिकर नोट बंदी के बाद ऐसे चल रहा है जिस्मफरोशी का धंधा! Live INDvsENG: मुरली विजय ने ठोका 8वां शतक, कोहली की धुंआधार पारी लाइट फ्लाईवेट में वापसी करेंगी एमसी मैरीकाम उत्तर भारत में छाया कोहरे का कहर 73 ट्रेन रद्द पश्चिम बंगाल में सेना की तैनाती पर पर्रिकर की चिट्ठी पर ममता का तीखा जवाब पाक ने फिर की नापाक हरकत, घुसपैठ की कोशिश को BSF ने किया नाकाम सोनिया मेरे तलाक के लिए जिम्मेदार नहीं हैं: कोमल पीवी सिंधू के साथ मुकाबले का बेसर्बी से इंतजार कर रही हैं कैरोलिना मारिन
कश्मीर: अशांति के 100 दिन पूरे, सबसे ज्यादा, आम जनजीवन प्रभावित
sanjeevnitoday.com | Monday, October 17, 2016 | 09:58:40 AM
1 of 1

श्रीनगर।  दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग जिला के कोकरनाग इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से कश्मीर में चल रही अशांति के रविवार को 100 दिन पूरे हो गए। इस दौरान अलगाववादियों द्वारा आहूत हड़ताल और प्रशासनिक पाबंदियों के कारण आज 100वें दिन भी आम जनजीवन प्रभावित रहा है। हालांकि स्थिति में सुधार को देखते हुए आज घाटी से कर्फ्यू हटा दिया गया। मौजूदा आंदोलन का नेतृत्व कर रहे अलगाववादियों की ओर से बुलाई गई हड़ताल के चलते घाटी में पिछले 100 दिन से बंद की स्थिति है। हालांकि बीच-बीच में कुछ अवधि के लिए राहत दी जाती है। हड़ताल के कारण दुकानें, व्यापारिक प्रतिष्ठान और पैट्रोल पंप लगातार बंद रहे।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

हड़ताल और प्रतिबंधों की वजह से छात्रों की पढ़ाई पर असर पड़ा है क्योंकि घाटी में स्कूल, कालेज और अन्य शिक्षण संस्थान बंद हैं। इस बीच श्रीनगर की ऐतिहासिक जामिया मस्जिद की ओर जाने वाले सभी रास्तों को भी बंद कर दिया गया। सुरक्षा की दृष्टि से काफी तादाद में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक, घाटी के सभी क्षेत्रों के अलावा श्रीनगर से भी कर्फ्यू हटा लिया गया है। हुर्रियत ने हड़ताल को 20 अक्तूबर तक बढ़ा दिया है। हुर्रियत कांफ्रैंस के उदारवादी धड़े के अध्यक्ष मीरवायज मौलवी उमर फारूक के गढ़ जामिया मस्जिद के आस-पास की स्थिति में भी कोई परिवर्तन नहीं आया है।

श्रीनगर में एक अधिकारी ने कहा कि स्थिति में सुधार आ रहा है। लोग हुर्रियत के बुलाए गए बंद को नकार रहे हैं और अपने दैनिक कार्यों के लिए घरों से बाहर आ रहे हैं। सिविल लाइंस और शहर के बाहरी इलाकों में कई दुकानें खुलीं। कुछ लोगों ने कहा कि कश्मीर की आशंति ने उनका सबकुछ छीन लिया है और अलगाववादियों को इससे कोई लेना-देना नहीं है।

यह भी पढ़े : क्या आप जानते है छोटे स्तन होने के ये 10 फायदे...?

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: फेसबुक पर ऑनलाइन दोस्ती .. और फिर इस तरह दे डाला खुनी वारदात को अंजाम!

यह भी पढ़े: OMG! इस गांव में लड़कियां अपने मां-बाप के सामने बनाती है शारीरिक संबंध



0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.