B' day special: सिमी ग्रेवाल ने मनाया 70वां जन्मदिन, जामनगर के महाराजा से था अफेयर क्यों नहीं आ रहे है ATM से 200 रुपये के नोट? ये रहा जवाब कादर खान ना बोलते ना चलते, तस्वीर वायरल BSF ने सुचेतगढ़ इलाके से पाकिस्तानी घुसपैठिये को किया गिरफ्तार इस शिव मंदिर की मूर्तियों को छूने से डरते है लोग उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच कभी भी हो सकता है परमाणु युद्ध : किम इन यॉन्ग हर महीने लाखों रुपए कमाती है 8 साल की ये लड़की मुख्यमंत्री राजे ने की, अजमेर से अन्नपूर्णा रसोई के दूसरे चरण की शुरुआत बच्चो के ट्विटर पर बने फर्जी अंकाउट को लेकर भड़के सचिन इस अनोखी शादी के बारें में जानकर आप भी रह जाएंगे दंग! Park में खेलते हुए लड़के को मिला दुनिया का दुर्लभ ब्राउन डायमंड B'day special: 47वें जन्मदिन पर कुंबले को नहीं किया कोहली ने विश संतोषी की मां कोईली देवी ने कहा -"मेरी बेटी भूख से मर रही थी और वो आधार मांग रहे थे" अनोखा गांव: यहां पर सिर्फ प्लास्टिक की बोतलों से बने हुए है घर ट्रक ड्राइवर ने 35 ओवर के मैच में 40 छक्के जड़कर बनाया तिहरा शतक पनामा पेपर लीक मामले को सामने लाने वाली पत्रकार की हुई मौत ताजमहल भारतीय मजदूरों के खून-पसीने से बना है: CM योगी 21 और 22 अक्टूबर 2017 को मनाई जाएगी युगावतार बहाउल्लाह के जन्म की 200वी वर्षगांठ विराट-अनुष्का की ये तस्वीर देख थम जाएंगी आप की निगाहे कैदी ने हाथ की नस काटकर जान देने का किया प्रयास
कश्मीर: अशांति के 100 दिन पूरे, सबसे ज्यादा, आम जनजीवन प्रभावित
sanjeevnitoday.com | Monday, October 17, 2016 | 09:58:40 AM
1 of 1

श्रीनगर।  दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग जिला के कोकरनाग इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से कश्मीर में चल रही अशांति के रविवार को 100 दिन पूरे हो गए। इस दौरान अलगाववादियों द्वारा आहूत हड़ताल और प्रशासनिक पाबंदियों के कारण आज 100वें दिन भी आम जनजीवन प्रभावित रहा है। हालांकि स्थिति में सुधार को देखते हुए आज घाटी से कर्फ्यू हटा दिया गया। मौजूदा आंदोलन का नेतृत्व कर रहे अलगाववादियों की ओर से बुलाई गई हड़ताल के चलते घाटी में पिछले 100 दिन से बंद की स्थिति है। हालांकि बीच-बीच में कुछ अवधि के लिए राहत दी जाती है। हड़ताल के कारण दुकानें, व्यापारिक प्रतिष्ठान और पैट्रोल पंप लगातार बंद रहे।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

हड़ताल और प्रतिबंधों की वजह से छात्रों की पढ़ाई पर असर पड़ा है क्योंकि घाटी में स्कूल, कालेज और अन्य शिक्षण संस्थान बंद हैं। इस बीच श्रीनगर की ऐतिहासिक जामिया मस्जिद की ओर जाने वाले सभी रास्तों को भी बंद कर दिया गया। सुरक्षा की दृष्टि से काफी तादाद में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक, घाटी के सभी क्षेत्रों के अलावा श्रीनगर से भी कर्फ्यू हटा लिया गया है। हुर्रियत ने हड़ताल को 20 अक्तूबर तक बढ़ा दिया है। हुर्रियत कांफ्रैंस के उदारवादी धड़े के अध्यक्ष मीरवायज मौलवी उमर फारूक के गढ़ जामिया मस्जिद के आस-पास की स्थिति में भी कोई परिवर्तन नहीं आया है।

श्रीनगर में एक अधिकारी ने कहा कि स्थिति में सुधार आ रहा है। लोग हुर्रियत के बुलाए गए बंद को नकार रहे हैं और अपने दैनिक कार्यों के लिए घरों से बाहर आ रहे हैं। सिविल लाइंस और शहर के बाहरी इलाकों में कई दुकानें खुलीं। कुछ लोगों ने कहा कि कश्मीर की आशंति ने उनका सबकुछ छीन लिया है और अलगाववादियों को इससे कोई लेना-देना नहीं है।

यह भी पढ़े : क्या आप जानते है छोटे स्तन होने के ये 10 फायदे...?

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: फेसबुक पर ऑनलाइन दोस्ती .. और फिर इस तरह दे डाला खुनी वारदात को अंजाम!

यह भी पढ़े: OMG! इस गांव में लड़कियां अपने मां-बाप के सामने बनाती है शारीरिक संबंध



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.