बिना आधार के शराब लेना अब हुआ मुश्किल, जानिए क्या है नए बदलाव युवराज की वापसी पर मां शबनम ने किया ये खुलासा राहुल गाॅधी ने अमेरिका से मोदी सरकार पर साधा निशाना पाक कोर्ट ने वित्त मंत्री इशाक डार का किया गिरफ्तारी वारंट जारी वीडियो : मेक्सिकों मे 7.1 तीव्रता के भूकंप से तबाही, मरने वाले की संख्या 234 के पार वीडियो: अगर बिहार पुलिस से करी बहस तो चमड़ी उतारकर जूते बनवा देगी नवादा शहर के डीएम ने की संयुक्त बैठक, दिया अलर्ट रहने का आदेश हाईकोर्ट ने ममता को लगाई फटकार, कहा - हिन्दू-मुस्लिमों में दरार पैदा ना करे विपासना के जवाब से संतुष्ट नही है एसआईटी... यूपी में 12 साल की लड़की से दो युवकों ने किया दुष्कर्म प्रद्युम्न मर्डर केस : पिंटो परिवार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कहलगांव में टूटा करोड़ो रुपए से बना बांध, आज होना था उद्घाटन यहां पर बन्दर की शक्ल लिए सूअर के बच्चे ने लिया जन्म पाक क्रिकेटर खालिद पर 5 साल का बैन और 10 लाख रुपये का जुर्माना पाकिस्तान वित्तमंत्री के खिलाफ जारी हुआ अरेस्ट वारंट यहां हर साल प्रेमी युगल की याद में आयोजित होता है गोटमार मेला श्रीलंका टीम को वेस्टइंडीज ने दिया 2019 वर्ल्ड कप में सीधी एंट्री का मौका केंद्र सरकार का रेलवे कर्मचारियों को तोहफा, मिलेगा 78 दिन का बोनस यूएन में गूंजा मोदी का नाम, कहा - असीमित संभावनाओं को देखते है मोदी मिसाल: मालिक को लौटा दिए 45 लाख रुपए के हीरे
जेल अधीक्षक पर योगी के मंत्री को रिश्वत देने का लगा आरोप
sanjeevnitoday.com | Thursday, September 14, 2017 | 04:00:10 PM
1 of 1

लखनऊ। कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह जैकी ने बाराबंकी के जेल अधीक्षक उमेश कुमार सिंह पर 50 हजार रुपए की रिश्वत देने का आरोप लगाया है। इस मामले में मंत्री के गनर सौरभ की तरफ से हजरतगंज कोतवाली में बुधवार देर रात एफआईआर दर्ज करायी गई। इस सम्बन्ध में भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े: 4 वर्ष की इस बच्ची के कारनामें को जानकर आप रह जाएंगे दंग

मंत्री जय कुमार सिंह जैकी ने बताया कि मंगलवार की शाम के समय वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ एक अहम बैठक में शामिल थे। इसके बाद वह शाम के समय डालीगंज स्थित आवास पर आ गया। घर आने के कुछ देर बाद उनके गनर ने बताया कि जेल अधीक्षक उमेश कुमार सिंह उनसे मिलना चाहते हैं। इस पर उन्‍होंने उमेश कुमार को मिलने के लिए अंदर बुला लिया। राज्य मंत्री के मुताबिक कुछ देर तक तो जेल अधीक्षक इधर-उधर की बातें करते रहे। 

यह भी पढ़े: इस अनोखे कपल के बारें में जानकर आप रह जाएंगे हैरान

वहीं जेल अधीक्षक का कहना है कि वह मंगलवार को बाराबंकी में ही थे। वह लखनऊ गए ही नहीं तो मंत्री को नोटों से भरा लिफाफा देने का सवाल ही नहीं उठता है। उनका कहना है कि ऐसे आरोप क्यों लगाए गए? यह समझ से परे है। जेल अधीक्षक ने यह भी बताया कि 15-20 दिन पहले उन्होंने जेलर घनश्याम सिंह के कार्य से असंतुष्ट होकर लिखापढ़ी की थी। उन्हें बुधवार को रिलीव भी कर दिया गया है। इसके पीछे कोई साजिश भी हो सकती है। ''मेरी कारागार मंत्री से कोई मुलाकात नहीं हुई है और न ही मैं कभी उनसे मिलने गया हूं। वह मुझे पहचानते भी नहीं होंगे। मेरे खिलाफ तहरीर दी गई, इसकी मुझे जानकारी नहीं है

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.