संजीवनी टुडे

News

रामनाथ कोविंद का जीवन परिचय

Sanjeevni Today 20-06-2017 08:19:27

 

नई दिल्ली। बीजेपी की तरफ से राष्ट्रपति पद के लिए घोषित उम्मीदवार रामनाथ कोविंद और वर्तमान में बिहार के राज्यपाल का जन्म उत्तर प्रदेश कानपुर जिले के तहसील डेरापुर के गांव परौंख में अक्टूबर 1945 में हुआ था। रामनाथ कोविंद ने कानपुर यूनिवर्सिटी से बीकॉम और एलएलबी की पढ़ाई की है। गवर्नर ऑफ बिहार की वेबसाइट के मुताबिक कोविंद दिल्ली हाई कोर्ट में 1977 से 1979 तक केंद्र सरकार के वकील रहे थे। 1980 से 1993 तक केंद्र सरकार के स्टैंडिग काउंसिल में थे। दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में इन्होंने 16 साल तक प्रैक्टिस की। 1971 में दिल्ली बार काउंसिल के लिए नामांकित हुए थे। 1994 में कोविंद उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए सांसद चुने गए। वह 12 साल तक राज्यसभा सांसद रहे। वे कई संसदीय समितियों के सदस्य भी रहे हैं। 

 


रामनाथ कोविंद अपनी वकालत के दौरान भाजपा नेतृत्व के संपर्क में आए। रामनाथ कोविंद को पार्टी ने वर्ष 1990 में घाटमपुर लोकसभा सीट से टिकट दिया लेकिन वह चुनाव हार गए।  वर्ष 1993 व 1999 में पार्टी ने उन्हें प्रदेश से दो बार राज्यसभा में भेजा। पार्टी के लिए जाना मन दलित चेहरा बन गये रामनाथ कोविंद अनुसूचित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रवक्ता भी रहे। घाटमपुर से चुनाव लड़ने के बाद रामनाथ कोविंद लगातार क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं से संपर्क में रहे। राज्यसभा सदस्य के रूप में क्षेत्र के विकास में लगातार सक्रिय रहने का ही परिणाम है।


12 साल तक रहे राज्यसभा मेंबर
कोविंद ने 1991 में बीजेपी ज्वाइन की। 1994 में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए।  2000 में फिर से उत्तर प्रदेश राज्य से राज्य सभा के लिए निर्वाचित हुए। कोविंद लगातार 12 वर्ष तक राज्यसभा सांसद रहे. कोविंद कई महत्वपूर्ण संसदीय कमेटियों के मेंबर भी रहे हैं।

अगस्त 2015 में बने बिहार के राज्यपाल
कोविंद 1998 से 2002 तक बीजेपी दलित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे हैं।  वह ऑल इंडिया कोली समाज के भी प्रेसिडेंट रहे। उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता के तौर भी काम किया है। 8 अगस्त 2015 को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उन्हें बिहार का राज्यपाल नियुक्त किया था। 

रामनाथ कोविंद का नाम भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 19 जून 2017 को एनडीए(NDA) के सर्वसम्मत राष्ट्रपति उम्मीदवार  के रूप में घोषित किया। 

Watch Video

More From national

Recommended