रिलायंस जियो का 399 का रिचार्ज हुआ महंगा, देने होंगे अब इतने ऐतिहासिक दिन: पूरी दुनिया में द्विशताब्दी जन्मदिवस समारोह मनाया जा रहा VIDEO : हर्षिता दहिया मर्डर केस में जीजा ने कबूला अपना गुना कहा- मान ही नहीं रही थी वर्ल्डस्टील एसोसएिशन के कोषाध्यक्ष बने सज्जन जिंदल सैनिक स्कूल में टीचर एवं वार्ड बॉय पदों के लिए निकली भर्ती, इस तरह करे आवेदन 21 और 22 अक्टूबर 2017 को मनाई जाएगी युगावतार बहाउल्लाह के जन्म की 200वी वर्षगांठ भैया दूज विशेष : क्यों मनाया जाता है ये त्यौहार, पढ़िए इससे जुडी कथा? राजस्थान पुलिस ने कांस्टेबल पदों के लिए माँगा आवेदन, इस तरह करे आवेदन कांग्रेस ने पूर्व क्रिकेटर अजहरुद्दीन को तेलंगाना से चुनाव लड़ने के लिए किया आमंत्रित लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर आज से यातायात बंद, एक्सप्रेस-वे पर 24 को वायुसेना के 20 विमान करेंगे अभ्यास ...तो इस कारण से नहीं दिखाई दे रहा है 200 रुपए का नोट VIDEO : प्रधानमंत्री ने केदारनाथ का किया दौरा, कई परियोजनाओं की रखी आधारशिला जन्मदिन मुबारक हो पाजी, 39 बरस के हुए सहवाग मोदी ने केदारनाथ मंदिर में की पूजा-अर्चना, देखे वीडियो वीडियो : हर्षिता दहिया की मर्डर मिस्ट्री सुलझी, जीजा ने करवायी साली की हत्या सरपंच के घर बिना दस्तक दिए घुसा बुजुर्ग, मिली ऐसी सजा... बिहार: कारोबारी की हत्या के विरोध में मचा बवाल, पुलिस फायरिंग में 1 की मौत आगरा एक्सप्रेस-वे पर पहली बार उड़ान भरेंगे परिवहन विमान AN-32 हिमाचल: चंबा में रावी नदी पर बना पुल क्षतिग्रस्त, 6 लोग हुए घायल आज है गोवर्धन पूजा, जानिए पूजन विधि और महत्व
दर्दनाक हादसे का खुलासा- बकाया नहीं चुकाने पर अॉक्सीजन की सप्लाई बाधित की गई थी
sanjeevnitoday.com | Saturday, August 12, 2017 | 11:22:03 AM
1 of 1

गोरखपुर। भले ही प्रशासन आक्सीजन की कमी से हुई मौतों की बात को नकार रहा हो लेकिन पूरे प्रकरण में जिला प्रबंधन की घोर लापरवाही उजागर हुई है। अस्पताल प्रशासन से जुड़े पत्राचार से एक दूसरी ही तस्वीर सामने आ रही है। मेडिकल कालेज के नेहरू अस्पताल में पुष्पा सेल्स कंपनी द्वारा लिक्विड आक्सीजन की सप्लाई की जाती है। कंपनी ने 1 अगस्त को ही पत्र लिखकर आक्सीजन की सप्लाई न करने की चेतावनी दे दी थी।

 

उधर बीते गुरुवार को दिन में ही यह साफ हो चुका था कि जिस लिक्विड आक्सीजन पर सौ बेड के इंसेफ्लाइटिस वार्ड व दूसरे आइसीयू में भर्ती मरीजों की सांसें टिकी हुई हैं वह लगभग खत्म हो चुका था। इसकी भी जानकारी हो गई थी कि विकल्प के रूप में जितने आक्सीजन सिलेंडर की जरूरत है वे सीमित संख्या में हैं। यह भी सबकी जानकारी में था कि संवेदनशील स्थिति बाल रोग विभाग के वार्डों की है जहां बड़ी तादाद में इंसेफ्लाइटिस के मरीज भर्ती हैं।

यह भी पढ़े: एक ऐसी झील जिसे देख विचलित हो उठेगा आपका मन

जब शाम को जब प्राचार्य डा. राजीव मिश्र से बात की गई तो उन्होंने बताया कि फैजाबाद से आक्सीजन सिलेंडर से लदी गाड़ी गुरुवार को शाम पांच बजे चल चुकी है और वह देर शाम तक पहुंच जाएगी। रात करीब आठ बजे सौ बेड के इंसेफ्लाइटिस वार्ड के सिलेंडर की आक्सीजन खत्म हो गयी।

यह भी पढ़े: यहां जिंदा लोगों को किया जाता है कब्र में दफन!



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.