loading...
दिल्ली रोड पर 'एक्सल गैंग' ने कार रोककर चार महिलाओं के साथ किया गैंगरेप आडवाणी और उमा भारती को बाबरी केस पर राहत नहीं, कहा - 30 मई को कोर्ट में पेश हो VIDEO: बच्चों की इस मासूम मस्ती को देखकर हंस हंसकर दुखने लगेगा आपका पेट 'सचिन अ बिलियन ड्रीम्स' देख भावुक हुए अमिताभ, कहा- इस फिल्म को देश के हर नागरिक को दिखाना चाहिए बूंदी नगर परिषद परिसर में आयोजित शिविर में पट्टे वितरित कर आमजन को किया लाभान्वित बाबरी विध्वंस मामला: CBI अदालत ने दिया 30 मई तक सभी आरोपियों को हाजिर होने का आदेश यहां पर इस औरत ने दिया एक साथ 5 बच्चों को जन्म, लेकिन... वाइफ के साथ स्विमिंग पूल में रोमांटिक पोज देते नजर आए 'चंद्रकांता' के एक्टर महिला रेलवे ट्रैक के पास मृत पड़ी थी मां, शव से लिपट दूध पीता रहा बच्चा ढाई माह की ये नन्हीं बच्ची बन गई रातों रात स्टार, जानिए वजह राष्ट्रपति ने मैनचेस्टर में हुए हमले के लिए एलिजाबेथ को लिखा सन्देश, जताया गहरा दुःख प्रियंका ने अमेरिकी मीडिया से कहा- हर ब्राउन रंग की लड़की एक जैसी नहीं होती हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त में महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस बाल-बाल बचे ट्रम्प नाम के इस कुत्ते को तलाश रही द‌िल्ली की पु‌ल‌िस OMG: व्हेल के पेट में 3 दिनों तक रहकर जिंदा लौटा ये शख्स अपने रिलेशनशिप को अलग लेवल पर ले जाना चाहते है अरबाज-एलेक्जेंड्रा आरोपीयो ने नाबालिक से बलात्कार, मामला दर्ज जियॉक्स ने लांच किया Viva 4G स्मार्टफोन, कीमत 5,593 रुपए स्विमिंग पूल में दिखा नेहा धूपिया का हॉट लुक सचिन की बायोपिक के प्रीमियर में पहुंचे ये क्रिकेटर्स
खुशखबरी: राजस्थान के 21 हजार शिक्षकों की नियुक्ति से रोक हटी
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 09:31:17 PM
1 of 1

नई दिल्ली। सूत्रों के अनुसार सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान के तृतीय श्रेणी के करीब 21 हजार शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ कर दिया है। जस्टिस ए.के. सिकरी और जस्टिस एन.वी. रमन की बेंच ने राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले को पलटते हुए यह आदेश जारी किया। कोर्ट ने यह भी आदेश दिया कि आरक्षित वर्ग में 60 फीसदी से कम अंक लाने वालों को भी छूट जारी रहेगी। आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को छूट आगे भी जारी रहेगी।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

दरअसल राजस्थान हाईकोर्ट ने राजस्थान सरकार द्वारा 2012 में शुरू की गई शिक्षक भर्ती पर रोक लगा दी थी। तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती 2012 में अभ्यर्थी के लिए आरटेट की अनिवार्यता रखी गई। केंद्र सरकार के नियमानुसार 60 फीसदी अंकों वाला टेट पास होता है। लेकिन सरकार ने एससी, एसटी, ओबीसी, एसबीसी, महिला, विधवा व परित्यक्तता आदि वर्ग के अभ्यर्थियों को उसमें अलग- अलग छूट दे दी थी।

गौरतलब है कि इससे आरटेट में 60 फीसदी से कम अंक वाले अभ्यर्थी भी तृतीय श्रेणी शिक्षक बन गए थे। राजस्थान सरकार द्वारा ये दूसरी भर्ती है जिस पर राजस्थान हाईकोर्ट ने रोक लगाई थी। इससे पहले पटवारी परीक्षा पर भी रोक लगाई जा चुकी है।

यह भी पढ़े : देखिये : इन 10 आयोजन में लड़कियों ने उतारे अपने अंडरगारमेंट्स और हो गयी न्यूड

यह भी पढ़े: ये खूबसूरत लड़की- हत्या करने के बाद 'लाशों के साथ के करती थी सेक्स', अरे! विश्वास नहीं हो रहा? तो पढ़िए आगे

यह भी पढ़े: पति की गैरमौजूदगी में पत्नी ने किया bf को मना, फिर ये क्या कर डाला युवक ने

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.