संजीवनी टुडे

News

गुड़गांव से नोएडा तक चलती गाड़ी में लड़की के साथ हुआ गैंगरेप, पुलिस PCR में सोती रही

Sanjeevni Today 20-06-2017 15:57:14

नई दिल्ली। गुड़गांव में लड़कियों के साथ लगातार छेड़खानी के अपराध बढ़ते जा रहे है। इन अपराधों को रोकने में पुलिस नाकाम हो रही है। पुलिस के लापरवाई बरतने की वजह से गुड़गांव में एक और दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम दिया गया। यहाँ कुछ अपराधियों ने एक महिला को गुड़गांव से अगवा कर लिया। कार के जरिए दिल्ली से होते हुए ग्रेटर नोएडा तक तक पहुंच गए।

 

इस दौरान उसके साथ लगातार गैंगरेप होता गया वो चीखती रही। चलती कार में गैंगरेप का खौफनाक खेल तीन राज्यों के 80 किलोमीटर के दायरे में पूरे आठ घंटे तक चलता रहा। लेकिन आम लोगों की बात तो दूर किसी वर्दीवाले तक को चलती कार में रुसवा होती इंसानियत की कानों-कान ख़बर नहीं लगी। लगे भी भला कैसे जब पुलिस ही पीसीआर में ही सोती मिलेगी। 

बता दे की, मंगलवार की सुबह आरोपियों ने पीड़िता को ग्रेटर नोएडा के यथार्थ अस्पताल के पास फेंक दिया। इसके बाद फरार हो गए। किसी राहगीर ने महिला को ऐसी हालत में देखकर पुलिस को सूचना दी। लेकिन पुलिस पीसीआर के अंदर सोती मिली। थाने पहुंची पुलिस टीम ने मामले की जांच की इसी दौरान एक शख्स ने पीसीआर में मौजूद सोते पुलिसवालों वीडियो बनाया लिया।

यह वीडियो जैसे ही एसएसपी लव कुमार तक पहुंचा तो दोनों सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया गया। कानूनी तौर पर पीसीआर में कोई भी पुलिसकर्मी सो नहीं सकता है। इसलिए एसएसपी लव कुमार ने पीसीआर पर तैनात दोनों सिपाहियों को ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर लाइन हाजिर कर दिया। एक तरफ सूबे में क्राइम का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है।

दूसरी तरफ पुलिस की ऐसी लापरवाही बता रही है कि उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। एसएसपी लव कुमार ने बताया कि पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है। महिला के बयानों में कुछ विरोधाभास है। उसकी जांच की जा रही है। मंगलवार सुबह 4 बजे के आसपास पीसीआर कॉल मिली। उसके बाद पुलिस ने महिला का तुरंत मेडिकल कराया।

महिला को गुड़गांव के सोहना लेकर जाया गया है। महिला के बयान के आधार पर जांच हो रही है। वारदात के रूट को भी जानने की कोशिश की जा रही है, जहां से गुजरे थे। इस मामले में ग्रेटर नोएडा में केस दर्ज हुआ है। 

Watch Video

More From national

Recommended