वरुण धवन हुए निराश, नही मिला वोटर लिस्ट में नाम लौटना पड़ा बिना मतदान एक्ट्रैस श्रद्धा कपूर पहुंची वोट डालने, फोटो क्लिक करते फोटोग्राफर के साथ हुआ कुछ ऐसा... बन गए अल्ट्रामैन, 3 दिन में 517km दौड़ लगाकर रच डाला इतिहास मिलिंद सोमन ने ये खट्टी-मीठी बातें दिलाती है बड़ी बहन की याद..! यहां लुक नही है मायने, है एक-दूसरे से बिल्कुल अलग फिर भी है साथ, ऐसे है यह कपल..! 7वां वेतन आयोग: बढ़ेगा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता और एचआरए..! यूपी चुनाव में सबसे खूबसूरत उम्मीदवार, जो है काफी चर्चा में, तस्वीरें वायरल यहां बीमारी से पीड़ित लोगों को किडनैप कर, उनकी बॉडी पार्ट्स से बनाई जाती हैं दवाइयां..! संभल मे दस वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, पुलिस मामला दबाने मे जुटी मुख्यमंत्री को जब स्कूली बच्चों ने ’शिक्षक’ बनकर पढ़ाया... ट्रेन से कटकर वृद्ध की मौत गोमती नदी में डूबा छात्र, हंगामा नोटबंदी राष्ट्रहित में एक बड़ा फैसला : मनोज सिन्हा संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, दहेज हत्या का आरोप शेयर बाजार में आई तेजी, सेंसेक्स में 100 अंकों का उछाल सपा-बसपा ने राजनीति में फैलाया कीचड़, अब खिलेगा कमल: राजनाथ मुख्यमंत्री के साथ दिव्यांग बच्चों ने साझा किए अपने बड़े सपने एक साल में 82000 धनाढ्यों ने छोड़ा देश पुलिस व सीआरपीएफ ने डकैत को दबोचा विजय माल्या को भारत लाने की मुहिम तेज
विदेशी चंदा : भाजपा और कांग्रेस ने ली सुप्रीम कोर्ट से अपील वापस
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 07:04:49 PM
1 of 1

नई दिल्ली। उच्चतम  न्यायालय के फैंसला, जिसमे भाजपा और कांग्रेस विदेशी चंदे  पर कानून का उल्लंघन करने का दोषी प्रथम दृष्टया  दोषी पाया गया था को  चुनौती देने वाली याचिका को वापस ले लिया है। 
दोनों ने केंद्र की कोर्ट में इस दलील के बाद याचिका वापस ली जिसमें कहा गया कि दोनों ने इस मामले में एफसीआरए का उल्लंघन नहीं किया है. दोनों पार्टियों की ओर से कोर्ट में कहा गया कि इस मामले में पहले ही कानून में 2010 में संशोधन कर दिया गया है।  इसके मुताबिक दोनों पार्टियों ने कोई उल्लंघन नहीं किया है। 

विदेशी चंदा मामले में दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले के ख़िलाफ़ कांग्रेस और बीजेपी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की है. दोनों पार्टी ने इस मामले में कानून के तहत जांच कराने के हाई कोर्ट के आदेश पर तत्काल अंतरिम रोक लगाने की भी मांग की थी। 

दिल्ली हाई कोर्ट ने गैर-सरकारी संगठन एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कांग्रेस और भाजपा को मिले विदेशी चंदे पर सरकार और चुनाव आयोग को कानून के मुताबिक छह महीने के भीतर कार्रवाई करने का आदेश दिया था। 

यह मामला वेदांता कंपनी से चंदा लेने से जुड़ा हुआ था।  चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि उसके पास ऐसे मामलों की जांच कराने का अधिकार नहीं है। 

यह भी पढ़े: नाक में क्यों होते है दो छेद? जाने वजह

यह भी पढ़े: नोटबंदी के बीच आईएएस अफसरों ने सिर्फ 500 रूपये में रचाई शादी

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.