प्रधानमंत्री कौन से धन से चुनाव जीते, यह बताने से कतरा क्यों रहे हैं - गहलोत शिक्षक ने की छात्रा से छेड़खानी 'कहानी 2' के सेट पर विद्या बालन को हो गया था इनसे प्यार सुब्रमण्यम स्वामी को अयोध्या मसले में पक्षकार मानने से मुस्लिम बोर्ड का इन्कार विदेश में नौकरियां आउटसोर्स करने वाली कंपनियों पर 35 फीसदी कर लगाने की ट्रंप ने दी चेतावनी.. राहिल शरीफ बने बहुराष्ट्रीय इस्लामी आतंकवाद विरोधी बल के प्रमुख दक्षिण अफ्रीका ने पहली गोल्फ टेस्ट श्रृंखला में भारत को हराया.. जाधवपुर विश्वविद्यालय के मुख्य छात्रावास में फांसी पर लटका मिला छात्र चंद्रबाबू नायडू की रिश्तेदार दस लाख के पुराने नोटों के साथ पकड़ी गई जर्मन कोच: भारत हाकी विश्व कप में खिताब का प्रबल दावेदार.. महेश भट्ट की बेटी को है यह बीमारी... लूट की योजना बनाते चार गिरफ्तार सम्मेलन में भारत और अफगानिस्तान ने आतंक के मुद्दे पर पाक को घेरा.. सरताज अजीज को स्वर्ण मंदिर मे घुसने से मना किया तीन बार प्यार हुआ, उन्हें बदले में प्यार करने वाली कोई नहीं मिली: करन जौहर जयललिता को पड़ा दिल का दौरा शरीफ हैं ट्रंप से मिलने को इच्छुक, अगले महीने कर सकते हैं अमेरिका यात्रा जेल से पैरोल पर आने के बाद वापस न जाने का आरोपी गिरफ्तार मोदी के बाद अब केजरीवाल भी करेंगे परिवर्तन रैली इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे से पहले धोनी के लिये कोई मैच नहीं?
दिल्ली-जयपुर हाइवे पर फर्जी अफसर बन लूटे 1 करोड़ रूपये
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 09:07:38 AM
1 of 1

नई दिल्ली। दिल्ली के एक बड़े व्यापारी ने अपने कर्मचारी पर विश्वास करते हुए उसे एक करोड़ रुपये की पुरानी करंसी के साथ भीलवाड़ा भेजा। कर्मचारी को जब पता चला कि जिस कपड़े के रोल को उसे भीलवाड़ा पहुंचाने के लिये कहा गया है, उसमें एक करोड़ रुपये हैं तो उसका मन डोल गया। राजबीर नामक वह कर्मचारी जानता था कि यह पुराने नोट हैं और लूटने के बाद मालिक इसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं कराएगा। फिर उसने इस बात की जानकारी अपने दोस्तों को दी और तैयार हो गयी लूट की साजिश।

साजिश के अनुसार जब बस दिल्ली-जयपुर हाइवे पर धारूहेड़ा के निकट होटल झिलमिल के पास पहुंची तो आरोपियों ने बस के आगे स्विफ्ट कार लगा दी। उनके पास सीआईडी के फर्जी अफसर व कर्मियों के आईकार्ड थे। तलाशी के बहाने उन्होंने कपड़े के रोल में रखे नोट लिये और फरार हो गये। पुलिस ने कपड़े के रोल के साथ आये राजबीर को भी खोजना चाहा तो वह भी उनके साथ रफूचक्कर हो गया था। बदमाशों की गाड़ी रेवाड़ी के ही कसौला में मिली।  जैसे ही युवकों ने बंडल को अपने कब्जे में किया। 

बस कंडक्टर उदयभान ने इस पर ऐतराज किया तो उन्होंने उससे हाथापाई की और चारों बंडल लेकर रफूचक्कर हो गये। कंडक्टर ने इसकी शिकायत धारूहेड़ा थाना पुलिस को की तो सारी सच्चाई सामने आ गयी। पुलिस को कुछ देर बाद वारदात में प्रयोग की गयी कार कसौला थाना क्षेत्र के निखरी कट के निकट खड़ी हुई मिली। गाड़ी में एक मोबाइल फोन भी रखा हुआ था। पुलिस ने गाड़ी और फोन को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

वारदात से पुलिस के सामने कई सवाल खड़े हो गये। पहला यह कि आखिर स्विफ्ट कार बदमाशों की थी या फिर उसे भी लूटा गया था। दूसरा सवाल यह कि इतनी बड़ी रकम को कहीं व्यापारी ने अपने कर्मचारियों को देकर सफेद करने के लिए तो भीलवाड़ा नहीं भेजा था। पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार व्यापारी ने अपने कर्मचारी भीलवाड़ा निवासी राजबीर व एक अन्य को एक करोड़ रुपए की पुरानी करेंसी 1-1 हजार के नोट के बंडल के रूप में देकर दिल्ली से भीलवाड़ा जाने वाली अशोका ट्रैवर्ल्स की बस में बिठाया था।

रात करीब 9 बजे धारूहेड़ा के होटल के बाहर सारी वारदात को अंजाम दिया गया। कार में सवार 4 युवकों ने कार को बस के आगे लगाकर उसे रुकवा लिया और ड्राइवर-कंडक्टर से बस में अवैध शराब होने की बात कही। उन्होंने बस चालक मेहताब और कंडक्टर उदयभान को फर्जी आई कार्ड दिखाये। पूरी बस चेक करने के बाद वे बस की छत पर चढ़ गये। बस के ऊपर रखे कपड़े के रोल को देखकर उन्होंने चाकू से रोल को काट दिया जिसमें 4 बड़े-बड़े नोटों के बंडल निकले। सीआईडी का बताने वाले चारों युवकों ने बंडल को अपने कब्जे में ले लिया।

यह भी पढ़े: जिसके पैरो के निशान दिखे थे 6 महीने पहले उसी ने किया 6 किसानों का क़त्ल, आज भी नही हुआ खुलासा

यह भी पढ़े: जेब में रखे चीनी करेगा मोबाइल चार्ज ये है तरीका

यह भी पढ़े: जवाब नहीं ! चोरी के डर से घर को बना डाला लोहे का पिंजरा

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.