loading...
loading...
loading...
दैनिक राशिफल……27 जून, 2017 मंगलवार जेटली ने राज्य में जीएसटी लागू करने के लिए मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती सईद से आग्रह किया गोवा की राज्यपाल ने शाकम्भरी माता के दर्शन किए भागलपुर: श्रावणी मेला की तैयारी में जुटा स्वास्थ्य विभाग हम सबको गुरु चरणों से जुड़ जाना चाहिए: स्वामी धर्म सिंह भारत में क्रिकेट खेल साथ साथ धर्म भी प्रशासन की सख्ती के बावजूद फिर अवैध रूप से गर्भपात संकल्प कैंप में बच्चों को गुरुबाणी, गुरु इतिहास और रहित मर्यादा बारे जानकारी दी पेय पदार्थ के नाम पर दुकानदार परोस रहे है जहर भारत और विश्व के इतिहास में 27 जून की प्रमुख घटनाएं रेशा देवी ने कहा- युवाओं को नशे से दूर करने के लिए धर्म के साथ जोड़े दार्जिलिंग: भारी बारिश और बंद के माहौल में मुस्लिमो ने मनाया ईद-उल-फितर रमन शर्मा ने कहा- अापातकाल देश के इतिहास में काला दिन खाना खजाना प्रतियोगिता में महिलाओं ने दिखाया उत्साह कंडबाड़ी में NGO परिवर्तन द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन बालड़ी रक्षक योजना ने तोडा दम स्वास्थ्य को लेकर महिलाओं का उदासीन रवैया इफ्तार पार्टी है नौटंकी, इसकी हमे क्या जरूरत: गिरिराज सिंह 2018 से बदल सकता है वित्त वर्ष, इस साल नवंबर में पेश हो सकता है बजट WWC 2017: ऑस्ट्रेलिया का विजयी आगाज, इंडीज को दी 8 विकेट से शिकस्त
दिल्ली BJP के अध्यक्ष बने मनोज तिवारी
sanjeevnitoday.com | Wednesday, November 30, 2016 | 12:42:51 PM
1 of 1

नई दिल्ली। जनता पार्टी ने दिल्ली और बिहार में नेतृत्व परिवर्तन करने का निर्णय लिया है भारतीय। पार्टी ने दिल्ली में अब सतीश उपाध्याय के बाद गायक और सांसद मनोज तिवारी को प्रदेश बीजेपी का अध्यक्ष बना दिया गया है, वहीं बिहार में नित्यानंद राय को पार्टी की कमान दी गई है। उल्लेखनीय है कि दोनों ही राज्यों में पार्टी प्रमुखों का कार्यकाल पूरा हो चुका था और पार्टी ने नई नियुक्ति नहीं की थी। दोनों ही जगहों पर पद संभाल रहे नेता काम यथावत करते आ रहे हैं। अब पार्टी ने परिवर्तन का निर्णय लिया है।


बता दें कि पार्टी की केंद्रीय इकाई बिहार में पार्टी की हार के लिए सुशील मोदी, मंगल पांडे और नंद किशोर यादव को जिम्मेदार मानती रही है। इनकी तिकड़ी को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने हार के बाद तवज्जो नहीं दी। मंगल पांडे बिहार बीजेपी के अध्यक्ष हैं और अब नई घोषणा के बाद उनके लिए पार्टी का संकेत साफ है। बता दें कि विधायक दल के नेता के रूप में पार्टी ने नंद किशोर यादव को नहीं चुना। सुशील मोदी को राज्यसभा में भेजे जाने की अटकलें थी। लेकिन पार्टी नेतृत्व ने यह भी नहीं माना और नित्यानंद राय को राज्य से राज्यसभा में भेजा।

नित्यानंद राय जाति से यादव हैं और दबंग छवि के नेता हैं। चार बार विधायक का चुनाव जीत चुके हैं और अभी संसद में हैं। यह माना जाता है कि सुशील मोदी, नंद किशोर यादव और मंगल पांडे की टीम ने बिहार में हार के बाद सार्वजनिक रूप से जिम्मेवारी न लेकर एक तरह से हार का जिम्मा नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर डाल दिया था।

यह भी पढ़े: रातों रात करोड़पति बना यह गांव... जानिए इसकी वजह!

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े:सपने में भी कांपता था अकबर इस भारतीय योद्धा के नाम से ...

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: दुनिया के सबसे ठंडे महाद्वीप में पानी नहीं बल्कि बहता है खून, छिपे हैं कई राज

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.