loading...
एक्सपेरिमेंट करने के चक्कर में, कई बार खराब मेकअप में नजर आईं प्रियंका... खुशखबरी: जनधन खाताधारकों का मुफ्त बीमा पक्का Last Day: अमेजन इंडिया की ग्रेट इंडियन सेल, 15,999 रु में iphone, एप से 15 फीसदी Discount रालोद की 35 प्रत्याशियों की सूची जारी, छह प्रत्याशी जाट तो आठ मुस्लिम, सूची देखें! कर डाला ये अनूठा कारनामा इस फैन ने, अक्षय रह गई सकते में.... जानिए! मोदी के लीड रोल में कौन होंगे भाजपा के स्टार प्रचारक, ये दिग्गज बैठेंगे बाहर BCCI की गद्दी छोड़ने के बाद HPOA का अध्यक्ष पद सम्भालेंगे अनुराग ठाकुर तीन साल की बच्ची को हवश का शिकार बनाया... सिटी बसों में मैनुअल टिकट समाप्त, ईटीएम सिस्टम लागू क्रिकेट जगत में मची सनसनी, ग्लेन मैक्ग्राथ ने सचिन पर लगाया स्लेजिंग का आरोप दो पक्षों में मारपीट ... आपसी विवाद में युवक को गोली मारी... माही का जलवा बरकरार, कोहली की अनुपस्थिति में संभाला जिम्मा, निहारने लगे ईडन गार्डन मानव श्रृंखला के मुख्य समारोह में नन्हे बच्चों ने जीता लोगों का दिल बाप रे! ये शख्स है 800 बच्चो का बाप... नजीब अहमद मामला: रिश्तेदार से मांगी 20 लाख रुपये की फिरौती, आरोपी गिरफ्तार प. बंगाल: भीषण हमलों को अंजाम देने वाले लश्कर के 3 आतंकियों को सजा-ए-मौत सिंधु जल समझौते पर फिर बौखलाया पाक, किशनगंगा-रातले पनबिजली प्रोजेक्ट फौरन बंद करें भारत सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौत... सर्जिकल स्ट्राइक के बाद LOC क्रॉस करने वाले भारतीय जवान चव्हाण पाकिस्तान से रिहा
देश तोडऩे का प्रयास कर रही है 'ब्रेकिंग इंडिया ब्रिगेड'
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 07:06:34 PM
1 of 1

भोपाल। आजकल कुछ लोग देश को तोड़ने के सूत्र खोज रहे हैं। इस 'ब्रेकिंग इंडिया ब्रिगेड' का एजेंडा है कि कैसे देश को नुकसान पहुंचाया जाए। इसके लिए वह हर संभव प्रयास कर रहे हैं। लेकिन, उनका सफल होना असंभव है। क्योंकि, देश के सामान्य व्यक्ति के जीवन में भी राष्ट्रीयता प्रकट होती है। सामान्य लोग देश को एकसूत्र में बांधकर रखे हुए हैं। उन सामान्य लोगों के जीवन में कैसे राष्ट्र प्रकट होता है, इसी पर लोक मंथन में विमर्श होगा। उक्‍त उद्गार लोक मंथन आयोजन समिति के महासचिव जे. नंदकुमार ने लोक मंथन की पृष्ठभूमि में 'औपचारिक मानसिकता से मुक्ति' विषय पर आयोजित मीडिया विमर्श कार्यक्रम में व्‍यक्‍त किए।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

उन्होंने कहा कि जो देश को खंडित और नष्ट करने का सपना देखते हैं, उन्हें रवीन्द्रनाथ ठाकुर का एक कथन याद करना चाहिए। धर्म, पंथ, भाषा, जाति के नाम पर आपस के संघर्ष से यह देश एक दिन खत्म हो जाएगा, इस अवधारणा का विरोध करते हुए रवीन्द्रनाथ ठाकुर कहते थे कि भारत में विभिन्न पंथ और मत के लोग आपस में लड़कर समाप्त नहीं होंगे, बल्कि वह एक होने के सूत्र खोजेंगे। श्री नंदकुमार ने बताया कि भारत में जैसी विविधता है, वैसी दुनिया के किसी देश में दिखाई नहीं देती है। बाहर से देखने पर भारत भले ही एक नहीं दिखाई देता होगा, लेकिन अंदर से यह एक सूत्र में बंधा हुआ है। देश को एक सूत्र में जोड़ने वाली कड़ी लोक है। लोक मंथन इसी लोक पर केंद्रित है। उन्होंने बताया कि लोकमंथन 'राष्ट्र सर्वोपरि' की सघन भावना से ओतप्रोत विचारकों, अध्येताओं और शोधार्थियों के लिए संवाद का मंच है, जिसमें देश के वर्तमान मुद्दों पर विचार-विमर्श और मनन-चिन्तन किया जाएगा।

जे. नंदकुमार का यह भी कहना था कि 12 से 14 नवम्बर तक आयोजित होने वाले तीन दिवसीय लोक मंथन के दो हिस्से रहेंगे- मंच और रंगमंच। इसमें ज्यादातर भागीदारी 40 वर्ष तक के युवाओं की होगी। संगोष्ठी में मंच पर भाजपा के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष एवं राज्‍यसभा सांसद एवं मध्‍यप्रदेश भारतीय जनता पार्टी प्रभारी विनय सहस्‍त्रबुद्धे, मध्‍यप्रदेश राज्‍य संस्कृति मंत्री सुरेन्द्र पटवा भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रज्ञा प्रवाह के मध्यभारत प्रांत के सह संयोजक दीपक शर्मा ने किया।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.