23 सितम्बर को कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत 55.51 डॉलर रही मुंबई में पेट्रोल की कीमतों में हो रही वृद्धि के खिलाफ शिवसेना का प्रदर्शन, दो सांसद हिरासत में परिवार के साथ काजोल ने की दुर्गा पूजा, देखें तस्वीरें वीडियो: लड़का सरेआम कर रहा लड़की की पिटाई, इंसानियत को शर्मसार प्रद्युम्न मर्डर केसः CBI की टीम पहुंची रेयान स्कूल, शुरू हुई इनवेस्टिगेशन वीडियो: नई नवेली दुल्हन के इस डांस को देख आप चौंक जाएंगे वीडियो: पूनम पांडे की इन HOT अदाओं ने सोशल मीडिया पर मचाया तहलका वर्तमान आर्थिक हालात पर नहीं थी नोटबंदी की आवश्यकता: मनमोहन सिंह #LIVE वाराणसी: PM मोदी बोले- 2022 तक हर बेघर को देंगे घर इस तरह के पेड़ों को देख आप भी रह जाएंगे हैरान नहर में मिला माँ-बेटी का शव, असलियत आई सामने केरल के खेल मंत्री ने फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप का किया उद्घाटन अनोखा मंदिर: यहां फर्श पर सोते ही प्रेग्नेंट हो जाती हैं औरतें IT विभाग: छापेमारी में आयकर अधिकारी से पहले पहचान पत्र और वारंट की करे जांच Box Office: संजय दत्त की कमबैक फिल्म 'भूमि' ने की धीमी शुरआत, कमाए इतने करोड़ LIVE वाराणसी: PM नरेंद्र मोदी बोले- वोट बैंक के लिए काम करना कुछ लोगों का स्वभाव सार्क सम्मेलन की बैठक रद्द OMG: 101 वर्ष की उम्र में बुजुर्ग औरत ने दिया बच्चे को जन्म! LIVE वाराणसी: PM नरेंद्र मोदी - हमारे लिए दल से बड़ा देश है एयरटेल और टेलीनोर ने मिलाया हाथ
देश तोडऩे का प्रयास कर रही है 'ब्रेकिंग इंडिया ब्रिगेड'
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 07:06:34 PM
1 of 1

भोपाल। आजकल कुछ लोग देश को तोड़ने के सूत्र खोज रहे हैं। इस 'ब्रेकिंग इंडिया ब्रिगेड' का एजेंडा है कि कैसे देश को नुकसान पहुंचाया जाए। इसके लिए वह हर संभव प्रयास कर रहे हैं। लेकिन, उनका सफल होना असंभव है। क्योंकि, देश के सामान्य व्यक्ति के जीवन में भी राष्ट्रीयता प्रकट होती है। सामान्य लोग देश को एकसूत्र में बांधकर रखे हुए हैं। उन सामान्य लोगों के जीवन में कैसे राष्ट्र प्रकट होता है, इसी पर लोक मंथन में विमर्श होगा। उक्‍त उद्गार लोक मंथन आयोजन समिति के महासचिव जे. नंदकुमार ने लोक मंथन की पृष्ठभूमि में 'औपचारिक मानसिकता से मुक्ति' विषय पर आयोजित मीडिया विमर्श कार्यक्रम में व्‍यक्‍त किए।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

उन्होंने कहा कि जो देश को खंडित और नष्ट करने का सपना देखते हैं, उन्हें रवीन्द्रनाथ ठाकुर का एक कथन याद करना चाहिए। धर्म, पंथ, भाषा, जाति के नाम पर आपस के संघर्ष से यह देश एक दिन खत्म हो जाएगा, इस अवधारणा का विरोध करते हुए रवीन्द्रनाथ ठाकुर कहते थे कि भारत में विभिन्न पंथ और मत के लोग आपस में लड़कर समाप्त नहीं होंगे, बल्कि वह एक होने के सूत्र खोजेंगे। श्री नंदकुमार ने बताया कि भारत में जैसी विविधता है, वैसी दुनिया के किसी देश में दिखाई नहीं देती है। बाहर से देखने पर भारत भले ही एक नहीं दिखाई देता होगा, लेकिन अंदर से यह एक सूत्र में बंधा हुआ है। देश को एक सूत्र में जोड़ने वाली कड़ी लोक है। लोक मंथन इसी लोक पर केंद्रित है। उन्होंने बताया कि लोकमंथन 'राष्ट्र सर्वोपरि' की सघन भावना से ओतप्रोत विचारकों, अध्येताओं और शोधार्थियों के लिए संवाद का मंच है, जिसमें देश के वर्तमान मुद्दों पर विचार-विमर्श और मनन-चिन्तन किया जाएगा।

जे. नंदकुमार का यह भी कहना था कि 12 से 14 नवम्बर तक आयोजित होने वाले तीन दिवसीय लोक मंथन के दो हिस्से रहेंगे- मंच और रंगमंच। इसमें ज्यादातर भागीदारी 40 वर्ष तक के युवाओं की होगी। संगोष्ठी में मंच पर भाजपा के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष एवं राज्‍यसभा सांसद एवं मध्‍यप्रदेश भारतीय जनता पार्टी प्रभारी विनय सहस्‍त्रबुद्धे, मध्‍यप्रदेश राज्‍य संस्कृति मंत्री सुरेन्द्र पटवा भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रज्ञा प्रवाह के मध्यभारत प्रांत के सह संयोजक दीपक शर्मा ने किया।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.