यहां लुक नही है मायने, है एक-दूसरे से बिल्कुल अलग फिर भी है साथ, ऐसे है यह कपल..! 7वां वेतन आयोग: बढ़ेगा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता और एचआरए..! यूपी चुनाव में सबसे खूबसूरत उम्मीदवार, जो है काफी चर्चा में, तस्वीरें वायरल यहां बीमारी से पीड़ित लोगों को किडनैप कर, उनकी बॉडी पार्ट्स से बनाई जाती हैं दवाइयां..! संभल मे दस वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, पुलिस मामला दबाने मे जुटी मुख्यमंत्री को जब स्कूली बच्चों ने ’शिक्षक’ बनकर पढ़ाया... ट्रेन से कटकर वृद्ध की मौत गोमती नदी में डूबा छात्र, हंगामा नोटबंदी राष्ट्रहित में एक बड़ा फैसला : मनोज सिन्हा संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, दहेज हत्या का आरोप शेयर बाजार में आई तेजी, सेंसेक्स में 100 अंकों का उछाल सपा-बसपा ने राजनीति में फैलाया कीचड़, अब खिलेगा कमल: राजनाथ मुख्यमंत्री के साथ दिव्यांग बच्चों ने साझा किए अपने बड़े सपने एक साल में 82000 धनाढ्यों ने छोड़ा देश पुलिस व सीआरपीएफ ने डकैत को दबोचा विजय माल्या को भारत लाने की मुहिम तेज एचआईएल : रांची ने मेजबान दिल्ली को 6-2 से हराया झांसा देकर शादीशुदा का यौन शोषण 19 वाहन प्रदूषण जांच केन्द्रों की मान्यता रद्द ओवैसी ने भाजपा पर मुसलमानों से भेदभाव का लगाया आरोप
काला धन रखने वालों को एक और मौका, कराधान विधि दूसरा संशोधन विधेयक पारित..
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 04:24:43 PM
1 of 1

नई दिल्ली। लोकसभा में आज विपक्ष के हंगामे के बीच बिना चर्चा के कराधान विधि :दूसरा संशोधन: विधेयक ध्वनिमत से पारित हो गया जिसमें कालाधन रखने वालों को एक और मौका देते हुए नोटबंदी के बाद जमा राशि की घोषणा पर कर, जुर्माना तथा अधिभार के रूप में कुल 50 प्रतिशत वसूली का प्रस्ताव किया गया है। वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कल आयकर कानून में संशोधन के लिये लोकसभा में एक विधेयक पेश किया था। यह आयकर अधिनियम, 1961 और वित्त अधिनियम, 2016 का और संशोधन करने वाला विधेयक ‘धन विधेयक’ है।

सदन में विपक्ष के हंगामे के बीच स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ‘‘ यह सार्वजनिक महत्व वाला विधेयक है। मैं चाहती थी कि इस पर विस्तार से चर्चा हो। मौजूदा स्थिति में चर्चा संभव नहीं लगती। इसलिए मैं विधेयक पर सीधे मत विभाजन करा रही हूं।’’ विधेयक के बारे में वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि सरकार आयकर अधिनियम में संशोधन लाई है। इसमें प्रावधान है जो लोग अपना अघोषित धन बैंक में जमा कर उसकी जानकारी देते हैं तो उन्हें 50 प्रतिशत कर, जुर्माना और अधिभार अदा करना होगा। 25 प्रतिशत राशि उन्हें तत्काल मिल जाएगी और शेष 25 प्रतिशत राशि चार साल बाद मिलेगी।

जेटली ने कहा कि जो लोग गैरकानूनी तरीके से अघोषित धन रखते पाये गये उन्हें 85 प्रतिशत कर और हर्जाना देना होगा। उन्होंने कहा कि इससे सरकार को साधन मिलेंगे जिनसे विकास कार्य हो सकेंगे। प्रधानमंत्री ने इसी संबंध में गरीब कल्याण कोष की भी घोषणा की है। विपक्षी सदस्यों के हंगामे के बीच भर्तृहरि महताब, एन के प्रेमचंद्रन, के सी वेणुगोपाल के विभिन्न संशोधनों को नामंजूर करते लोकसभा में कराधान विधि :दूसरा संशोधन: विधेयक 2016 को ध्वनिमत से मंजूरी मिल गई।

विधेयक में प्रस्ताव किया है कि इस अवधि में धन जमा कराने वालो के बारे में यदि यह साबित हुआ कि उन्होंने काला धन रखा है तो उनसे अधिक उंची दर और कड़े जुर्माने के साथ कुल 85 प्रतिशत की दर से वसूली की जाएगी।

यह भी पढ़े: यहां पर हवाई सफर से भी महंगा है बैलगाड़ी का किराया!

यह भी पढ़े: जिंदगी भर के लिए छिन गयी इस लड़की की हंसी... पढ़ना ना भूले

यह भी पढ़े: ये लड़की बिलकुल सामान्य थी 10 साल तक और अब..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.