किसानों को मिलेगा फायदा, जीएसटी के तहत उर्वरकों कीमतों में आई कमी प्रो कबड्डी लीग: यू-मुंबा ने यूपी योद्धा को 37-34 से दी मात प्रेगनेंसी में सोहा को इस तरह हेल्दी गिफ्ट्स भेज रही हैं भाभी करीना कोटा में अभय कमाण्ड सेंटर का हुआ उद्घाटन, स्मार्ट बनी राजस्थान पुलिस छात्रा की गला घोटकर कर दी हत्या, आरोपी को किया गिरफ्तार 15 साल के इस लड़के की फेरारी कार देख एक्साइटेड हुए सलमान कोच विमल कुमार ने कहा- साइना नेहवाल के लिए सुर्खियों से दूर रहना ठीक अकमल ने कोच आर्थर पर लगाया दुर्व्यवहार का आरोप, PCB ने दिया नोटिस शहरी व ग्रामीण इलाकों में अब मिलेगा एक समान केरोसीन फिल्म 'जुडवां 2' का नया पोस्‍टर हुआ जारी, इस दिन रिलीज होगा फिल्म का ट्रेलर शूटिंग रेंज में ततैयों का हमला, शूटर लवलीन कौर घायल मेट्रो में सफर करने वाली एक युवती का बनाया वीडियो, आरोपी के खिलाफ दर्ज FIR कोटा का हवाई सपना साकार, कोटा से जयपुर इंट्रा स्टेट हवाई सेवा शुरू अवार्ड के लिए कई कोचों की सिफारिश करने वाले एथलीट हो दंडित: अखिल MI के फ़ोन में फिर हुआ धमाका, पूरा परिवार सदमे में बोल्ड ड्रेस में डायरेक्टर के पास पहुंची सारा, इस फिल्म से करेगी बॉलीवुड में डेब्यू पद्म पुरस्कारों के लिये नामांकन की अंतिम तारीख 15 सितंबर नोटों को बिस्तर पर बिछाकर ये बॉक्सर करता है नींद पूरी अगर आपको आधार कार्ड में कुछ अपडेट करने है तो ये तरीके अपनायें राजस्थान को बनाना होगा खुले में शौच से मुक्त: राजेंद्र राठौड़
भुवनेश्वर: अस्पताल में लगी भीषण आग, 24 लोगों की मौत, कई झुलसे
sanjeevnitoday.com | Tuesday, October 18, 2016 | 07:29:19 AM
1 of 1

भुवनेश्वर। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर के एक निजी अस्पताल में सोमवार रात भड़की आग में 24 लोगों की मौत हो गई। बड़ी संख्या में मरीज और तीमारदार झुलस गए हैं। आग पर काबू पा लिया गया है। माना जा रहा है कि आग चार मंजिले सम अस्पताल के प्रथम तल पर स्थिति डायलिसिस वार्ड में बिजली की शॉर्ट सर्किट से लगी। तेजी से फैली आग ने बगल में स्थित आइसीयू को भी चपेट में ले लिया।
 
JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166
 
जिस समय आग लगी, अस्पताल में करीब 500 मरीज मौजूद थे। स्वास्थ्य सचिव आरती आहुजा के मुताबिक फिलहाल स्पष्ट तौर पर कहा नहीं जा सकता है कि कितने लोगों की मौत हुई है। दूसरी ओर कैपिटल अस्पताल के अधीक्षक बिनोद कुमार मिश्रा ने बताया है कि उनके यहां लाए गए लोगों में नौ की पहले ही मौत हो चुकी थी। जबकि पांच की हालत अत्यंत गंभीर है। आम्री अस्पताल के यूनिट हेड डॉ. सलिल कुमार मोहंती ने बताया है कि उनके यहां कैजुअलिटी वार्ड में 37 मरीज लाए गए थे। जिनमें आठ को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया है। आग की चपेट में आए लोगों में ज्यादातर आइसीयू के मरीज हैं। मामले पर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने गहरा शोक व्यक्त किया है और मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के आदेश दे दिए हैं।
 
पीएम ने एम्स भेजने को कहा
हादसे की खबर मिलने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा से बात की और सभी जख्मी लोगों को एम्स में शिफ्ट कराने की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान से बात कर घायलों व अन्य प्रभावितों को हर संभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। प्रधानमंत्री ने हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि उनकी संवेदनाएं पीडि़त परिवारों के साथ है।
 
शॉर्ट सर्किट से लगी आग
अग्नि शमन विभाग के निदेशक बी. बेहरा ने बताया है कि आग पर काबू पाने के लिए तीन फायर स्टेशनों के कर्मचारियों और सात अग्निशमन गाडि़यों को लगाया गया था। पुलिस आयुक्त दफ्तर और अस्पताल के कर्मचारी आग पर काबू पाने में काफी मददगार साबित हुए। बेहरा ने बताया कि प्रथम दृष्टया लगता है कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी। लेकिन वास्तविक कारण का पता विस्तृत जांच के बाद ही चल सकेगा। गंभीर हालत वाले मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करने के लिए एक दर्जन से ज्यादा एंबुलेंस को लगाया गया।
 
खिड़कियां तोड़कर कूदे मरीज
एक प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक काफी संख्या में मरीज खिड़कियों के शीशे तोड़कर कूद गए और अपनी जान बचाई। ज्योति प्रकाश नामक शख्स के पिता अस्पताल में भर्ती हैं। ज्योति प्रकाश ने बताया-'मैंने पहली मंजिल से कूदकर अपनी जान बचाई। मेरे पिता के साथ क्या हुआ, मालूम नहीं। चारों तरफ धुआं के कारण कुछ पता नहीं चल पा रहा है।


FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.