ओवैसी ने भाजपा पर मुसलमानों से भेदभाव का लगाया आरोप सिंगापुर पर्यटन की बेस्ट प्रेक्टिसेज साझा करने के लिये दो दिवसीय कार्यशाला की हुई शुरूआत मतदाताओं को पैसा बांटते हुए राकांपा के 13 कार्यकर्ता गिरफ्तार RBI नहीं जानता कितने खातों में जमा हुए 2.5 लाख से ज्यादा आईएस के खिलाफ लड़ाई में इराक को पूरा समर्थन देगा अमेरिका विधि विज्ञान प्रयोगशाला को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का उत्कृष्ट केन्द्र बनाने के प्रयास : गृहमंत्री छत्तीसगढ़: दो छात्रों और दो शिक्षकों वाला स्कूल उपराज्यपाल ने वायु प्रदूषण पर दिए सख्त निर्देश सीआरपीएफ के कमांडिंग अधिकारी 'चेतन चीता' की हालत में सुधार बैंक कर्मचारी ने फांसी लगाकर दी जान पाक सरकार ने हाफिज को दिया झटका, 44 हथियारों के लाइसेंस किये रद्द महिला आर्थिक सशक्तिकरण पर यूएन हाईलेवल पैनल की रिपोर्ट VIDEO: जानिए कैसे बनें जियो की प्राइम मेंबरशिप का हिस्सा लखनऊ और नागपुर को 15 दिन में मिली मेट्रो, तो फिर पटना पीछे क्यों? रियल एस्‍टेट सेक्‍टर का भविष्‍य किफायती आवास में निहित है: वेंकैया नायडू हाफिज को आतंकी बताकर बुरे फंसे पाक रक्षामंत्री, पाक नेताओं ने बताया 'भारत का प्रवक्‍ता' चौथे चरण के प्रचार का शोरगुल थमा, 12 जनपदों की 53 सीटों के लिये गुरूवार को मतदान VIDEO: जियो को टक्कर देने के लिए एकजुट हो सकती है ये कंपनियां मनपा मतदान से गायब रहा बॉलीवुड, कई सितारों ने डाले वोट VIDEO:रिलायंस JIO ग्राहकों के लिए खास ऑफर प्राइम मेंबर्स की घोषणा, जानिए 10 मुख्य बातें
सेना की तैनाती से सीएम ममता नाराज, नवान्न में काटी रात
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 01:11:23 PM
1 of 1

कोलकाता। पूरे राज्य में सेना की तैनाती का सीएम ने कड़ा विरोध जताया है और इसी सिलसिले में उन्होंने सचिवालय नवान्न में पूरी रात काटी। मुख्यमंत्री ने इसे सेना की दादागीरी बताया। उन्होंने कड़े शब्दों में सेना को चेतावनी दी कि सेना जब तक अपने फैसले को वापस नहीं लेती तब तक वे नवान्न नहीं छोड़ेंगी। उन्होंने केन्द्र पर बदले की राजनीति का भी आरोप लगाया और कहा कि केन्द्र संघीय ढांचे को नष्ट करना चाहता है।

दूसरी ओर रक्षा मंत्रालय ने एक बार फिर पूरे राज्य में सेना की तैनाती का कारण स्पष्ट कर दिया। रक्षा मंत्रालय की ओर से यह स्पष्ट किया गया है कि पश्चिम बंगाल व पूर्वी राज्यों में सेना की रूटिन प्रक्रिया चल रही है। इसके 28 नवम्बर से ही शुरू होने का बात थी लेकिन पुलिस के अनुरोध के कारण इसे एक दिसम्बर से शुरू करने का फैसला लिया गया। राज्य के सभी टोल प्लाजा पर पांच-दस सेना के जवान तैनात किए गए हैं हालांकि उनके पास हथियार नहीं हैं। वे गाड़ी के नम्बर संबंधी तथ्य हासिल कर रहे हैं। 

रक्षा मंत्री की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि नवान्न टोल प्लाजा से वाहन संबंधी तथ्यों को संग्रह करने के बाद सेना के जवान कहीं भी तलाशी अभियान चला सकते हैं। सभी पूर्वी राज्यों में यह अभियान चलेगा। इसके पहले सीएम ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि राज्य को अंधेरे में रखकर सेना को तैनात किया गया है। उन्होंने सेना पर दादागीरि करने का आरोप लगाया। वहीं सेना की तैनाती से बने हालात पर चर्चा के लिए नवान्न में सीएम की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय बैठक जारी है।

यह भी पढ़े: नोटबंदी से परेशान व्यक्ति ने मुंडवाया सिर, जला दिए 23000

यह भी पढ़े: 300 मेहमानों के बीच पसंद नही आया सांभर तो तोड़ दी शादी

यह भी पढ़े: नन्ही सी जान को नया जीवन दिया सलमान ने, इलाज के लिए दिए 1 करोड़

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.