संजीवनी टुडे

News

सिलाई सेंटर की आड़ में चल रहा था जिस्म का कारोबार

Sanjeevni Today 18-10-2016 09:57:49

नई दिल्ली। सिलाई सेंटर की आड़ में चल रहे देह व्यापार के गैरकानूनी धंधे का पुलिस ने पर्दाफाश कर तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है। शोषण की शिकार महिला संध्या की शिकायत पर पुलिश ने छापेमारी की। पुलिस कप्तान मनोज कुमार ने बताया कि सिलाई सेंटर संचालक गुंजन चौबे और संतोष चौबे के रहन सहन और ठाठ से नहीं लगता कि सिलाई सेंटर से इनका गुजरा निकलता है। उन्होंने बताया कि मोहल्लेवालों को शक न हो इसलिए एक बार में एक ही औरत को कमरे में रखा जाता था। घर से विदेशी शराब की खाली बोतलें, ताकत बढ़ाने की दवा, बैंक पासबुक, पैन कार्ड बरामद किए गए है।

 JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

पीड़ित लड़की ने एसपी को घटना की बात बताई। पीड़ित लड़की की शादी के कुछ महीने बाद ही पति ने उसे छोड़ दिया। दोबारा उसकी शादी एक लड़के से हुई जो पटना में टाईल्स लगाने की ठेकेदारी करता था। पीड़ित लड़की को पटना के राजवंशी नगर में एक महिला के पास झोपड़ी में रखा गया, लेकिन वहां हो रहे गलत काम को देख कर पीड़ित ने रहने से मना कर दिया। फिर महिला उसे बाजार घुमाने का बहाना बना पोस्टल पार्क स्थित संजय नाम के आदमी के घर ले गई और वहां पर संजय, सोनी और मणिकांत तीन व्यक्ति मौजूद थे। तीनों ने जबरन उसे हवस का शिकार बनाया और उसके बाद पुलिस का डर दिखा शोषण करते रहे। 

वरीय पुलिस अधिक्षक का कहना हैं कि उसके बाद मणिकांत उसे रांची ले गया और वहां भी शारीरिक शोषण किया। उसके बाद भागलपुर सिलाई सेंटर के हवाले कर दिया। मणिकांत उर्फ धन्नो बांका के शंभुगंज का वाशिंदा है और अपने को किसी चैनल का पत्रकार बताता है। उसने युवती को 30 हजार में खरीदने की बात बताई। रांची में वह उसे रजनीकांत पांडे के घर ले गया था। वहां भी उसका शोषण किया गया। भागलपुर पुलिस मणिकांत की तलाश में जुटी है। एसएसपी बताते हैं कि उसके दूसरे पति के खिलाफ ऐसे आरोप में पटना पुलिस पहले भी मामला दर्ज कर चुकी है। शास्त्रीनगर पटना थाने की पुलिस कोर्ट में शिकार महिला का बयान दर्ज करा उसे पटना ले जाएगी। 

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

Watch Video

More From national

Recommended