चोटिल साहा को आराम, चौथे टेस्ट में भी टीम का हिस्सा बने रहेंगे पार्थिव पर्ल हार्बर पर माफी नहीं मांगेंगे जापान के PM लखनऊ रैली में मायावती ने अखिलेश पर साधा निशाना, बोलीं - अभी बबुआ है अखिलेश Lenovo के इस लैपटॉप पर मिलेगी भारी छूट LG ने भारत में लॉन्च किया 54,999 का फ्लैगशिप स्मार्टफोन तकनीकी खराबी के कारण वापस लौटा राष्ट्रपति को चेन्नई ले जा रहे विमान वनडे और टी-20 के लिए इंग्लैंड टीम घोषित, मोर्गन, हेल्स की वापसी कटरीना की इस बात से डरती है परिणीति 2017 में लॉन्च होगी मर्सिडीज बेंज की यह नई कार नोटबंदी के जनप्रभाव को कम करने के लिए 'महा वॉलेट' बना रही है महाराष्ट्र सरकार Sanjeevni Today: Top Stories of 1pm पाक में 4 कट्टर आतंकियों की मौत की सजा पर लगी मुहर 2020 तक 60 करोड़ लोग यूज़ करेंगे इंटरनेट हिरासत से बचने के लिए दरगाह में ली पनाह,फिर भी गिरफ्तार हुए यासीन मलिक पेटीएम वॉलेट बहुत जल्द बन सकता है बैंक का हिस्सा अब आप पोस्ट ऑफिस में भी कर सकेगें पासपोर्ट के लिए आवेदन अक्षय ने किया भूमि के साथ टेंपो में रोमांस गुजरात हाईकोर्ट ने रिजर्व बैंक से पूछा, किस अधिकार के तहत निकासी पर लगाई रोक सुलतानपुर में स्कूल का छज्जा गिरा, 2 दर्जन बच्चे घायल राष्ट्रपति जयललिता को आखिरी विदाई देने जाएंगे चेन्नई
DTC ने 8.15 करोड़ रूपये मूल्य के चलन से बाहर नोट बैंकों में जमा कराए, दिल्ली सरकार ने मामला ACB को सौंपा
sanjeevnitoday.com | Wednesday, November 30, 2016 | 12:00:06 AM
1 of 1

नयी दिल्ली: दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) के अधिकारियों ने आठ नवंबर और 20 नवंबर के बीच बैंकों में 8.15 करोड़ रपये मूल्य के चलन से बाहर नोट जमा कराए। एक जांच समिति ने अपनी प्राथमिक रिपोर्ट में यह बात कही। इसके बाद दिल्ली सरकार ने जांच के लिए मामले को एसीबी को सौंप दिया। परिवहन मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि डीटीसी के कुछ वरिष्ठ अधिकारी मामले में संलिप्त हो सकते हैं। यह संकेत देता है कि या तो उन्होंने डीटीसी के बैंक खातों में ‘रिश्वत में मिली रकम’ जमा की या उन्होंने ‘कमीशन’ हासिल करने के लिए ऐसा किया। गत 19 नवंबर को जैन ने डीटीसी के सीएमडी को आदेश दिया था कि वह उन आरोपों की विस्तृत जांच करें जिनमें कहा गया था कि डीटीसी के कुछ अधिकारी 500 और 1000 के पुराने नोट यात्रियों से मिले छोटे मूल्य के नोटों से बदल रहे हैं।

Image result for dtc acb

आगे की जांच के लिए दिल्ली सरकार...
जैन ने कहा, ‘‘सीएमडी ने अपनी प्राथमिक रिपोर्ट सौंप दी है। यह दर्शाती है कि आठ से 20 नवंबर के बीच चलन से बाहर हुए नोटों के रूप में बैंकों में आठ करोड़ 14 लाख 85 हजार 500 रपये जमा किए गए। इसमें एक हजार के 33 हजार 647 नोट और 500 के 95 हजार 677 नोट जमा किए गए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने परिवहन आयुक्त को मामले को आगे की जांच के लिए दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार निरोधी शाखा को सौंपने और मामले में शामिल होने के संदिग्ध अधिकारियों को तत्काल निलंबित करने को कहा है।’’

यह भी पढ़े: नोटबंदी के बीच आईएएस अफसरों ने सिर्फ 500 रूपये में रचाई शादी

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े: जिंदगी भर के लिए छिन गयी इस लड़की की हंसी... पढ़ना ना भूले

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.