loading...
आईपीएल-10 के ये दिग्गज भारतीय टीम के बन सकते है 'खतरनाक हथियार' तीन तलाक़ मसले पर AIMPLB ने हलफनामा दायर किया, कहा तीन तलाक़ बंद हो कश्मीरी युवक को जीप पर बांधने वाले प्रकरण की जांच करेगी जम्मू-कश्मीर सरकार चैंपियंस ट्रॉफी में इन दिग्गज खिलाड़ियों पर रहेगी खास नजर चांदनी चौक में 80 दुकानें जलकर हुई खाक आग बुझाने आई स्पेशल क्रेन पर चढ़ी विधायक,लगे मुर्दाबाद के नारे 'गदर-एक प्रेमकथा' के सामने कुछ भी नहीं 'बाहुबली 2': अनिल शर्मा स्पिनफैड की चार यूनिटें होगी बंद, 1,099 अधिकारी-कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृति के लिए स्वीकृति प्रदान की उदारवादी हसन रूहानी की जीत कितनी फायदेमंद है भारत-ईरान रिश्तों के लिए मुंबई इंडियंस की जीत पर फिदा हुए ट्रिपल एच ने बधाई के रूप में दिया यह तोहफा देर रात रेस्टोरेंट पर छापा सदिंग्ध अवस्था में मिले तीन युवक व चार युवतिया को किया गिरफ्तार भारतीय सेना के तीस सेकंड और PAK सेना की चौकियां तबाहः प्रियंका की 'बेबॉच' को भारतीय सेंसर बोर्ड ने 'A' सर्टिफिकेट के साथ दी हरी झंडी IPL10 : इस खिलाडी ने चुकाई पूरी कीमत, फाइनल खेलते तो बदल.... तारा शाहदेव केस:सास और पति ने धर्म परिवर्तन नहीं करने पर किया शारीरिक शोषण 2030 तक सड़कों पर दौड़ेगी इलैक्ट्रिक गाड़ियां, पेट्रोल-डीजल की गाड़ियां होगी बंद पाकिस्तान को डोनाल्ड ट्रम्प ने दिया बड़ा झटका, आर्थिक मदद को कर्ज में तब्दील करने का रखा प्रस्ताव राजस्थान आवासन मण्डल की गणित आर्यभट्ट की भी समझ से बाहर, जाने क्या है मामला ! मुंबई की विजेता नीता अंबानी ने दी ग्रैंड पाटी, पहुंचे कई सितारे 'सचिन ए बिलीयन ड्रीम्स' के लिए सचिन को बॉलीवुड सितारों ने दी शुभकामनाएं क्या वजह है अफ्रीकी देशों से पीएम मोदी की इतनी नजदीकी बढ़ाने की ?
US के साथ भारत ने किया 5000 करोड़ के होवित्जर तोप सौदे पर हस्ताक्षर
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 07:37:36 AM
1 of 1

नई दिल्ली। बोफोर्स घोटाले के बाद पैदा हुए गतिरोध को तोड़ते हुए भारत और अमेरिका ने बुधवार को 145 एम 777 हल्के हॉवित्जर की खरीद के लिए 5000 करोड़ रुपये के सौदे पर हस्ताक्षर किये। इन्हें चीन के साथ सीमा के निकट तैनात किया जाएगा। 1980 के दशक में हुए बोफोर्स घोटाले के बाद से तोपों की खरीद के लिए यह पहला सौदा है। सूत्रों ने बताया, ‘भारत ने आज स्वीकृति पत्र पर हस्ताक्षर किया जो इन तोपों के लिए भारत और अमेरिका के बीच अनुबंध को औपचारिक रूप देता है।’ सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने तकरीबन 5000 करोड़ रुपये की लागत से 145 हल्के हॉवित्जर तोपों की खरीद से संबंधित सौदे को हरी झंडी दे दी थी।

 

सौदे पर यहां शुरू हुई भारत-अमेरिका सहयोग समूह (एमसीजी) की दो दिवसीय बैठक में हस्ताक्षर किया गया। भारत-अमेरिका एमसीजी एक मंच है जिसकी स्थापना रणनीतिक और संचालन के स्तर पर एचक्यू इंटिग्रेटेड डिफेंस स्टाफ और अमेरिकी पैसिफिक कमान के बीच रक्षा सहयोग को बढ़ाने के लिए किया गया था। बैठक अमेरिकी सह-अध्यक्ष लेफ्टिनेंट जनरल डेविड एच बर्जर, कमांडर अमेरिकी नौसैनिक कोर बल, पैसिफिक के लेफ्टिनेंट जनरल सतीश दुआ, सीआईएससी, एचक्यू आईडीएस से मुलाकात के साथ शुरू हुई। एमसीजी बैठक की सह-अध्यक्षता एयर मार्शल ए एस भोंसले डीसीआईडीएस (ऑपरेशंस), एच क्यू आईडीएस ने की।

 

अमेरिकी रक्षा बलों का 260 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल और भारतीय पक्ष की तरफ से तीन सेनाओं के एचक्यू और एचक्यू आईडीएस के कई अधिकारी द्विपक्षीय कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं। एम 777 के मुद्दे पर सूत्रों ने बताया कि भारत ने अमेरिकी सरकार को एक अनुरोध पत्र भेजा था जिसमें तोपों की खरीद को लेकर दिलचस्पी जताई गई थी। इन तोपों को अरूणाचल प्रदेश के उंचाई वाले क्षेत्रों और चीन की सीमा से लगे लद्दाख के क्षेत्र में तैनात किया जाएगा। अमेरिका ने स्वीकृति पत्र के साथ इसका जवाब दिया था और रक्षा मंत्रालय ने जून में सौदे की शर्तों पर गौर किया और इसे मंजूरी दे दी। जहां 25 तोप भारत में तैयार अवस्था में आएंगी, वहीं शेष तोपों को महिंद्रा के साथ भागीदारी में भारत में स्थापित किए जाने वाली हथियार प्रणाली के लिए असेंबली इंटिग्रेशन एंड टेस्ट फैसिलिटी में जोडकर तैयार किया जाएगा।

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े: यहां पर तैयार किया जा रहा है दुनिया का सबसे ऊंचा धार्मिक स्थल

यह भी पढ़े: कहीँ गधे पर तो कही बीच पर है लाइब्रेरी ... पढ़िए कुछ अजीब लाइब्रेरी

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.