loading...
loading...
loading...
श्रीनगर: जामा मस्ज़िद के बाहर डीएसपी हत्या मामले में एसआईटी गठित, तीन और गिरफ्तार नरोत्तम मिश्र को EC ने किया अयोग्य घोषित, जा सकते है हाईकोर्ट T20 क्रिकेट: जेसन रॉय के नाम हुआ ये शर्मनाक वर्ड रिकॉर्ड दर्ज एक जुलाई से देश में जीएसटी लागू होने पर व्यापारियों ने पूछे सवाल इस लेडी टीचर ने स्‍टूडेंड और टीचर के पवित्र रिश्ते को किया कलंकित, स्‍टूडेंड से बनाये शारीरिक संबंध वीडियो: राखी सावंत ने अम्बानी को अपने पाप धोने का बताया रास्ता वीडियो: युवक ने की भीड़ के सामने औरत की निर्ममता से पिटाई इस साल चाइना में रिलीज होगी 'सुल्तान', क्या दे पाएगी 'दंगल' को टक्कर? एक ऐसा गांव जिसकी परम्परा को सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग चीन में भूस्खलन में दबे लोगो की संख्या बढ़कर हुई 141 सरकार, ट्राई के बीच नीतिगत मुद्दों पर विचार विमर्श पुलिस में होना चाहता था भर्ती, फिजीकल टेस्ट की तैयारी करते वक्त हुई मौत बुलंदशहर में 'लेडी पुलिस सिंघम' ने नियम तोड़ने पर BJP नेता को लगाई फटकार OMG: जुहू का अपना घर छोड़ गोरेगांव के होटेल में शिफ्ट हो गए है शाहिद ये है दुनिया के सबसे खतरनाक ब्रिज, यहां चलना खतरे से नहीं है खाली शहीद पिता को मुखाग्नि देते वक़्त खूब रोया 1 साल का बेटा Snapdeal दे रहा है इन ऑफर्स पर भरी डिस्काउंट महिला को प्यार का झांसा देकर लुटे एक करोड़ रुपए कर्नाटक लोक सेवा आयोग ने निकाली टीचर की भर्ती, आज ही करे ऑनलाइन आवेदन राष्ट्रपति चुनावों की तैयारियों को लेकर रविवार को लखनऊ पहुंचेंगे कोविंद
थायराइड की दवा लेने में नहीं बरते लापरवाही, हो सकती है ये परेशानियां
sanjeevnitoday.com | Sunday, June 18, 2017 | 03:41:57 AM
1 of 1

जब आपको पता चलता है कि आपको थॉयराइड है, तो डॉक्टर आपको एक दवा देता है. इस दवा के सेवन से फायदा महसूस होने पर अक्सर लोग इसे अनदेखा भी करने लगते हैं. यह दवा नि‍यमित लेनी होती है, लेकिन अगर इसे लेने में लापरवाही बरती जाए तो यह कई परेशानियों को जन्म दे सकती है-

थायराइड, इस समय भारत में बहुत तेजी से फैल रहा है. भारत में थायरॉइड के मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है. हाल ही में डायग्नोस्टिक चेन एसआरएल द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक 32 फीसदी भारतीय थायरॉइड से जुड़ी कई तरह की बीमारियों के शिकार हैं. थायरॉइड से संबंधित सबसे आम बीमारी 'सबक्लिनिकल हाइपोथायरॉइडिज्म' है, जिसका पता लोगों को आमतौर पर नहीं चल पाता. हाइपोथॉयराइडिज्म का मंद रूप सबक्लिनिकल हाइपोथॉयराइडिज्म है, जो देश में थॉयराइड का सबसे आम विकार है और इसका निदान बिना चिकित्सा जांच के संभव नहीं है. 

जब आपको पता चलता है कि आपको थॉयराइड है, तो डॉक्टर आपको एक दवा देता है. इस दवा के सेवन से फायदा महसूस होने पर अक्सर लोग इसे अनदेखा भी करने लगते हैं. यह दवा नि‍यमित लेनी होती है, लेकिन अगर इसे लेने में लापरवाही बरती जाए तो यह कई परेशानियों को जन्म दे सकती है- 


थकान
अगर आप अपनी दवा को नियमित नहीं लेंगे, तो आपको शरीर में थकान महसूस हो सकती है. कम काम करने के बाद भी ऐसा लगता है जैसे आपने बहुत काम किया हो और आप बहुत थके हुए हों. कई बार इसी वजह से बुखार भी हो जाता है. 
 
तनाव
थायराइड  की दवा को नियमित न लेने या ले कर छोड़ देने से आप तनाव की जकड़ में आ सकते हैं. अक्सर थइरायड के मरीज को बिना वजह के ही तनाव महसूस होता है और वे बिन वजह छोटी-छोटी बातों पर टेंशन ले लेते हैं. 

ब्लड प्रैशर
थायराइड  की दवा सेवन नियमित करना पड़ता है, लेकिन अगर आप इसे अनियमित रूप से लेने पर यह नुकसानदायक हो सकती है. ऐसा करने से ब्लड प्रैशर पर असर हो सकता है. यह कम या ज्यादा हो सकता है. 

याद्दाश्त
अगर आपको थायराइड  है और आप हर बात भूल जाते हैं, तो इसका दोष अपनी कमजोर याददाश्त को न दें. कई बार सही दवा का चयन न होने के चलते या दवा का नियमित सेवन न होने के चलते यह समस्या पैदा हो जाती है. ऐसे में अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें. 

बुखार
 थायराइड  की दवा को नियमित रूप से लेना बहुत जरूरी है. अगर आप इसे नियमित नहीं लेंगे तो इससे बुखार होना या उतना जैसी समस्याएं हो सकती हैं. थायराइड  की दवा हारमोन संतुलित रखने में मदद करती है ऐसे में अगर आप इस नियमित नहीं करेंगे, तो हारमोन में उतरा चढ़ाव के चलते शरीर में कई परेशानियां हो सकती हैं. इनमें बुखार का चढ़ना-उतरना भी एक है.



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.