संजीवनी टुडे

News

आधार कार्ड की अनिवार्यता तिथि में बढ़ोतरी

Sanjeevni Today 07-12-2017 03:37:00

नई दिल्ली। सरकार ने उच्चतम न्यायालय में कहा है कि सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए आधार कार्ड की अनिवार्यता की तिथि अगले वर्ष 31 मार्च तक बढ़ायेगी। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सरकार की तरफ से अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने जानकारी दी कि सरकार बैंकिंग समेत 139 सेवाओं को आधार से जोड़ने की समय सीमा को 31 दिसंबर से बढ़ाकर 31 मार्च करने जा रही है, लेकिन साथ यह भी साफ किया कि यह सिर्फ उन लोगों के लिए होगी जिनके आधार कार्ड नहीं बने हैं। दूसरी तरफ याचिकाकर्ता की ओर से पेश हुए वकील श्याम दीवान ने चीफ जस्टिस से मसले की जल्द सुनवाई की मांग की, चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने याचिकाकर्ता को आश्वस्त किया कि सुप्रीम कोर्ट की संविधान बेंच अगले हफ्ते इस मामेले पर सुनवाई करेगी।

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की पीठ के समक्ष महाधिवक्ता के के वेणुगोपाल ने आधार को सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के मामले में जरुरी किए जाने पर सरकार का पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि आधार कार्ड को जरुरी बनाने जाने पर अब रोक लगा पाना संभव नहीं है क्योंकि कई साल बीत गए हैं और अब सरकार इस दिशा में काफी आगे बढ़ चुकी है। वेणुगोपाल ने इस मसले पर सरकार के बहस करने के लिए तैयार होने की बात कहते हुए कहा कि आधार को जरुरी बनाने की अंतिम तिथि अगले वर्ष 31 मार्च तक बढ़ायी जायेगी। 

केन्द्र सरकार आधार की अनिवार्यता की अंतिम तिथि बढ़ाने के संबंध में कल अधिसूचना जारी करेगी. फिलहाल अंतिम तिथि इस वर्ष के अंत तक थी। उच्चतम न्यायालय ने आधार कार्ड की अनिवार्यता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान कहा कि इस पर सुनवाई के लिए संवैधानिक पीठ गठित की जायेगी। न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा कि अगले सप्ताह न्यायालय पांच सदस्यीय संविधान पीठ का गठन करेगी जो इससे जुडी याचिकाओं पर सुनवाई करेगी। गौरतलब है कि सरकार ने 139 सेवाओं के लिए आधार लिंक करना जरूरी किया है। वहीं, अगले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट में आधार मामले की सुनवाई होगी।

Watch Video

More From business

Recommended