loading...
MCD इलेक्शन: आज आएंगे चुनावी नतीजे, 8 बजे से शुरू होगी वोटो की गिनती आमिर ने तोड़ी पुरस्कार समारोह में न जाने की कसम आईवूमी ने पेश किए सस्ते MI Smartphone, जानिए कीमत बैड लोन की समस्या के समाधान के लिए निकालनी होगी नई तकनीक : अरुण जेटली उत्तर प्रदेश: योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, स्कूल-कॉलेजों की 15 छुट्टियां रद्द एग्रीटेक मीट: मुख्यमंत्री की विशेषाधिकारी एवं कलक्टर ने कृषकों को ग्राम कोटा के लिए किया आमंत्रित प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय 'जयपुर विधेयक 2017' ध्वनिमत से पारित रणजी ट्रॉफी: टीम के पूर्व क्रिकेटर ने की आत्महत्या, क्या है राज... प्रदेश में वर्ष 2030 तक मलेरिया उन्मूलन हेतु कार्य योजना तैयार MCD चुनाव नतीजों से पहले आप विधायक ने बीजेपी पर लगाया विधायकों को खरीदने का आरोप ...तो इस वजह से सलमान से अलग हुईं उनकी मैनेजर रेश्मा भारतीय गोलकीपर सुब्रत पाल अस्थायी रूप से हुए निलंबित, कराएंगे बी सैंपल टेस्ट अनुष्का शर्मा ने ये क्या कह दिया विराट के दाढ़ी वाले लुक के बारे में ? 'मिशन इंद्रधनुष' टास्क फोर्स की बैठक सम्पन्न, 48 हजार से अधिक बच्चों व गर्भवती महिलाओं को लगे टीके क्रिकेट: चैंपियंस ट्रॉफी के लिए पाकिस्तान ने टीम का किया ऐलान, उमर अकमल की होगी वापसी योगी सरकार ने भू-माफियाओं के खिलाफ लिया एक्शन, नहीं बख्शे जायेंगे अवैध कब्जा करने वाले शुचिता योजना : स्कूलों में सेनेटरी नेपकिन के लिए लगेगी ए.टी.एम. वेडिंग मशीन किसी भी संस्थान द्वारा दी जाने वाली शिक्षा गुणवत्ता परक होनी चाहिए : प्रकाश जावडेकर LIVE IPL RCB VS SRH: बरसात के कारण मैच में मची खलल, अभी तक टॉस भी नहीं हो पाया हाई-प्रोफाइल सेक्‍स रैकेट का पर्दाफाश,आरोपी हेड कांस्टेबल गिरफ्तार
बढ़ती सर्दी में जोड़ो में हो रहे दर्द का कारण...आगे पढ़े निवारण
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 08:12:53 AM
1 of 1

नई दिल्ली सर्द मौसम ने अब जोड़ों की दर्द बढ़ा दी है। मांसपेशियों व जोड़ों की दर्द से परेशान रोजाना 50 से 60 मरीज क्षेत्रीय अस्पताल हमीरपुर में इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। लिहाजा अब सजग हो जाएं यह तकलीफ आपके लिए गंभीर बीमारी का कारण बन सकती है। इस तरह की स्थिति आर्थराइटिस जैसी बीमारी पैदा कर सकती है। इससे दर्द लगातार बढ़ती जाती है। इन दिनों शाम के समय बढ़ रही शुष्क ठंड की चपेट में आकर मांसपेशियों में सिकुड़न आ जाती है, जिसका असर हड्डियों पर पड़ता है। 

बिस्तर छोड़ते ही रीढ़ व कमर की हड्डियों में दर्द

मांसपेशियों के दबाव से हड्डियों में दर्द का एहसास बढ़ जाता है। खास तौर पर बिस्तर छोड़ते ही रीढ़ व कमर की हड्डियों में दर्द के रोगी बढ़ जाते हैं। इसके अलावा कंधे, घुटने व गर्दन में दर्द की शिकायत भी बढ़ी है। यह बीमारी ज्यादातर अधेड़ उम्र और वृद्धों में पनप रही है। युवा भी कुछ हद तक इस तरह के रोगों से पीडि़त देखने को मिल रहे हैं। 

ये है मुख्य उपाय 
ऐसे में घूमना-जागिंग-टहलना अवस्य चाहिए एक ही स्थिति में जादा देर नहीं बैठना चाहिए व्यायाम से रक्त संचार बढ़ जाता है इसलिए बंद कमरे में करे या खुले में लेकिन व्यायाम अवश्य करते रहना चाहिए। नियमित रूप विटामिन सी, के, डी के लिए संतरे का सेवन उपयोगी है साथ ही पालक-गोभी-टमाटर का सेवन अवस्य करे।  थोड़ी देर के खुली धूप में अवस्य बैठे जिससे पर्याप्त विटामिन डी शरीर को मिल सके -विटामिन डी सभी को पता है जो हमें सूर्य की किरणों से प्राप्त होता है। 
आपको अपने घुटनों को ढक के रखना चाहिए गर्म पट्टी को घुटनों से ढक सकते है इससे आपको काफी राहत मिलेगी। 

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े....रेलवे का नया फैसला, अब बिना आधार के नहीं मिलेगा ट्रेन में रिजर्वेशन

यह भी पढ़े: गर्लफ्रैंड के गालों के रंग से जानिए वो कितनी लकी है आपके लिए..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.