loading...
OMG: 1 करोड़ 11 लाख रुपए हैं इस 11 साल के घोड़े की कीमत! Talent: 12वीं कक्षा के छात्र ने ब्लीच पाउडर से जला दिया बल्ब! Amazing: हर साल लगभग एक इंच तक बढ़ जाता है यह शिवलिंग! क्या आपने कभी सोचा हैं घड़ी के विज्ञापन में 10 बजकर 10 मिनट और 35 सेकेंड ही क्यों होते हैं? गजब: एक लीटर में 100 किलोमीटर की दूरी तय करेगी यह इयोलैब कार! राज की बात! जानिए, क्यों इंसानों की नकल करने में माहिर होते हैं तोते! Unique: इंजीनियरिग छात्रों ने बनाई सस्ती और किफायती कार, जानें कीमत! कैंडी क्रश की लत ने 29 साल के शख्स को पहुँचाया हॉस्पिटल शारीरिक संबंधों को और आवेशित करती हैं ये नई दवा! सोशल साइट्स पर ज्यादा सक्रिय होते हैं चिंताग्रस्त और बहिर्मुखी लोग! बच्चो का दिन में सोना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक! आगामी फिल्म में एनआरआई की मां बनेंगी लारा मीडिया के बाद अब सदरलैंड ने भी लिया विराट को आड़े हाथ सीमा पर मादक पदार्थों के साथ पकड़ा एक संदिग्ध सरकार ने डॉक्टरों को दिया रात आठ बजे तक काम पर लौटने का अल्टीमेट, नहीं लौटे तो कटेगी छह महीने की पगार नासा अंतरिक्ष में 2017 के अंत तक भविष्य की घड़ी भेजेगा बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में भाजपा नेताओं के खिलाफ सुनवाई टली सलमान हमेशा दोस्त की तरह मेरे साथ खड़े रहे: रवीना विधानसभा में उत्पात मचाने वाले 19 विधायक निलंबित, विपक्ष ने राज्यपाल से की निलंबन वापस लिए जाने कि मांग युवक की गोली मारकर हत्या
बढ़ती सर्दी में जोड़ो में हो रहे दर्द का कारण...आगे पढ़े निवारण
sanjeevnitoday.com | Tuesday, November 29, 2016 | 08:12:53 AM
1 of 1

नई दिल्ली सर्द मौसम ने अब जोड़ों की दर्द बढ़ा दी है। मांसपेशियों व जोड़ों की दर्द से परेशान रोजाना 50 से 60 मरीज क्षेत्रीय अस्पताल हमीरपुर में इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। लिहाजा अब सजग हो जाएं यह तकलीफ आपके लिए गंभीर बीमारी का कारण बन सकती है। इस तरह की स्थिति आर्थराइटिस जैसी बीमारी पैदा कर सकती है। इससे दर्द लगातार बढ़ती जाती है। इन दिनों शाम के समय बढ़ रही शुष्क ठंड की चपेट में आकर मांसपेशियों में सिकुड़न आ जाती है, जिसका असर हड्डियों पर पड़ता है। 

बिस्तर छोड़ते ही रीढ़ व कमर की हड्डियों में दर्द

मांसपेशियों के दबाव से हड्डियों में दर्द का एहसास बढ़ जाता है। खास तौर पर बिस्तर छोड़ते ही रीढ़ व कमर की हड्डियों में दर्द के रोगी बढ़ जाते हैं। इसके अलावा कंधे, घुटने व गर्दन में दर्द की शिकायत भी बढ़ी है। यह बीमारी ज्यादातर अधेड़ उम्र और वृद्धों में पनप रही है। युवा भी कुछ हद तक इस तरह के रोगों से पीडि़त देखने को मिल रहे हैं। 

ये है मुख्य उपाय 
ऐसे में घूमना-जागिंग-टहलना अवस्य चाहिए एक ही स्थिति में जादा देर नहीं बैठना चाहिए व्यायाम से रक्त संचार बढ़ जाता है इसलिए बंद कमरे में करे या खुले में लेकिन व्यायाम अवश्य करते रहना चाहिए। नियमित रूप विटामिन सी, के, डी के लिए संतरे का सेवन उपयोगी है साथ ही पालक-गोभी-टमाटर का सेवन अवस्य करे।  थोड़ी देर के खुली धूप में अवस्य बैठे जिससे पर्याप्त विटामिन डी शरीर को मिल सके -विटामिन डी सभी को पता है जो हमें सूर्य की किरणों से प्राप्त होता है। 
आपको अपने घुटनों को ढक के रखना चाहिए गर्म पट्टी को घुटनों से ढक सकते है इससे आपको काफी राहत मिलेगी। 

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े....रेलवे का नया फैसला, अब बिना आधार के नहीं मिलेगा ट्रेन में रिजर्वेशन

यह भी पढ़े: गर्लफ्रैंड के गालों के रंग से जानिए वो कितनी लकी है आपके लिए..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.