प्रधानमंत्री कौन से धन से चुनाव जीते, यह बताने से कतरा क्यों रहे हैं - गहलोत शिक्षक ने की छात्रा से छेड़खानी 'कहानी 2' के सेट पर विद्या बालन को हो गया था इनसे प्यार सुब्रमण्यम स्वामी को अयोध्या मसले में पक्षकार मानने से मुस्लिम बोर्ड का इन्कार विदेश में नौकरियां आउटसोर्स करने वाली कंपनियों पर 35 फीसदी कर लगाने की ट्रंप ने दी चेतावनी.. राहिल शरीफ बने बहुराष्ट्रीय इस्लामी आतंकवाद विरोधी बल के प्रमुख दक्षिण अफ्रीका ने पहली गोल्फ टेस्ट श्रृंखला में भारत को हराया.. जाधवपुर विश्वविद्यालय के मुख्य छात्रावास में फांसी पर लटका मिला छात्र चंद्रबाबू नायडू की रिश्तेदार दस लाख के पुराने नोटों के साथ पकड़ी गई जर्मन कोच: भारत हाकी विश्व कप में खिताब का प्रबल दावेदार.. महेश भट्ट की बेटी को है यह बीमारी... लूट की योजना बनाते चार गिरफ्तार सम्मेलन में भारत और अफगानिस्तान ने आतंक के मुद्दे पर पाक को घेरा.. सरताज अजीज को स्वर्ण मंदिर मे घुसने से मना किया तीन बार प्यार हुआ, उन्हें बदले में प्यार करने वाली कोई नहीं मिली: करन जौहर जयललिता को पड़ा दिल का दौरा शरीफ हैं ट्रंप से मिलने को इच्छुक, अगले महीने कर सकते हैं अमेरिका यात्रा जेल से पैरोल पर आने के बाद वापस न जाने का आरोपी गिरफ्तार मोदी के बाद अब केजरीवाल भी करेंगे परिवर्तन रैली इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे से पहले धोनी के लिये कोई मैच नहीं?
पढ़ने का ऐसा जूनून ! शादी वाले दिन भी दुल्हन आयी एग्जाम देने, हर कोई कर रहा सलाम
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 08:53:32 AM
1 of 1

नई दिल्ली। हर लड़की अपनी शादी के लिए कुछ ख्‍वाब सजाती है। पर क्‍या हो अगर उसकी शिक्षा ही शादी में बाधा बन जाए। कुछ ऐसा ही हुआ एक लड़की के साथ। जब उसे अपने पति के साथ फेरे लेने थे उस समय वो एग्‍जाम हाल में बैठ कर परीक्षा दे रही थी। जहां एक ओर सिर्फ नाम के लिए महिलाओं पर ध्‍यान देने की बात कही जा रही है वहीं इस लड़की ने अपनी दम पर शिक्षा को प्राथमिकता देते हुए पहले परीक्षा देना ही उचित समझा।

तेलंगाना राज्‍य की है घटना
जनाब हम बात कर रहे हैं तेलंगाना के आदिलाबाद जिले की रहने वाली रचना की जिन्‍होंने शादी के मुहूर्त में परीक्षा देने को प्राथमिकता बनाया। रचना के परिजनों ने इस काम में उनकी पूरी मदद की। रचना की शादी के मुहूर्त को कुछ घंटे देर से निकाला गया। रचना  डिप्लोमा इन एजुकेशन डीएड की स्टूडेंट है। वह बीएससी कर चुकी हैं। 6 माह पहले ही उनकी शादी फिक्स हुई थी। जब उनकी एग्‍जाम की डेट आई तो पूरा परिवार शॉक्‍ड हो गया क्‍योंकि शादी वाले दिन ही रचना को परीक्षा देने के लिए भी जाना था। 

एग्‍जाम की डेट हुई मैच
25 नवम्बर को सुबह 9 बजे से 12 बजे तक एग्जाम था जबकि शादी का मुहूर्त 11 बजकर 2 मिनट पर था। रचना के मायके और ससुराल पक्ष के लोगों ने उसका पूरा सपोर्ट किया। मेंहदी वाले दिन भी उसे एग्जाम देने से नहीं रोका गया। रचना ने कहा शादी वाले दिन जब मैं एग्जाम देने के लिए परीक्षा हॉल में प्रवेश किया तो हर कोई मुझे ही देख रहा था। हर आंख सवाल पूछ रही थी कि आज शादी के दिन तुम यहां कैसे। मेरे दोस्त शादी के दिन एग्जाम देने के कारण मुझ पर गर्व महसूस कर रहे हैं। 

परिवार ने किया दुल्‍हन का सपोर्ट
एग्जाम देने के बाद वो सीधे विवाह स्थल पहुंची। रचना ने बताया कि शादी की तैयारी, शॉपिंग, पढ़ाई और एग्जाम सब कुछ एक साथ मैनेज करना काफी मुश्किलों भरा दौर रहा। परिवार, ससुराल और पति के सपोर्ट ने उन्‍हे हर मुश्‍किल से लड़ने की ताकत दी। रचना इतना अच्छा पति और ससुराल पाकर काफी खुश हैं। रनचा ने बताया कि मेरे कोर्स में सप्लीमेंट्री एग्जाम नहीं होता है। इसलिए एग्‍जाम छोड़ने पर पूरा साल खराब हो जाता। वह आने वाले साल में टीचर्स एंट्रेंस एग्जाम में बैठना चाहती हैं।

यह भी पढ़े : 3 तलाक के विरोध में जज को लिख डाला खून से खत

यह भी पढ़े : पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 



0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.