लॉटरी का झांसा देकर 5 लाख की ठगी देश और दुनिया के इतिहास में 24 जुलाई की महत्वपूर्ण घटनाएं नाशपाती के सेवन से होते है ये फायदे तुतला कर बोलते हैं तो करे आंवले का सेवन मलेरिया व डेंगू से बचने के लिए लोगो को जागरूक किया पार्षद ने सेहत विभाग के अधिकारियों के साथ मिलकर क्षेत्र का दौरा किया किदवई में नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर आयोजन स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के फैसले से इलाकावासियों की खुशी आधी-अधूरी स्वास्थ्य अधिकारियों की लापरवाही के कारण स्वास्थ्य सुविधाएं प्रभावित स्वास्थ्य विभाग और शिक्षा के घटिया परिणाम पर मनोहर लाल ने जताई नराजगी सुमन महाराज ने कहा- क्षमा धर्म का प्राण और अराधना का सार है शिविर में डेढ़ सौ लोगों का स्वास्थ जांचा भारत को रूस बेचना चाहता है अपना सबसे आधुनिक लड़ाकू विमान मिग-35 जूनियर पाइलेटों से भरवा रही है जमानती बांड जेट एयरवेज स्मैक बेचने के आरोप में दो तस्कर गिरफ्तार विश्व पैरा एथलीट: भारत एक स्वर्ण सहित पांच पदक के साथ रही टॉप 30 से बाहर भारत सरकार ‘मेक इन इंडिया के तहत बनाएगी सुपर कंप्यूटर WWC17: भारत के सपने हुए चकनाचूर, इंग्लैंड चौथी बार बनी वर्ल्ड चैंपियन मेलबर्न के फेडरेशन चौक पर भारतीय झंडा फहराएंगी ऐश्वर्या वर्ल्ड कप फाइनल LIVE: भारतीय महिला टीम लड़खड़ाई, वेदा के बाद गोस्वामी भी लोटी, score 208/7
सुना होगा शुगर फ्री लेकिन सही में ये है इसका मतलब
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 08:37:36 AM
1 of 1

नई दिल्ली। स्‍लिम और फिट रहने के लिए लोग अक्‍सर शुगर फ्री प्रोडेक्‍ट इस्‍तेमाल करते हैं। क्‍या आपने कभी सोचा है कि मीठा होने के बावजूद किसी खाद्य को शुगर फ्री क्‍यों कहा जाता हैं। दरसल शुगर फ्री होने का असली मतलब क्‍या है। और से उसका आपकी सेहत से क्‍या रिश्‍ता है।

शुगर फ्री की जरूरत क्‍या है
अक्‍सर लोग फिटनेस की चाह में मोटापा बढ़ने से रोकने के लिए कम शक्‍कर या शुगर फ्री चीजे खाते हैं। क्‍योंकि लोगों का मानना है कि शक्‍कर से फैट बढ़ता है। ऐसे में जब मीठे के शौकीन लोगों की मिठाई खाने की इच्‍छा होती है तो शुगर फ्री प्रोडेक्‍टस को खाते हैं। 

शुगर फ्री में भी होती है शक्‍कर
अगर आप सोचते हैं कि शुगर फ्री खाद्य पदार्थों में शक्कर नहीं है, तो ये सही नहीं है। वास्तव में यह सिर्फ किसी प्रोडेक्‍ट को प्रमोट करने के लिए कही जाती है।  जिन खाद्य पदार्थ में शक्कर नहीं होने की बात की जाती है उनमें भी अन्य तरह की शक्कर शामिल होती है, जैसे ग्लूकोज और माल्ट चीनी आदि। यानि फ्री का मतलब बिल्कुल नहीं से अलग होता है। अगर किसी प्रोडेक्‍ट पर शुगर फ्री लिखा हुआ है, और उसमें शक्कर की मात्रा केवल प्रति सौ ग्राम में 0.5 ग्राम से कम है, तो ये ठीक है। 

कम कैलोरी नहीं शुगर फ्री का मतलब
शुगर फ्री का मतलब कैलोरी फ्री नहीं है। शुगर फ्री के नाम पर जमकर मिठाइयां खाना नुकसानदेय हो सकता है। इनमें खोया, क्रीम आदि की कैलोरी भी शामिल होती हैं, जो शुगर अनियंत्रित कर सकती है। अजिन खाद्य 40-60 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट, 20 प्रतिशत प्रोटीन और 30 प्रतिशत या कम वसा है वो डायबीटीज के मरीजों के लिए सुरक्षित होते हैं।

यह भी पढ़े : 3 तलाक के विरोध में जज को लिख डाला खून से खत

यह भी पढ़े : पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.