एशियाई शीतकालीन खेलों के लिए तैयार भारतीय दल नाबलिग ने फांसी लगाकर की आत्‍महत्‍या पीसीए की धारा को हटाने के विरोध में पार्टी के खिलाफ जाएंगे सुब्रमण्यम स्वामी खेती की बिजली दरें कम करने से खुश किसानों ने किया मुख्यमंत्री का अभिनन्दन सलमान, सोनम के बाद अब सूरज करेगें अपना एप लांच पुरुष टीम की पहली महिला कोच बनीं चान यूएन टिंग छात्रा पर एसिड हमला, आरोपी गिरफ्तार VIDEO: 'मिर्ची म्यूजिक अवॉर्ड्स में अभिनेत्रियों ने बिखेरा जलवा कमान्डेन्ट चेतन चीता के लिए विश्वविद्यालय परिसर में स्वास्थ्य यज्ञ श्लोक-अर्जुन की जोड़ी ने जीता एपेक्स एलीट टेनिस का खिताब 'जश्न ए रेख्ता' कार्यक्रम में तारिक फतेह का विरोध दस साल की बालिका से दुष्कर्म का प्रयास रामू का कंफ्यूजन- शशिकला या जयाललिता? बिना परमिट के ई-रिक्शों के खिलाफ चलाया जायेगा अभियान ‘आंखें 2' में महानायक अमिताभ बच्चन के साथ नजर आयेंगी ईशा गुप्ता दुनिया के नंबर एक गोल्फर बने डस्टिन जॉनसन शिमला में चौकीदार को बंधक बनाकर लाखों की डकैती मोदी के 'कब्रिस्तान-श्मशान' बयान पर कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की सख्त कार्रवाई की मांग सपा प्रत्याशी रिबू श्रीवास्तव ने लिया नाम वापस, गठबंधन को राहत इस फेमस सिंगर के साथ हुआ धोखा, जबरदस्ती करवाई परफॉर्मेंस
सुना होगा शुगर फ्री लेकिन सही में ये है इसका मतलब
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 08:37:36 AM
1 of 1

नई दिल्ली। स्‍लिम और फिट रहने के लिए लोग अक्‍सर शुगर फ्री प्रोडेक्‍ट इस्‍तेमाल करते हैं। क्‍या आपने कभी सोचा है कि मीठा होने के बावजूद किसी खाद्य को शुगर फ्री क्‍यों कहा जाता हैं। दरसल शुगर फ्री होने का असली मतलब क्‍या है। और से उसका आपकी सेहत से क्‍या रिश्‍ता है।

शुगर फ्री की जरूरत क्‍या है
अक्‍सर लोग फिटनेस की चाह में मोटापा बढ़ने से रोकने के लिए कम शक्‍कर या शुगर फ्री चीजे खाते हैं। क्‍योंकि लोगों का मानना है कि शक्‍कर से फैट बढ़ता है। ऐसे में जब मीठे के शौकीन लोगों की मिठाई खाने की इच्‍छा होती है तो शुगर फ्री प्रोडेक्‍टस को खाते हैं। 

शुगर फ्री में भी होती है शक्‍कर
अगर आप सोचते हैं कि शुगर फ्री खाद्य पदार्थों में शक्कर नहीं है, तो ये सही नहीं है। वास्तव में यह सिर्फ किसी प्रोडेक्‍ट को प्रमोट करने के लिए कही जाती है।  जिन खाद्य पदार्थ में शक्कर नहीं होने की बात की जाती है उनमें भी अन्य तरह की शक्कर शामिल होती है, जैसे ग्लूकोज और माल्ट चीनी आदि। यानि फ्री का मतलब बिल्कुल नहीं से अलग होता है। अगर किसी प्रोडेक्‍ट पर शुगर फ्री लिखा हुआ है, और उसमें शक्कर की मात्रा केवल प्रति सौ ग्राम में 0.5 ग्राम से कम है, तो ये ठीक है। 

कम कैलोरी नहीं शुगर फ्री का मतलब
शुगर फ्री का मतलब कैलोरी फ्री नहीं है। शुगर फ्री के नाम पर जमकर मिठाइयां खाना नुकसानदेय हो सकता है। इनमें खोया, क्रीम आदि की कैलोरी भी शामिल होती हैं, जो शुगर अनियंत्रित कर सकती है। अजिन खाद्य 40-60 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट, 20 प्रतिशत प्रोटीन और 30 प्रतिशत या कम वसा है वो डायबीटीज के मरीजों के लिए सुरक्षित होते हैं।

यह भी पढ़े : 3 तलाक के विरोध में जज को लिख डाला खून से खत

यह भी पढ़े : पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.