loading...
गिरी परियोजना को तुरंत बहाल करें अधिकारी : वीरभद्र मैदान से बाहर रहते हुए भी कप्तानी करते नजर आए कोहली संजय नहीं चाहते आमिर की फिल्म से टकराव, बढ़ाई 'भूमि' की रिलीज डेट कृषि की उत्पादकता व विकास के लिये छोटी जोतों को लाभकारी बनाने पर देना होगा जोर : राधामोहन सिंह योगी ने दिया आदेश, 15 जून तक यूपी की सभी सड़कें होनी चाहिये गड्ढा मुक्त प्रदेश में जेनेटिक मॉडिफाइड तकनीक को अनुमति नहीं : कृषि मंत्री कलिखो पुल की आत्महत्या मामले की जांच के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर डेविड वार्नर के विकेट को लेकर कुलदीप ने किया ये खुलासा जस्टिस बीडी अहमद जम्मू कश्मीर और जस्टिस प्रदीप नंदराजोग राजस्थान हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस नियुक्त पुलिस अधिकारी से बदसलूकी के आरोप में इस पूर्व सांसद को जबरन उठाकर ले गयी पुलिस अब नहीं होगा तुष्टिकरण, होगा सबका विकास, महिला सुरक्षा के होंगे पुख्ता इंतजाम : योगी अपनी जिम्मेदारियों को लेकर हरमनप्रीत ने दिया ये बयान विमान में मारपीट मामला: सियासी दल बोले, रवीन्द्र गायकवाड़ तुरंत माफी मांगें चिश्ती के 805वें उर्स का झंडा हजारों आशिकान ए ख्वाजा की मौजूदगी में दरगाह के बुलंद दरवाजे पर चढ़ा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ''विश्व पर्यावरण सम्मेलन'' का उद्घाटन किया एक्साइज विभाग ने चलाया अभियान, भारी मात्रा में शराब सहित सात गिरफ्तार 1 अप्रैल से इन्कम टैक्स में होंगे भारी बदलाव, ये है नए नियम एशिया कप: मध्यप्रदेश के शिवांश ने तीरंदाजी में देश को दिलाया स्वर्ण LIVE: गोरखनाथ मंदिर के किये दर्शन, लोगो में भारी उत्साह शिक्षित बेरोजगार महिलाओं को मिलेगा परमिट सहित रिक्शा : शिवसेना
पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 06:07:12 AM
1 of 1

नई दिल्ली। पुराने प्राचीन वेदों एवं धर्मग्रंथों में पर्दा प्रथा का कहीं भी विवरण नहीं मिलता है। हिंदुओं के पवित्र ग्रन्थ ऋग्वेद में लोगों को विवाह के समय, कन्या की ओर देखने को कहा गया है। इस समय भी महिला बिना पर्दे के रह सकती थी। के अनुसार सबसे पहले महाकाव्य में पर्दा प्रथा मिलती है। पर यहाँ भी केवल कुछ राजपरिवारों में ये मिलता है। जो घराने बहुत बड़े और नामी होते थे, केवल वह ही ऐसा करते थे।

स्त्रियों के साथ छल
अब हम मुगलकालीन इतिहास के पन्नों को जब पलटना शुरू करते हैं, तो यहाँ दो बातें साफ़ हो जाती हैं, पहली कि जब मुस्लिम शासक भारत में आये, तब यहाँ स्त्रियों के साथ रेप के मामले सामने आते हैं क्योकि इससे पहले रेप भी हमारे यहाँ कहीं नज़र नहीं आता है। हमारे धर्म में स्त्रियों के साथ छल तो नज़र आता है, पर रेप कहीं नहीं दिखता। दूसरी बात कि पर्दा प्रथा भी मुस्लिम लोगों के देश में आगमन होने के बाद ही नज़र आती है।

'धर्मशास्त्र का इतिहास पुस्तक' में आगे पेज 337 पर पर्दा प्रथा के दो प्रमुख कारण बताये गये हैं-

हिंदू स्त्रियों को सुरक्षा प्रदान करने की दृष्टि से। महिलाओं को सुरक्षा देना अब काफी जरूरी हो गया था। आये दिन महिलाओं को निशाना बनाया जा रहा था। मुस्लिम समाज की स्त्रियों में ये था, तो हमारे समाज ने भी खुलेपन को रोकने के लिए और अपनी महिलाओं को बुरी नजर से बचाने के लिए इसको लागू करवाया।

यह भी पढ़े: जेब में रखे चीनी करेगा मोबाइल चार्ज ये है तरीका

यह भी पढ़े: नोटबंदी से नोटवाली हुई एप्पल, इस तरह हुआ फायदा

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.