संजीवनी टुडे

News

46वां नौसेना दिवस: आज ही के दिन 46 साल पहले PAK को चटाई थी धूल

Sanjeevni Today 04-12-2017 11:59:16

नई दिल्ली। आज 46वां नौसेना दिवस है और इससे एक दिन पहले नेवी डे बीटिंग द रिट्रीट सेरेमनी का आयोजन किया गया। रविवार शाम को मुंबई के गेट वे ऑफ इंडिया पर नौसेना ने अपना दमखम दिखाया। समंदर किनारे हिंदुस्तान की नौसेना की ऐसी गर्जना सुनाई दी जो दुश्मनों के भी पसीने निकाल दे। भारतीय नौसेना दुनिया भी सबसे खतरनाक नौसेनाओं में से एक हैं। हिंद महासागर में उनकी मारक क्षमता सबसे ज्‍यादा है। 4 दिसंबर को ही नौसेना दिवस क्यों मनाया जाता है इस बात की जानकारी शायद आपको न हो।

यह भी पढ़े: मथुरा में वोटों से नहीं ‘लकी ड्रॉ’ से जीती बीजेपी, देखें वीडियो

आज ही के दिन ठीक 46 साल पहले यानी की 1971 में पाकिस्तान के साथ हुए युद्ध में भारतीय नौसेना ने 4 से 5 दिसंबर के बीच पाकिस्तान को ऑपरेशन ट्राइडेंट से धमाकेदार झटका दिया जो पाकिस्तान आज भी नहीं भूल पाया है। ट्राइडेंट का मतलब होता है त्रिशूल। त्रिशूल यानी शिव का संहारक हथियार। भारत की इसी जीत को मनाने के लिए तब से हर साल इस दिन को नौसेना दिवस के रुप में मनाया जाता है।  

इस युद्ध के बाद एक तरह से बांग्लादेश के एक आधिकारिक देश बनने का सपना सच हुआ। 16 दिसम्बर सन 1971 को बांग्लादेश बना था। भारत की पाकिस्तान पर इस ऐतिहासिक जीत को विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। पाकिस्तान पर यह जीत कई मायनों में ऐतिहासिक थी। भारत ने 93 हजार पाकिस्तानी सैनिकों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था।

यह भी पढ़े: इस लड़की का डांस देखकर लोग भूल गए की शादी में आये हुए हैं, देखे वीडियो

आपको बता दें भारतीय नौसेना की शुरुआत 1612 में हुई थी। अंग्रेजों ने अपने जहाजों की सुरक्षा के लिए कम्पनीज मरीन के रूप में सेना गठ‍ित की थी। इसे बाद में रॉयल इंडियन नौसेना नाम द‍िया गया। वहीं देश आजाद होने के बाद रॉयल इंडियन नेवी को 26 जनवरी 1950 में फिर से गठित कर इसे भारतीय नौसेना नाम द‍िया गया। 

दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी नौसेना मानी जाने वाली भारतीय नौसेना के पास वर्तमान में 78,000 से अधि‍क सैन‍िक हैं। आंकड़ों के मुताबि‍क भारतीय नौसेना में 295 जहाज हैं। वहीं व‍िमान वाहक पोत 3, युद्ध पोत 14, व‍िध्‍वंसक 11, लड़ाकू जलपोत 23, पनडुब्‍बी 15, पेट्रोल क्राफ्ट 139 और युद्ध पोत जहाज 6 हैं। 

 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

Watch Video

More From national

Recommended