संजीवनी टुडे

News

रोसबर्ग ने रच इतिहास, बने पहली बार फार्मूला वन विश्व चैंपियनशिप

Sanjeevni Today 28-11-2016 14:06:06

नई दिल्ली। जर्मनी के निको रोसबर्ग ने अबु धाबी ग्रां प्री में रविवार को कड़े संघर्ष में दूसरे स्थान पर रहने के साथ ही पहली बार फार्मूला वन विश्व चैंपियनशिप जीत ली। रोसबर्ग को फार्मूला वन विश्व चैंपियन बनने के लिए इस रेस में सिर्फ पोडियम पर आना था और उन्होंने दूसरे स्थान के साथ अपने शानदार करिअॅर में वह स्थान हासिल कर लिया जो 34 साल पहले उनके पिता केके ने हासिल किया था। अबु धाबी ग्रां प्री में विजेता बनने का श्रेय रोसबर्ग के मर्सिडीज टीम साथी लुईस हेमिल्टन के हिस्से में गया जिन्होंने सत्र की अपनी 10वीं जीत और लगातार चौथी जीत हासिल की लेकिन वह रोसबर्ग को चैंपियन बनने से नहीं रोक सके।  


हेमिल्टन ने रेस के अंतिम कुछ लैप में जानबूझकर गति को धीमा करने की कोशिश की ताकि उनके और रोसबर्ग के बीच कुछ दूसरे रेसर आ सके। लेकिन रोसबर्ग ने दूसरा स्थान लेकर विश्व खिताब अपने नाम किया। रोसबर्ग इसके साथ ही अपने देश के महान रेसर माइकल शूमाकर और सेबेस्टियन बेटल के साथ तीसरे विश्व चैंपियन बन गए। 1982 के खिताब विजेता केके रोसबर्ग के बेटे निको रोसबर्ग के नाम एक और उपलिध भी आ गयी है। वह ब्रिटेन के डेमन हिल के बाद यह खिताब जीतने वाले किसी विश्व चैंपियन के दूसरे बेटे बन गये हैं।

यह भी पढ़े: ...तो लडकिया इस समय सबसे ज्यादा सोचती है सेक्स के बारे में

यह भी पढ़े: यह है दुनिया की 'एकमात्र कामसूत्र' की पाठशाला।

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े: चमत्कारी स्प्रे, इसे लगाने के बाद खिंची चली आएंगी लड़कियां..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

Watch Video

More From sports

Recommended