loading...
loading...
loading...
रॉन्ग नंबर से कॉल आया और हो गया प्यार, लेकिन जब उसके घर पंहुचा तो उड़ गए होश स्वास्थ्य जांच शिविर में विभिन्न रोगों से ग्रसित 178 लोगों की जांच हुई सभी धर्म-मजहबों को सम्मान देना चाहिए हरियाणा: मुर्तजापुर के सरकारी पशु अस्पताल में पशु जांच शिविर का आयोजन भारत और विश्व के इतिहास में 25 जून की प्रमुख घटनाएं बहुत गौरवशाली रहा गोंड समाज का इतिहास: रामदुलार गोंड बड़ी सफलता: पुलिस एनकाउंटर में राजस्थान के खूंखार गैंगस्टर आनंदपाल की मौत, अन्य दो साथी अरेस्ट अनियंत्रित कार ने फुटपाथ पर सो रहे चार लोगो को कुचला आखिर मारा गया राजस्थान का कुख्यात बदमाश आनंदपाल Breaking News: पुसिस एनकाउंटर में गैंगेस्टर आनंदपाल मारा गया , मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मी हुए घायल चिकित्सा विभाग द्वारा जारी स्थानान्तरण आदेश पर हाईकोर्ट द्वारा रोक गैंगस्टर आनंदपाल का एनकाउंटर चीनी का अधिक सेवन हानिकारक जिले में बनेंगे सात नए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र श्रीगंगानगर से जल्द शुरू होगी हवाई सेवाएं, जयपुर व दिल्ली से जुड़ेंगे लोग महिला विश्व कप 2017: मिताली सेना का विजयी आगाज, इंग्लैंड को दी 35 रन शिकस्त जीएसटी: 30 जून की आधी रात से पहले कर ले ये 9 काम... वीडियो: पंजाब में बीच सड़क पर नंगा घूम रहे बाबा की लोगो ने की जमकर पिटाई 5 किलो हीरोइन के साथ ड्रग्स तस्कर गिरफ्तार, विदेशों में भी करता था सप्लाई अमरनाथ यात्रा के लिए इच्छुक यात्री भंडारे वाले बालटाल पहुंचे
शहर के लोगों को चरसी बनाने वाला अपराधी गिरफ्तार
sanjeevnitoday.com | Sunday, June 18, 2017 | 08:43:02 AM
1 of 1

मुरादाबाद। नशीले पदार्थ को बेचकर शहर के युवाओं की जिंदगी में जहर घोलने वाला हिस्ट्रीशीटर आजम पुलिस ने अरेस्ट कर हत्थे चढ़ गया। पुलिस कस्टडी में उसने कबूला कि वो स्टूडेंट्स को पिछले 17 साल से स्मैक और चरस बेच रहा था। पुलिस ने उसके पास से 1.90 लाख रुपये की नगदी, साढे़ पांच किलो चरस बरामद की है। अपराधी ने बताया कि उसे नेपाल से बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में रहने वाले नशीले पदार्थ के तस्कर चरस लाकर देते हैं। 

 

SP सिटी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि आजम असालतपुरा का रहने वाला है। उसे शनिवार को एक सूचना पर असालतपुरा से पकड़ा गया। वह चरस बेचने की फिराक में वहां घूम रहा था। आजम ने पुलिस अरेस्ट में बताया कि वह वर्ष 2,000 से नशीले पदार्थ की सप्लाई शहर में कर रहा है। इस संबंध में उसके खिलाफ करीब 11 मामले गलशहीद थाने में दर्ज हैं। वह पूर्व में जेल भी जा चुका है, पुलिस ने उसको हिस्ट्रीशीटर घोषित कर रखा है। वह जेल से छूटने के कुछ माह बाद दोबारा अपने नेटवर्क को मजबूत कर चरस और स्मैक का धंधा शुरू कर देता है। 

इससे उसे मोटी आमदनी होती है। करीब 3 माह पहले ही वह जेल से छूटा है। उससे नशीले पदार्थ की खरीददारी करने वालाें में स्टूडेंट्स, मजदूर, सहित कई ऐसे लोग भी हैं जो अन्य जगह उससे उससे खरीदी गई चरस को ले जाकर बेचते हैं। SP सिटी ने बताया कि आजम के संपर्क में नेपाल और बिहार में रहने वाले नशीले पदार्थों के तस्कर है। उनसे ही वह नशीले पदार्थ को नेपाल से मंगवाकर शहर में बेचता है। आजम को चरस मुहैया कराने वाले लोगों की तलाश की जा रही है।



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.