बिना आधार के शराब लेना अब हुआ मुश्किल, जानिए क्या है नए बदलाव युवराज की वापसी पर मां शबनम ने किया ये खुलासा राहुल गाॅधी ने अमेरिका से मोदी सरकार पर साधा निशाना पाक कोर्ट ने वित्त मंत्री इशाक डार का किया गिरफ्तारी वारंट जारी वीडियो : मेक्सिकों मे 7.1 तीव्रता के भूकंप से तबाही, मरने वाले की संख्या 234 के पार वीडियो: अगर बिहार पुलिस से करी बहस तो चमड़ी उतारकर जूते बनवा देगी नवादा शहर के डीएम ने की संयुक्त बैठक, दिया अलर्ट रहने का आदेश हाईकोर्ट ने ममता को लगाई फटकार, कहा - हिन्दू-मुस्लिमों में दरार पैदा ना करे विपासना के जवाब से संतुष्ट नही है एसआईटी... यूपी में 12 साल की लड़की से दो युवकों ने किया दुष्कर्म प्रद्युम्न मर्डर केस : पिंटो परिवार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कहलगांव में टूटा करोड़ो रुपए से बना बांध, आज होना था उद्घाटन यहां पर बन्दर की शक्ल लिए सूअर के बच्चे ने लिया जन्म पाक क्रिकेटर खालिद पर 5 साल का बैन और 10 लाख रुपये का जुर्माना पाकिस्तान वित्तमंत्री के खिलाफ जारी हुआ अरेस्ट वारंट यहां हर साल प्रेमी युगल की याद में आयोजित होता है गोटमार मेला श्रीलंका टीम को वेस्टइंडीज ने दिया 2019 वर्ल्ड कप में सीधी एंट्री का मौका केंद्र सरकार का रेलवे कर्मचारियों को तोहफा, मिलेगा 78 दिन का बोनस यूएन में गूंजा मोदी का नाम, कहा - असीमित संभावनाओं को देखते है मोदी मिसाल: मालिक को लौटा दिए 45 लाख रुपए के हीरे
पुलिस ने अहमदाबाद ब्‍लास्‍ट के संदिग्‍ध आतंकी को बिहार से किया गिरफ्तार
sanjeevnitoday.com | Thursday, September 14, 2017 | 10:27:09 AM
1 of 1

नई दिल्ली। बिहार में पुलिस ने सिविल लाइंस थानाक्षेत्र से बुधवार को एक संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा है। पुलिस उसके आतंकी कनेक्शन की जांच कर रही है। उसके तार अहमदाबाद में 2008 में हुए ब्लास्ट से हो सकते हैं। पुलिस का कहना है की यह संदिग्ध गया में अपनी पहचान छुपाकर रह रहा था। संदिग्ध की गिरफ्तारी की सूचना बिहार पुलिस ने गुजरात एटीएस को दे दी है। संदिग्ध की गिरफ्तारी के बाद बिहार एटीएस की टीम गया पुलिस के साथ डोभी के आसपास के गांवों में भी छापेमारी कर रही है। 

 

पिछले दो-तीन दिनों से गया के राजेंद्र आश्रम मोहल्ला स्थित एक साइबर कैफे में आता था। वहां नेट सर्फिंग करता था, लेकिन अपना कोई पहचान पत्र नहीं देता था। जब कैफे के मालिक ने उससे आधार कार्ड या कोई भी पहचान पत्र देने को कहा तो युवक ने देने से मना कर दिया। तब उसे कैफे से मैसेज करने की मनाही कर दी। वह वहां से जाने लगा। इसी बीच कैफे मालिक को संदेह हुआ और उसने पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने दो संदिग्धों को वहां से पकड़ा। 

यह भी पढ़े: प्रेमिका के शादी से इनकार करने पर प्रेमी ने कर दी हत्या

पुलिस दोनों संदिग्धों को पूछताछ के लिए गया के सिविल लाइंस थाना ले आई। वहां दोनों से पूछताछ की गई। उन्होंने दावा किया कि वह डोभी के करमौनी गांव के रहने वाले हैं। पुलिस की एक टीम देर रात सत्यता की जांच के लिए वहां गई है। दोनों व्यक्ति खुद को करमौनी निवासी साबित करने में लगे हैं। पुलिस ने गया के राजेंद्र आश्रम स्थित साइबर कैफे भी रात में खुलवाया। पुलिस यहां से पिछले तीन दिनों में भेजे गए मैसेज की पड़ताल की कोशिश कर रही थी। 

यह भी पढ़े: पुलिस ने 40 हजार अंग्रेजी शराब की बोतलें और दो तस्करो को किया गिरफ्तार

देर रात तक टीम इसमें जुटी थी। टेक्निकल और साइबर एक्सपर्ट भी थे, पर कोई स्पष्ट सुराग नहीं मिला है। पहले से भी बोधगया का महाबोधि मंदिर और गया का विष्णुपद मंदिर आतंकियों के टारगेट पर रहा है। पुलिस प्रशासन की बैठक में इस बात पर बराबर जोर दिया गया है। 07 जुलाई 2013 को महाबोधि मंदिर में आतंकियों ने सीरियल विस्फोट किया था। 

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.