वजन कम नहीं करते ये सिंगर, तो हो जाती इनकी मौत टाटा मैजिक ने बाइक को मारी टक्कर, बाइकसवार की हालत गंभीर कांग्रेस ने संसद की कार्यवाही बाधित होने के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया.. जूनियर हॉकी विश्वकप : भारत ने कनाडा को 4-0 से हराया जानिए, ये हैं मोहब्बतें के कलाकार कर रहें हैं डबल सेलिब्रेशन की तैयारी सड़क हादसे में नाबालिग की मौत, स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर किया विरोध उत्तर भारत पर घने कोहरे की चादर,ट्रेनों सहित कई उड़ाने प्रभावित कुंआ धंसकने से एक मजदूर की मौत, एक घायल रईस’ के बाद जल्द छोटे पर्दे पर वापसी करेंगे किंग खान अमेरिका का ‘बड़ा रक्षा साझेदार’ बनेगा भारत भारत के सख्त रुख से घबराया पाक,बासित बोले भारत के साथ नहीं रखना चाहते दुश्मनी नोटबंदी: 30 दिसंबर तक लोगों को राहत नहीं मिलने पर मोदी सरकार का विरोध तेज कर सकती है शिवसेना.. दुष्कर्म में असफल रहने पर बच्चे व पति पर किया हमला, हालत गंभीर चूहा पकड़ अभियान ! चूहों को गिरफ्तार करने के लिए पार्को को किया बंद रेलवे बुकिंगकर्ता रिफंड को लेकर परेशान मैं नोटबंदी से खुश हूं, यह कदम एकदम सही है: शरमन जोशी नरेश हत्याकांड: धौलपुर से बसपा विधायक बीएल कुशवाह को उम्रकैद हत्या के आरोपी को आजीवन कारावास, एक लाख का जुर्माना पुरस्कार पाने या नहीं पाने से संगीत प्रभावित नही होता है: अनुष्का डीजल-पेट्रोल, बीमा पालिसी, रेल टिकट के लिए कार्ड, आनलाइन भुगतान पर मिलेगी छूट..
पानीपत बम बलास्ट केस: आतंकी अब्दुल टुंडा बरी, करनाल जेल में हुआ था हमला
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 04:44:37 PM
1 of 1

पानीपत। गुरुवार को एडिशनल सेशन जज वेद प्रकाश सिरोही की अदालत ने पानीपत बम बलास्ट केस में गिरफ्तार हुए आतंकी अब्दुल टुंडा को बरी कर दिया है। दरअसल मंगलवार को कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रखते हुए गुरुवार की तारीख दी थी और टुंडा को करनाल जेल में भेज दिया था। बता दे बुधवार की सुबह करनाल जेल में आतंकी टुंडा पर कातिलाना हमला हुआ था। 

अब्दुल करीम उर्फ टुंडा...
1 फरवरी 1997 को पानीपत बस अड्डे पर कालखा-लुहारी जा रही सहकारी समिति की एक बस में बम ब्लास्ट में माडू (10) नामक के लड़के की मौत हो गई थी और करीब 20 लोग घायल हो गए थे। इस बम ब्लास्ट में लश्कर से जुड़े अब्दुल करीम उर्फ टुंडा का हाथ बताया गया था। इसके अलावा उस पर देश के कई शहरो में बम ब्लास्ट में संलिप्तता समेत 37 मुकदमे दर्ज हैं। देश की अनेक सुरक्षा एजेंसियां इसकी तलाश में थी। 2013 में दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने टुंडा को नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था। इसके बाद से वह डासना जेल में बंद था। मंगलवार को आरोपी टुंडा को कड़ी सुरक्षा में  पानीपत कोर्ट पेशी के लिए लाया गया जहाँ आधे घंटे की बहस के बाद टुंडा को 1 दिसम्बर को फैसला सुनवाई की तारीख दी गई और करनाल जेल में रखने के निर्देश दिए गए थे।

टुंडा के वकील सुल्तान सिंह खर्ब ने कहा...
की गुरुवार को टुंडा बरी हो जायेगा ऐसी मुझे आस है। क्योंकि बम ब्लास्ट के मामले में अब तक न तो कोई गवाह और न ही सबूत अदालत के सामने आया है।

हमले पर जेल अधीक्षक शेर सिंह ने बताया...
हत्या के मामले में बंद दो कैदियों ने एक कपड़े से टुंडा का गला घोंट दिया और जमकर पीटा। शोर सुनकर जेल वार्डनों ने टुंडा को कैदियों के चंगुल से छुड़वाया। टुंडा की हालात देखते हुए उसे कल्पना चावला मेडिकल कालेज के ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद उसे वापस जेल में भेज दिया गया। हमले के बाद टुंडा को आरोपी युवकों से दूर अलग से सिक्योरिटी वार्ड में रखा गया है। टुंडा की सुरक्षा में जेल के अंदर और बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हमले की शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने दोनों युवकों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है।

यह भी पढ़े: आतंकियों के लिए यमराज- ये महिला ''खूंखार आतंकियों का सिर कलम'' कर देती हैं।

यह भी पढ़े: इस 'गांव में खूबसूरत गौरी' के सामने फेल है- अभिनेत्रियां

यह भी पढ़े: ये कैसी महिला- लड़के के गले में कुत्तों की तरह पट्टा डाल, जानवर की तरह घुमा रही है।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.