loading...
VIDEO: 'फिल्लौरी' के इस सीन को हटाया सेंसर बोर्ड ने! अनुष्का की तारीफ करते हुए शाहरुख़ ने कहा- असंभव पर भरोसा बनाये रखो लीबिया के पास, भूमध्य सागर में नाव डूबी, 250 अफ्रीकन माइग्रेंट्स के मारे जाने का शक पति के साथ CM योगी आदित्यनाथ से मिलने पहुंचीं अपर्णा यादव धोनी ने संन्यास को लेकर दिया ये बड़ा बयान, कहा... डॉलर के मुकाबले रुपए में हुई 4 बढ़ोतरी DGP जावीद अहमद ने जारी किया फरमान, आइजी करें थानों का औचक निरीक्षण Airtel करेगी तिकोना नेटवर्क्स के 4G बिजनेस का अधिग्रहण मोदी दिखे अलग अंदाज़ में जिन्हें देखकर यूपी के BJP सांसद भी हुए हैरान यूपी बोर्ड परीक्षा: विज्ञान के इम्तिहान में 58 हजार ने छोड़ी परीक्षा पुणे की टीम में मिशेल मार्श की जगह टीम में शामिल हुआ ये खिलाड़ी क्रेडिट कार्ड सेवा को बंद करने के लिए काटा 5 पैसे का चेक 'बेवॉच' का दूसरा ट्रेलर हुआ लॉन्च एंटी रोमियो स्क्वॉयड के बाद भी लेडी IPS अफसर के मुंह पर छोड़ा सिगरेट का धुआं, फिर... विधानसभाउपाध्यक्ष ने संसदीय प्रक्रियाओं के उल्लंघन करने पर जबरदस्त नाराजगी की जाहिर स्वास्थ्य सेवा में ‘बेहतरीन’ काम कर रही हैं भारतीय-अमेरिकी सीमा वर्मा : ट्रंप अवैध नॉन बैंकिंग कंपनियों पर होगी कार्रवाई ट्रिप एडवायर्स की सूची में जयपुर ने को मिला स्थान कपिल के खिलाफ दायर FIR पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने लगाया UP: 100 से साल ज्यादा पुराना ‘टुंडे कबाबी’ रेस्त्रा पर मंडराया बंद होने का खतरा
पानीपत बम बलास्ट केस: आतंकी अब्दुल टुंडा बरी, करनाल जेल में हुआ था हमला
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 04:44:37 PM
1 of 1

पानीपत। गुरुवार को एडिशनल सेशन जज वेद प्रकाश सिरोही की अदालत ने पानीपत बम बलास्ट केस में गिरफ्तार हुए आतंकी अब्दुल टुंडा को बरी कर दिया है। दरअसल मंगलवार को कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रखते हुए गुरुवार की तारीख दी थी और टुंडा को करनाल जेल में भेज दिया था। बता दे बुधवार की सुबह करनाल जेल में आतंकी टुंडा पर कातिलाना हमला हुआ था। 

अब्दुल करीम उर्फ टुंडा...
1 फरवरी 1997 को पानीपत बस अड्डे पर कालखा-लुहारी जा रही सहकारी समिति की एक बस में बम ब्लास्ट में माडू (10) नामक के लड़के की मौत हो गई थी और करीब 20 लोग घायल हो गए थे। इस बम ब्लास्ट में लश्कर से जुड़े अब्दुल करीम उर्फ टुंडा का हाथ बताया गया था। इसके अलावा उस पर देश के कई शहरो में बम ब्लास्ट में संलिप्तता समेत 37 मुकदमे दर्ज हैं। देश की अनेक सुरक्षा एजेंसियां इसकी तलाश में थी। 2013 में दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने टुंडा को नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था। इसके बाद से वह डासना जेल में बंद था। मंगलवार को आरोपी टुंडा को कड़ी सुरक्षा में  पानीपत कोर्ट पेशी के लिए लाया गया जहाँ आधे घंटे की बहस के बाद टुंडा को 1 दिसम्बर को फैसला सुनवाई की तारीख दी गई और करनाल जेल में रखने के निर्देश दिए गए थे।

टुंडा के वकील सुल्तान सिंह खर्ब ने कहा...
की गुरुवार को टुंडा बरी हो जायेगा ऐसी मुझे आस है। क्योंकि बम ब्लास्ट के मामले में अब तक न तो कोई गवाह और न ही सबूत अदालत के सामने आया है।

हमले पर जेल अधीक्षक शेर सिंह ने बताया...
हत्या के मामले में बंद दो कैदियों ने एक कपड़े से टुंडा का गला घोंट दिया और जमकर पीटा। शोर सुनकर जेल वार्डनों ने टुंडा को कैदियों के चंगुल से छुड़वाया। टुंडा की हालात देखते हुए उसे कल्पना चावला मेडिकल कालेज के ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद उसे वापस जेल में भेज दिया गया। हमले के बाद टुंडा को आरोपी युवकों से दूर अलग से सिक्योरिटी वार्ड में रखा गया है। टुंडा की सुरक्षा में जेल के अंदर और बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हमले की शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने दोनों युवकों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है।

यह भी पढ़े: आतंकियों के लिए यमराज- ये महिला ''खूंखार आतंकियों का सिर कलम'' कर देती हैं।

यह भी पढ़े: इस 'गांव में खूबसूरत गौरी' के सामने फेल है- अभिनेत्रियां

यह भी पढ़े: ये कैसी महिला- लड़के के गले में कुत्तों की तरह पट्टा डाल, जानवर की तरह घुमा रही है।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.