loading...
loading...
loading...
युवती के मायके वालों ने लगाया ससुराल वालों पर हत्या का आरोप 27 जून : आज का इतिहास दैनिक राशिफल……27 जून, 2017 मंगलवार जेटली ने राज्य में जीएसटी लागू करने के लिए मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती सईद से आग्रह किया गोवा की राज्यपाल ने शाकम्भरी माता के दर्शन किए भागलपुर: श्रावणी मेला की तैयारी में जुटा स्वास्थ्य विभाग हम सबको गुरु चरणों से जुड़ जाना चाहिए: स्वामी धर्म सिंह भारत में क्रिकेट खेल साथ साथ धर्म भी प्रशासन की सख्ती के बावजूद फिर अवैध रूप से गर्भपात संकल्प कैंप में बच्चों को गुरुबाणी, गुरु इतिहास और रहित मर्यादा बारे जानकारी दी पेय पदार्थ के नाम पर दुकानदार परोस रहे है जहर भारत और विश्व के इतिहास में 27 जून की प्रमुख घटनाएं रेशा देवी ने कहा- युवाओं को नशे से दूर करने के लिए धर्म के साथ जोड़े दार्जिलिंग: भारी बारिश और बंद के माहौल में मुस्लिमो ने मनाया ईद-उल-फितर रमन शर्मा ने कहा- अापातकाल देश के इतिहास में काला दिन खाना खजाना प्रतियोगिता में महिलाओं ने दिखाया उत्साह कंडबाड़ी में NGO परिवर्तन द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन बालड़ी रक्षक योजना ने तोडा दम स्वास्थ्य को लेकर महिलाओं का उदासीन रवैया इफ्तार पार्टी है नौटंकी, इसकी हमे क्या जरूरत: गिरिराज सिंह
पानीपत बम बलास्ट केस: आतंकी अब्दुल टुंडा बरी, करनाल जेल में हुआ था हमला
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 04:44:37 PM
1 of 1

पानीपत। गुरुवार को एडिशनल सेशन जज वेद प्रकाश सिरोही की अदालत ने पानीपत बम बलास्ट केस में गिरफ्तार हुए आतंकी अब्दुल टुंडा को बरी कर दिया है। दरअसल मंगलवार को कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रखते हुए गुरुवार की तारीख दी थी और टुंडा को करनाल जेल में भेज दिया था। बता दे बुधवार की सुबह करनाल जेल में आतंकी टुंडा पर कातिलाना हमला हुआ था। 

अब्दुल करीम उर्फ टुंडा...
1 फरवरी 1997 को पानीपत बस अड्डे पर कालखा-लुहारी जा रही सहकारी समिति की एक बस में बम ब्लास्ट में माडू (10) नामक के लड़के की मौत हो गई थी और करीब 20 लोग घायल हो गए थे। इस बम ब्लास्ट में लश्कर से जुड़े अब्दुल करीम उर्फ टुंडा का हाथ बताया गया था। इसके अलावा उस पर देश के कई शहरो में बम ब्लास्ट में संलिप्तता समेत 37 मुकदमे दर्ज हैं। देश की अनेक सुरक्षा एजेंसियां इसकी तलाश में थी। 2013 में दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने टुंडा को नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था। इसके बाद से वह डासना जेल में बंद था। मंगलवार को आरोपी टुंडा को कड़ी सुरक्षा में  पानीपत कोर्ट पेशी के लिए लाया गया जहाँ आधे घंटे की बहस के बाद टुंडा को 1 दिसम्बर को फैसला सुनवाई की तारीख दी गई और करनाल जेल में रखने के निर्देश दिए गए थे।

टुंडा के वकील सुल्तान सिंह खर्ब ने कहा...
की गुरुवार को टुंडा बरी हो जायेगा ऐसी मुझे आस है। क्योंकि बम ब्लास्ट के मामले में अब तक न तो कोई गवाह और न ही सबूत अदालत के सामने आया है।

हमले पर जेल अधीक्षक शेर सिंह ने बताया...
हत्या के मामले में बंद दो कैदियों ने एक कपड़े से टुंडा का गला घोंट दिया और जमकर पीटा। शोर सुनकर जेल वार्डनों ने टुंडा को कैदियों के चंगुल से छुड़वाया। टुंडा की हालात देखते हुए उसे कल्पना चावला मेडिकल कालेज के ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद उसे वापस जेल में भेज दिया गया। हमले के बाद टुंडा को आरोपी युवकों से दूर अलग से सिक्योरिटी वार्ड में रखा गया है। टुंडा की सुरक्षा में जेल के अंदर और बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हमले की शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने दोनों युवकों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है।

यह भी पढ़े: आतंकियों के लिए यमराज- ये महिला ''खूंखार आतंकियों का सिर कलम'' कर देती हैं।

यह भी पढ़े: इस 'गांव में खूबसूरत गौरी' के सामने फेल है- अभिनेत्रियां

यह भी पढ़े: ये कैसी महिला- लड़के के गले में कुत्तों की तरह पट्टा डाल, जानवर की तरह घुमा रही है।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.