loading...
एलेन बॉर्डर मेडल: लगातार दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर बने डेविड वॉर्नर टीम इंडिया में चयन बहुत बड़ी ख़ुशी बात, फिर भी निराश हैं परवेज रसूल, जानिए क्यों? भाजपा ने किया 'डिजी युवा' अभियान का शुभारंभ कश्मीर में आतंकी ठिकानों का भंडाफोड़ दिल्ली के लिए शुरू हुआ शाहरुख खान का रेल सफर भतीजे की गला रेत कर हत्या राष्ट्रपति ने किया करौली के सोनू का सम्मान मेरी एक बेहद यादगार गजल नक्श लायलपुरी ने लिखी थी: लता मंगेशकर गेंहू उपार्जन में गड़बड़ी करने वालों पर करें कड़ी कार्रवाई : शिवराज मिश्रित मार्शल आर्ट्स लीग से जुड़े टाइगर श्रॉफ सोशल मीडिया पर छा गए अमिताभ बच्चन प्रधानमंत्री ने 25 बच्चों को वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया किंग्स इलेवन पंजाब के रणनीतिकार होंगे सहवाग गोरखपुर: रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी से मचा हड़कंप भाजपा को उत्तर प्रदेश में मिलेगा दो-तिहाई बहुमत : अमित शाह सलमान के बरी होने पर डेजी ने जताई ख़ुशी देश और समाज के लिए कार्य करें स्वयंसेवक : मोहन भागवत यूपी चुनाव: अखिलेश-राहुल मिलकर करेंगे 14 रैलियां दहेज के लिए विवाहिता की गला दबा कर हत्या टीम इंडिया के खिलाफ आक्रामक अंदाज में खेलना होगा: स्मिथ
पानीपत बम बलास्ट केस: आतंकी अब्दुल टुंडा बरी, करनाल जेल में हुआ था हमला
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 04:44:37 PM
1 of 1

पानीपत। गुरुवार को एडिशनल सेशन जज वेद प्रकाश सिरोही की अदालत ने पानीपत बम बलास्ट केस में गिरफ्तार हुए आतंकी अब्दुल टुंडा को बरी कर दिया है। दरअसल मंगलवार को कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रखते हुए गुरुवार की तारीख दी थी और टुंडा को करनाल जेल में भेज दिया था। बता दे बुधवार की सुबह करनाल जेल में आतंकी टुंडा पर कातिलाना हमला हुआ था। 

अब्दुल करीम उर्फ टुंडा...
1 फरवरी 1997 को पानीपत बस अड्डे पर कालखा-लुहारी जा रही सहकारी समिति की एक बस में बम ब्लास्ट में माडू (10) नामक के लड़के की मौत हो गई थी और करीब 20 लोग घायल हो गए थे। इस बम ब्लास्ट में लश्कर से जुड़े अब्दुल करीम उर्फ टुंडा का हाथ बताया गया था। इसके अलावा उस पर देश के कई शहरो में बम ब्लास्ट में संलिप्तता समेत 37 मुकदमे दर्ज हैं। देश की अनेक सुरक्षा एजेंसियां इसकी तलाश में थी। 2013 में दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने टुंडा को नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था। इसके बाद से वह डासना जेल में बंद था। मंगलवार को आरोपी टुंडा को कड़ी सुरक्षा में  पानीपत कोर्ट पेशी के लिए लाया गया जहाँ आधे घंटे की बहस के बाद टुंडा को 1 दिसम्बर को फैसला सुनवाई की तारीख दी गई और करनाल जेल में रखने के निर्देश दिए गए थे।

टुंडा के वकील सुल्तान सिंह खर्ब ने कहा...
की गुरुवार को टुंडा बरी हो जायेगा ऐसी मुझे आस है। क्योंकि बम ब्लास्ट के मामले में अब तक न तो कोई गवाह और न ही सबूत अदालत के सामने आया है।

हमले पर जेल अधीक्षक शेर सिंह ने बताया...
हत्या के मामले में बंद दो कैदियों ने एक कपड़े से टुंडा का गला घोंट दिया और जमकर पीटा। शोर सुनकर जेल वार्डनों ने टुंडा को कैदियों के चंगुल से छुड़वाया। टुंडा की हालात देखते हुए उसे कल्पना चावला मेडिकल कालेज के ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद उसे वापस जेल में भेज दिया गया। हमले के बाद टुंडा को आरोपी युवकों से दूर अलग से सिक्योरिटी वार्ड में रखा गया है। टुंडा की सुरक्षा में जेल के अंदर और बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हमले की शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने दोनों युवकों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है।

यह भी पढ़े: आतंकियों के लिए यमराज- ये महिला ''खूंखार आतंकियों का सिर कलम'' कर देती हैं।

यह भी पढ़े: इस 'गांव में खूबसूरत गौरी' के सामने फेल है- अभिनेत्रियां

यह भी पढ़े: ये कैसी महिला- लड़के के गले में कुत्तों की तरह पट्टा डाल, जानवर की तरह घुमा रही है।

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.