संजीवनी टुडे

News

डोप टेस्ट: पहलवान नरसिंह यादव मामले में CBI ने दर्ज किया केस।

संजीवनी टुडे 18-10-2016 18:58:36

Wrestler Narsingh Yadav dope test case registered by CBI in the case

नई दिल्ली। सीबीआइ ने नरसिंह यादव के डोप टेस्ट मामले में केस दर्ज कर लिया है। नरसिंह यादव फिलहाल चार साल के बैन के चलते रिंग से बाहर हैं। उनका कहना है कि उन्होंने जानबूझकर प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन नहीं किया था और रियो ओलंपिक से ठीक पहले उनका डोप टेस्ट पॉजीटिव आना उनके खिलाफ साजिश का नतीजा है।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

करीब एक हफ्ता पहले हरियाणा सरकार ने भी इस मामले की जांच सीबीआइ से कराने का आश्वासन दिया था। इससे पहले सितंबर में रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया और पीएमओ ने भी इस मामले की जांच सीबीआइ को सौंप दी थी। समाचार एजेंसी पीटीआइ ने कहा है कि अब इस मामले में सीबीआइ ने केस दर्ज कर लिया है। नरसिंह  यादव को इसी साल हुए रियो ओलंपिक में भारत की ओर से 74 किलो के वर्ग में मुकाबला करने के लिए भेजा गया था, पर डोपिंग विवाद में नाम आने के चलते वह इसमें एक भी मैच नहीं खेल सके थे। भारत के दूसरे पहलवान सुशील कुमार के भी इस वर्ग में आ जाने की वजह से दोनों पहलवानों के रियो ओलंपिक में भाग लेने का मामला दिल्ली हाइ कोर्ट तक पहुंच गया था। रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने इस लड़ाई में नरसिंह यादव का साथ दिया था, क्योंकि नरसिंह ने ही भारत के लिए ओलंपिक कोटा जीता था।

इस फैसले के बाद नरसिंह यादव रियो के लिए हरियाणा के सोनीपत में स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सेंटर में प्रैक्टिस कर रहे थे कि उनका डोप टेस्ट पॉजीटिव पाया गया था। नरसिंह ने इस मामले में साजिश का आरोप लगाया था और पीएम मोदी से हस्तक्षेप करने की मांग की थी। इस मामले में रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने सीबीआइ से जांच की मांग की थी। सितंबर में पीएमओ ने इस मामले की जांच सीबीआइ को सौंप दी थी। रियो ओलंपिक के दौरान ही नरसिंह यादव पर कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन ने चार साल का बैन लगाया था। इससे वह ओलंपिक में भी हिस्सा नहीं ले सके थे।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

More From national

loading...
Trending Now
Recommended