संजीवनी टुडे

News

UP में क्राइम होना आम बात, दिनों-दिन बढ़ती जा रही घटनाएं

Sanjeevni Today 19-06-2017 12:53:51

मेरठ। UP में चोरी, डकैती, हत्या और गैंगरेप जैसी घटनाएं दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। सवाल है कि चुनाव से पहले लाखों दावे करने वाली BJP सरकार अब क्या कर रही, जो अपराध नहीं थम रहा। ऐसा ही एक गंभीर मामला सामने आया। मेरठ में भावनपुर थाना क्षेत्र के जई गांव से चार दिन से लापता पशु व्यापारी की मृत्यु कर लाश खेत में फेंक दिया गया। रविवार को उसका क्षत विक्षत लाश मिलने से सनसनी फैल गई। अभी मृत्यु का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है।


पुलिस के अनुसार गांव जई निवासी पशु व्यापारी उमरदीन (60 ) पुत्र शौकत अली 14 जून से लापता चल रहा था। शनिवार को उसके बेटे ने गुमशुदगी दर्ज कराई थी। रविवार को उसका लाश  गांव के खेत में पड़ा मिला। पुलिस ने बताया कि लाश का ऊपरी हिस्सा क्षतविक्षत था। आशंका है कि जानवरों ने उसे खाया हो। बाकी शरीर सफेद पड़ा था। तीव्र दुर्गंध उठने पर लाश का पता चल पाया। पुलिस का मानना है कि लाश 3- 4 दिन से पड़ा था। इंस्पेक्टर मुकेश कुमार ने बताया कि उमरदीन के भाई जाहिद ने शव बरामद होने का मामला दर्ज कराया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई होगी।


ग्रामीणों के अनुसार 5 वक्त का नमाजी उमरदीन रोजे से था। 14 जून को तराबी के बाद मुंशी जफर के यहां उमरदीन ने दुआ की थी। उसी दिन आखिरी बार उसे देखा गया था। चर्चा है कि उमरदीन की अपने नजदीकियों से अनबन चल रही थी। उसने दो सप्ताह पहले SSP ऑफिस में जान का खतरा बताकर प्रार्थना पत्र दिया था। थाने पर इसकी जांच भी आई थी। यदि पुलिस समय रहते कार्रवाई कर देती तो शायद उसकी जान बच जाती। वहीं, इंस्पेक्टर भावनपुर का कहना है कि ऐसी किसी शिकायत की जानकारी नहीं है। SP देहात ने भी इससे इंकार किया है। उमरदीन के परिवार में पत्नी शहनाज और चार बेटे नफीस, भूरा, शाकिर और शाकिब हैं। जिनमें शाकिर बाहर रहता है। शव मिलने की सूचना पर केवल 14 साल का बेटा ही जगह पर रो रहा था। जबकि दोनों बेटे नहीं पहुंचे। घटना के पीछे परिवार में लेनदेन या कोई दूसरा विवाद होने की चर्चा है। SP देहात राजेश कुमार का कहना है कि लापता व्यापारी का लाश  मिला है। मामले की जांच चल रही है। प्रथम दृष्टया पारिवारिक विवाद हो सकता है।

Watch Video

More From crime

Recommended