संजीवनी टुडे

News

DGP: नक्सली सरेंडर कर राज्य के विकास में योगदान दें।

संजीवनी टुडे 18-10-2016 19:22:43

To contribute to the development of state surrendered Naxals

सिमडेगा। पुलिस गोली का जवाब गोली से तथा शांति का जवाब शांति से देगी। जो लोग गलती से मार्ग भटक गये हैं, उनके लिये राज्य सरकार ने अवसर दिया है। नक्सली सरेंडर कर राज्य के विकास में अपना योगदान दें । मंगलवार को यह बातें डीजीपी डीके पांडेय ने कही। वह बानो थाना परिसर में आयोजित एक समारोह में बोल रहे थे।

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

श्री पांडेय ने सरकार की समर्पण नीति की तारीफ करते हुए कहा कि पूरेे देश में सबसे अच्छी सरेंडर पॉलिसी झारखंड की है। समर्पण करने वाले नक्सलियों को सरकारी नौकरी देने पर भी सरकार विचार कर रही है। इसके लिये जिला स्तर पर कमेटी बनायी गयी है। श्री पांडेय ने कहा कि जंगल में रह कर विकास नहीं हो सकता। जंगल से बाहर गांव में और बाहर में आने से ही विकास हो सकता है। श्री पांडेय ने कहा कि झारखंड मजबूती के साथ से विकास के पथ पर चल पड़ा है। उन्होंने गांव के लोगों से कहा कि अब वे लोग सरकार व पुलिस के साथ अपने गांव में बुनियादी सुविधा के लिये आगे आयें। बच्चों के बेहतर भविष्य के लिये अब सोंचे। उन्होंने कहा कि झारखंड में भ्रष्टाचार मुक्त पुलिस व्यवस्था दी जा रही है।

इसी कार्यक्रम में पांच लाख का इनामी और पीएलएफआई के सबजोनल कमांडर रामचंद्र सिंह उर्फ रामू गंझु ने डीजीपी के समक्ष हथियार के साथ सरेंडर किया। बानो थाना परिसर में पुलिस द्वारा आयोजित एक समारोह में रामू गंझु ने सरेंडर किया। मौके पर डीजीपी ने पांच लाख का चेक और 50 हजार नकद रुपये रामू गंझु को सौंपा और गले लगाया। डीजीपी डीके पांडेय ने कहा कि समारोह में मुख्य रूप से सीआरपीएफ के आईजी संजय आनंद लाटेकर, एडीजी अनुराग गुप्ता, विधायक पौलूस सुरीन, उपायुक्त विजय कुमार सिंह, एसपी राजीव रंजन सिंह के अलावा कई जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे। नक्सली को सरेंडर कराने में जिले के एसपी राजीव रंजन सिंह की अहम भूमिका रही।

यह भी पढ़े: अनोखी परम्परा: यहां लड़कियों के 'प्राइवेट पार्ट' का एक हिस्सा निकाल देते हैं 

यह भी पढ़े...रात के अँधेरे में आदर्श बहु शुरू करती थी अय्याशी का खेल, एक दिन सास ने ...

यह भी पढ़े...रोज दर्जनों लोगो की प्यास बुझाती थी ये सास-बहु ! फिर आगे...

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

More From national

loading...
Trending Now
Recommended