नागिन 2 की एक्ट्रेस आशका गोराडिया- ब्रेंट गोबले की शादी की डेट आउट हरमनप्रीत को सचिन की मदद से डायना ने दिलाई प. रेलवे में नौकरी अब रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर धारक बनेगे करोड़पति अनोखा गांव: यहां प्लास्टिक की बोतलों से बने हुए है घर! अनुष्का शर्मा ने कहा, मुझे बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद जैसी किसी चीज का सामना नहीं करना पड़ा लालू-राबड़ी को नहीं मिलेगी अब पटना एयरपोर्ट पर वीवीआईपी सुरक्षा SLC प्रेसिडेंट इलेवन का प्रैक्टिस मैच ड्रॉ, कोहली-राहुल ने ठोके अर्धशतक अनोखा होटल: यहां मरे हुए लोगों को दी जाती है ये खास सुविधाएं भाभी संग मिलकर पति ने पत्नी को जिन्दा जलाया इस औरत के शौक के बारें में जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान! BCCI का भारतीय महिला टीम को तोहफा, देंगे 50-50 लाख करीना कपूर के मस्तमौला किरदार ने अनुष्‍का को किया प्रेरित ग्राहकों को कैशबैक में सोना देगा Paytm आज राहुल संग मीटिंग और मोदी संग डिनर करेंगे नितीश चिकन मोमोज़ में मिलाया जा रहा है कुत्ते का मांस राजस्थान के भाजपा सांसद सांवरमल जाट की अमित शाह की मीटिंग के दौरान बिगड़ी तबीयत देखिए VIDEO OMG: इन जुड़वां बेटियों की मां तो एक ही है पर पिता... फॉर्च्‍यून 2017 की टॉप-500 ग्‍लोबल कंपनियों की लिस्‍ट जारी मिताली-वेदा ने हरमनप्रीत की पारी देखकर किया डांस, कैमरा देख शरमाई एक ऐसी जेल, जहां जाने से थर-थर कांपते थे कैदी!
देश की पहली कंपनी बनी टाटा स्टील जिसने भारतीय रेल के साथ लॉन्ग टर्म ट्रैरिफ कांट्रैक्ट पर हस्ताक्षर किया
sanjeevnitoday.com | Saturday, July 15, 2017 | 04:33:20 PM
1 of 1

नई दिल्ली। टाटा स्टील देश की ऐसी पहली कंपनी बन गई है, जिसने भारतीय रेल के साथ लॉन्ग टर्म ट्रैरिफ कांट्रैक्ट (एलटीटीसी) पर हस्ताक्षर किया टाटा स्टील ने कहा कि उसने रेलवे के साथ दीर्घकालिक शुल्क अनुबंध किया है और इस तरह का समझौता करने वाली वह इस्पात क्षेत्र की पहली कंपनी है। 

 यह करार तीन से पांच वर्षों के लिए होगा। नई दिल्ली स्थित रेल भवन में शुक्रवार को कार्यक्रम हुआ। इस करार के तहत टाटा स्टील, रेलवे के लिए गारंटी के साथ राजस्व में बढ़ोतरी के लिए काम करेगा। इस मौके पर टाटा स्टील के वाइस प्रेसिडेंट (स्टील मैनयुफैक्चरिंग) सुधांशु पाठक उपस्थित थे।

 मजबूत होंगे रिश्ते : टाटा स्टील ने कहा कि इस समझौते से रेलवे के साथ उनके रिश्ते मजबूत होंगे। टाटा स्टील ने अपने रेल के बुनियादी ढांचे और माल ढुलाई प्रणाली में सुधार के लिए भारी निवेश किया है। इससे रेलवे रैक की कमी को दूर करने और बैगन टर्नअराउंड समय को कम करने में मदद मिली।



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.