वरुण धवन हुए निराश, नही मिला वोटर लिस्ट में नाम लौटना पड़ा बिना मतदान एक्ट्रैस श्रद्धा कपूर पहुंची वोट डालने, फोटो क्लिक करते फोटोग्राफर के साथ हुआ कुछ ऐसा... बन गए अल्ट्रामैन, 3 दिन में 517km दौड़ लगाकर रच डाला इतिहास मिलिंद सोमन ने ये खट्टी-मीठी बातें दिलाती है बड़ी बहन की याद..! यहां लुक नही है मायने, है एक-दूसरे से बिल्कुल अलग फिर भी है साथ, ऐसे है यह कपल..! 7वां वेतन आयोग: बढ़ेगा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता और एचआरए..! यूपी चुनाव में सबसे खूबसूरत उम्मीदवार, जो है काफी चर्चा में, तस्वीरें वायरल यहां बीमारी से पीड़ित लोगों को किडनैप कर, उनकी बॉडी पार्ट्स से बनाई जाती हैं दवाइयां..! संभल मे दस वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, पुलिस मामला दबाने मे जुटी मुख्यमंत्री को जब स्कूली बच्चों ने ’शिक्षक’ बनकर पढ़ाया... ट्रेन से कटकर वृद्ध की मौत गोमती नदी में डूबा छात्र, हंगामा नोटबंदी राष्ट्रहित में एक बड़ा फैसला : मनोज सिन्हा संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, दहेज हत्या का आरोप शेयर बाजार में आई तेजी, सेंसेक्स में 100 अंकों का उछाल सपा-बसपा ने राजनीति में फैलाया कीचड़, अब खिलेगा कमल: राजनाथ मुख्यमंत्री के साथ दिव्यांग बच्चों ने साझा किए अपने बड़े सपने एक साल में 82000 धनाढ्यों ने छोड़ा देश पुलिस व सीआरपीएफ ने डकैत को दबोचा विजय माल्या को भारत लाने की मुहिम तेज
गांधीसागर में स्थापित होगा मत्स्य अनुसंधान केन्द्र
sanjeevnitoday.com | Monday, October 17, 2016 | 05:10:11 PM
1 of 1

मंदसौर। गांधीसागर बांध में मत्स्य अनुसंधान केन्द्र (फिशरीज रिसर्च इन्स्टीट्यूट) स्थापित करने की तैयारी की जा रही है। कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह ने सोमवार को सहायक संचालक मत्स्य एवं गांधीसागर स्थित मत्स्य महासंघ के अधिकारी को इस हेतु जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। 

JAIPUR : मात्र 155/- प्रति वर्गफुट प्लाट बुक करे, कॉल -09314166166

कलेक्टर श्री सिंह ने एपीसी को बताया कि मानवनिर्मित गांधीसागर बांध के मीठे जल में करीब 40 प्रकार की मत्स्य प्रजातियां पाई जाती है। मत्स्यपालन एवं इससे जुडे अनुसंधान के लिए गांधीसागर में मत्स्य पालन अनुसंधान केन्द्र स्थापित करने की सभी भौतिक संभावनाएं मौजूद है। यहां मत्स्य अनुसंधान केन्द्र खुलने से गांधीसागर क्षेत्र में मत्स्यपालन गतिविधियां तेज होंगी तथा क्षेत्र में पर्यटन विकास को भी बढावा मिलेगा। इस पर एपीसी द्वारा कलेक्टर श्री सिंह को सकारात्मक आश्वासन दिया गया।

आगामी दीप पर्व को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर श्री सिंह ने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि वे खाद्य सुरक्षा के तहत टीम बनाकर जिले भर में खाद्य सामग्री विक्रेता प्रतिष्ठानों विशेषकर मिठाई की दुकानों का निरंतर निरीक्षण करें, मावा, घी, दूध, दही, तेल, मिक्सचर आदि की कढाई से जांच करें। खाद्य सामग्री एवं मिठाई अमानक स्तर पर पाए जाने पर विक्रेता प्रतिष्ठानों पर कड़ी कार्रवाई करें।

यह भी पढ़े : बिस्तर में अपने साथी से कुछ ऐसा चाहती हैं लड़कियां...!!

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े : क्या आप जानते है छोटे स्तन होने के ये 10 फायदे...?

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 


FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.