संजीवनी टुडे

News

दिल्ली-एनसीआर में ठंड-कोहरे के साथ बढ़ा वायु प्रदूषण

संजीवनी टुडे 30-11-2016 10:27:42

Cold with fog in Delhi NCR increased air pollution

नई दिल्ली। बुधवार को दिल्ली-एनसीआर में ट्रिपल अटैक हुआ है। एक ओर जहां पर ठंड और जबरदस्त कोहरे ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है, वहीं दिल्ली में वायु प्रदूषण की स्थित फिर गंभीर हो गई है, जिससे यहां के लोगों का सांस लेना मुहाल हो गया है। पिछले 17 वर्षों की सबसे खतरनाक धुंध को देखते हुए दिल्ली में पिछले दिनों राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की करीब 1800 प्राथमिक स्कूलों को बंद रखने का फैसला किया गया था।

स्काईमेट के मुताबिक दिल्ली के पालम इलाके में सबसे घना कोहरा रहा। यहां सुबह 6 से 7 बजे के बीच विजिबिलिटी घटकर 400 मीटर तक रह गई। आरके पुरम, साकेत, एम्स, धौलाकुआं, ईस्ट ऑफ कैलाश, नोएडा और फरीदाबाद में भी विजिबिलिटी बेहद कम थी।दिल्ली ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि राजधानी में हवा की गुणवत्ता का स्तर 'गंभीर' बना रहेगा। कुछ इलाकों में प्रदूषण का स्तर PM 2.5 और PM 10 सामान्य से ज्यादा है।

दिल्ली में प्रदूषण के स्तर पर नजर रखने वाली एजेंसी से प्राप्त आंकड़ों से पता चलता है कि दिल्ली के आनंद विहार में करीब सुबह 8:30 बजे पार्टिकुलेट मैटर या प्रधानमंत्री 10 की सांद्रता 401 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रही, जबकि इसका सुरक्षित स्तर 100 माइक्रोग्राम है। वायु गुणवत्ता मापने के मानक पीएम 2.5 का स्तर सुरक्षित स्तर से कई गुना तक बढ़ा हुआ है। वहीं, आरकेपुरम और शादीपुर में भी स्थिति बेहद खराब है।

राजधानी के न्यूनतम तापमान में बुधवार से भी गिरावट देखने को मिली। पश्चिमी विक्षोभ और बंगाल की खाड़ी में कम दबाव वाला क्षेत्र बनने की वजह से हवा बहने के पैटर्न में बदलाव हुआ है। इसकी वजह से ह्यूमिडिटी भी बढ़ी है। इस वजह से से ही पूरे उत्तर भारत में कोहरे के हालात बने हैं। हवा में मौजूद इन प्रदूषक कणों की अत्याधिक मात्रा से ज्यादा देर संपर्क में रहने के कारण आपको सांस की गंभीर बीमारियां होने का डर रहता है।

राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता हाल के वर्षों में लगातार खराब होती रही है। इसकी एक बड़ी वजह तेजी से बढ़ते शहरीकरण को माना जा रहा है, जिससे डीजल इंडन्स, कोयला चलित विद्युत इकाई और औद्योगिक उत्सर्जन में इजाफा हुआ है। इसकी एक वजह खेतों में फसलों की पराली जलाने और लकड़ी या कोयले के चूल्हों से निकलने वाले धुएं को भी माना जाता है। मौसम विभाग की ओर से मंगलवार को जारी वॉर्निंग में बताया गया था कि दिल्ली, चंडीगढ़, हरियाणा, पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में बेहद कम से औसत कोहरा रहेगा।

यह भी पढ़े: सालभर तक गहरे पानी में डूबे रहने के बावजूद भी काम कर रहा है ये IPHONE

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप
यह भी पढ़े: दुबई के पास मिला अनोखा फल, जिस पर लिखा हुआ था कुछ ये...
यह भी पढ़े: इस नेल पॉलिश की कीमत हजारों, लाखों में नहीं बल्कि करोड़ों में... जानिए इसकी खास बातें

More From national

loading...
Trending Now
Recommended