दिल्ली में दिवाली के मौके पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश कीउड़ाई धज्जियां उड़ाई रिलायंस जियो का धन धना धन पैक हुआ महंगा 399 की जगह देने होंगे 459 राष्ट्रपति कोविंद ने दीपावली की पूर्व संध्या पर देशवासियों को दी बधाई वीडियो : PM मोदी ने सेना के जवानों के साथ मनायी दिवाली मैरिलैंड के बिजनेस पार्क में हुई गोलीबारी में एक संदिग्ध बंदूकधारी गिरफ्तार कंधार में सेना के कैंप पर तालिबान ने किया आत्मघाती हमला, भारत ने दी कड़ी प्रतिक्रिया भारत से हमारी ऐसी दोस्ती 100 साल तक चले : अमेरिका मंदिर में दिया जलाने गये बालक को जिंदा जलाया... ईपीएफओ ने यूएएन को ऑनलाईन से आधार जोड़ने की नई सुविधा दी इस कुत्तें की कीमत जानकर आपके उड़ जाएंगे होश भ्रष्टाचार केस : नवाज शरीफ और उनकी बेटी-दामाद पर आरोप तय, हो सकती है जेल पिछले 80 सालों से दुकान में बंद है दुल्हन का मोम का पुतला यहां मन्नत पूरी होने पर श्रद्धालु कराते हैं बेड़नियों का नाच भारत में ही नहीं विश्व के इन देशो में भी मनाया जाता है दिवाली की त्यौहार पुराने सेकंड हैंड सोफे ने बना दिया लखपति, जानिए कैसे? दीपावली विशेष : जानिए, मां लक्ष्मी और गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि इस्लामिक स्टेट ने चोर को दी ऐसी खौफनाक सजा, देखें फोटोज विद्युत एमनेस्टी योजना : 31 दिसम्बर तक बकाया राशि एकमुश्त जमा कराने पर ब्याज व पेनल्टी में छूट अब एक और बाबा पर लगा अवैध सम्बन्ध का आरोप, उठाया ये खौफनाक कदम... रंजिश के चलते औरत को अगवा कर किया गैंगरेप, फिर प्राइवेट पार्ट...
1 करोड़ रुपये के सौदे पर ब्रोकर शुल्क कम कर सकता है सेबी
sanjeevnitoday.com | Thursday, January 12, 2017 | 02:31:57 PM
1 of 1

नई दिल्ली। पूंजी बाजार नियामक सेबी एक करोड़ रुपये  के सौदे के लिये ब्रोकर शुल्क कम कर 15 रपये करने पर विचार कर रहा है। यह विभिन्न बाजार मध्यस्थों से नियामक को मिलने वाले विभिन्न शुल्कों की समीक्षा का हिस्सा है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड सेबी ब्रोकर शुल्क में कमी के बावजूद अपनी शुल्क आय में वृद्धि की उम्मीद कर रहा है l

 

 सूत्रों के मुताबिक, सेबी इस सप्ताह इस प्रस्ताव पर विचार करेगा। प्रस्ताव के जरिये बाजार नियामक एक करोड़ रुपये के सौदों के लिये ब्रोकर शुल्क 20 रपये से कम कर 15 रुपये करेगा। यह ब्रोकरों और बाजार प्रतिभागियों की लंबे समय से मांग है। क्योंकि कुछ नये निश्चित शुल्क लगाये जाएंगे जिसमें मसौदा योजना की व्यवस्था के लिये फाइलिंग शुल्क तथा कुछ नियमनों में ढील के लिये आवेदन पर प्रसंस्करण शुल्क शामिल हैं।

इसके अतिरिक्त नियामक नियामकीय कार्यों के लिये लगने वाले अन्य शुल्कों की भी समीक्षा करेगा।  इस कदम से सौदे की कुल लागत में कमी आएगी, निवेशकों को लाभ होगा और प्रतिभूति बाजार के विकास को बढ़ावा देने में सुविधा मिलेगी। 

यह भी पढ़े: हाथ नहीं है, लेकिन पियानो बजाने से लेकर हवाई जहाज तक उड़ा लेती हैं ये लड़की!

यह भी पढ़े: इस शख्स ने बनवाया अपने कुत्ते का आधार कार्ड, पुलिस ने किया गिरफ्तार!

यह भी पढ़े: इस शख्स को महंगा पड़ा FB पर अपने कुत्ते से शादी करने का ऐलान, गवाई नौकरी!

यह भी पढ़े: जुड़वा बच्चे: एक को चोट लगती है तो दूसरे को होता है दर्द, डॉक्टर भी हैं हैरान

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.