loading...
लोकसभा में आज पास हो सकते हैं GST से जुड़े 4 बिल भारत-पाकिस्तान सीरीज को लेकर BCCI ने गृह मंत्रालय से मांगी अनुमति SBI कार्ड में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 74% करेगा एसबीआई OMG: फिर दिखा मलाइका अरोड़ा का बिंदास अंदाज़, देखें तस्वीरें रामचंद्र गुहा ने कहा- BJP और मोदी की आलोचना पर मुझे मिल रही हैं धमकियां धर्म गुरु दलाई लामा को उल्फा (आई) की धमकी, चीन के खिलाफ कुछ भी न बोले VIDEO: देखिये पॉल वॉकर और उनकी बेटी के खूबसूरत पल! हिन्दी और बांग्ला फ़िल्मों में अपनी छाप छोड़ने वाले प्रसिद्ध अभिनेता थे उत्पल दत्त! टाटा सन्स ग्रुप कंपनियों में 10,000 करोड़ रुपये का करेगी इनवेस्ट UP में अवैध बूचड़खानों के बैन होने के बाद 5 और राज्‍यों में अवैध मीट की दुकानों पर कसा शिकंजा राहुल बोस की 'पूर्णा' देख रो पड़े राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी VIDEO: देखिये क्रिकेट के यादगार ऐतिहासिक पल! इतिहास: हिन्दी के प्रसिद्ध कवि तथा गांधीवादी विचारक थे भवानी प्रसाद मिश्र! डाओ में हुई 150 अंक की तेजी एंटी रोमियो अभियान के तहत चचेरे भाई बहन को किया गिरफ्तार, फिर... अगर किसी के साथ अन्याय हुआ है तो उसे खुलकर सामने आना चाहिए: एहसान कुरैशी ऑस्ट्रलिया में चक्रवाती तूफान 'डेबी' का कहर, क्वींसलैंड में भूस्खलन पैनासोनिक ने पेश किया नया कैमरा Lumix GH5 सरकार ने ठुकराए थे पद्म पुरस्कार नामों की लिस्ट से धोनी समेत कई हस्तियों के नाम UP: राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश बने सपा विधानमंडल दल नेता
1 करोड़ रुपये के सौदे पर ब्रोकर शुल्क कम कर सकता है सेबी
sanjeevnitoday.com | Thursday, January 12, 2017 | 02:31:57 PM
1 of 1

नई दिल्ली। पूंजी बाजार नियामक सेबी एक करोड़ रुपये  के सौदे के लिये ब्रोकर शुल्क कम कर 15 रपये करने पर विचार कर रहा है। यह विभिन्न बाजार मध्यस्थों से नियामक को मिलने वाले विभिन्न शुल्कों की समीक्षा का हिस्सा है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड सेबी ब्रोकर शुल्क में कमी के बावजूद अपनी शुल्क आय में वृद्धि की उम्मीद कर रहा है l

 

 सूत्रों के मुताबिक, सेबी इस सप्ताह इस प्रस्ताव पर विचार करेगा। प्रस्ताव के जरिये बाजार नियामक एक करोड़ रुपये के सौदों के लिये ब्रोकर शुल्क 20 रपये से कम कर 15 रुपये करेगा। यह ब्रोकरों और बाजार प्रतिभागियों की लंबे समय से मांग है। क्योंकि कुछ नये निश्चित शुल्क लगाये जाएंगे जिसमें मसौदा योजना की व्यवस्था के लिये फाइलिंग शुल्क तथा कुछ नियमनों में ढील के लिये आवेदन पर प्रसंस्करण शुल्क शामिल हैं।

इसके अतिरिक्त नियामक नियामकीय कार्यों के लिये लगने वाले अन्य शुल्कों की भी समीक्षा करेगा।  इस कदम से सौदे की कुल लागत में कमी आएगी, निवेशकों को लाभ होगा और प्रतिभूति बाजार के विकास को बढ़ावा देने में सुविधा मिलेगी। 

यह भी पढ़े: हाथ नहीं है, लेकिन पियानो बजाने से लेकर हवाई जहाज तक उड़ा लेती हैं ये लड़की!

यह भी पढ़े: इस शख्स ने बनवाया अपने कुत्ते का आधार कार्ड, पुलिस ने किया गिरफ्तार!

यह भी पढ़े: इस शख्स को महंगा पड़ा FB पर अपने कुत्ते से शादी करने का ऐलान, गवाई नौकरी!

यह भी पढ़े: जुड़वा बच्चे: एक को चोट लगती है तो दूसरे को होता है दर्द, डॉक्टर भी हैं हैरान

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.